कोई ख्वाहिश नहीं शिर्डीवाले, जब से तेरा सहारा मिला है। ठोकरों पे है जन्नत की खुशियाँ, जब से तेरा द्वार मिला है।।

कोई ख्वाहिश नहीं शिर्डीवाले,  
जब से तेरा सहारा मिला है। 
ठोकरों पे है जन्नत की खुशियाँ, 
जब से तेरा द्वार मिला है।।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
muskan May 13, 2021

+281 प्रतिक्रिया 111 कॉमेंट्स • 87 शेयर
Ramesh Agrawal May 13, 2021

+14 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 57 शेयर
anju May 13, 2021

+13 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Vicky Babbar May 15, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sanjeev Kumar May 13, 2021

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 23 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB