Raju Jat
Raju Jat Jan 12, 2017

Raju Jat ने यह पोस्ट की।

Raju Jat ने यह पोस्ट की।
Raju Jat ने यह पोस्ट की।
Raju Jat ने यह पोस्ट की।
Raju Jat ने यह पोस्ट की।

+153 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 85 शेयर

कामेंट्स

SP Faujdar Jan 12, 2017
जय श्री राधे राधे जी

Mahesh Bhargava May 25, 2019

+107 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 102 शेयर
Parikshit Rastogi May 25, 2019

+7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
rakhi May 25, 2019

+31 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
purushottam Sharma May 25, 2019

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Raj Kumar Sharma May 25, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
suraj rajpal May 25, 2019

🌷"कलि काले नाम रूपे कृष्ण अवतार |  नाम हइते सर्व जगत निस्तार||"🌷–चैतन्य ॰ च॰ १.१७.२२🍁🌼 कृष्ण तथा कृष्ण नाम अभिन्न हैं:🌷"कलियुग में तो स्वयं कृष्ण ही हरिनाम के रूप में अवतार लेते हैं| केवल हरिनाम से ही सारे जगत का उद्धार संभव है"–🌷 श्री वृंदावन धाम को उजागर करने वाले, पतितों का नाम संकीर्तन द्वारा उद्धार करने वाले श्री चैतन्य महाप्रभु जी ने बहुत सी शिक्षाएं मानव जाति तथा समस्त प्राणियों के उद्धार के लिए दी। श्री चैतन्य महाप्रभु जी ने मानव प्राणियों के उद्धार के लिए शिक्षाएं दी हैं। चैतन्य चरितामृत के अनुसार चैतन्य महाप्रभु का जन्म 18 फरवरी 1486 की फाल्गुन शुक्ला पूर्णिमा को पश्चिम बंगाल के नवद्वीप (नादिया) नामक गांव में हुआ था। जिसे अब 'मायापुर' कहा जाता है l उनकी दी हुई शिक्षाएँ पूरे विश्व को अतुल्य देन है l जिसे संक्षिप्त में बताना तो बहुत ही मुश्किल है l उन्हों ने दी हुई शिक्षाओं और उनकी लीलाओं को जानने समजने और अपने जीवन में उतारने के लिए श्री चतन्य चरितामृत्त सहित शस्त्रों का अध्ययन करना चाहिए l उन्हें भगवान श्री कृष्ण का अवतार भी माना जाता है l  *                       **** 🍁कलियुग में नाम संकीर्तन के अलावा जीव के उद्धार का अन्य कोई भी उपाय नहीं है|  🌹हरेर्नाम हरेर्नाम हरेर्नामैव केवलं| कलौ नास्त्यैव नास्त्यैव नास्त्यैव गतिरन्यथा||🌹 🌹कलियुग में केवल हरिनाम, हरिनाम और हरिनाम से ही उद्धार हो सकता है| हरिनाम के अलावा कलियुग में उद्धार का अन्य कोई भी उपाय नहीं है! नहीं है! नहीं है!🌹 Jay shree Radhekrishna🙏🌹🌹 https://youtu.be/DdfpRR6vq48

+12 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB