Ramesh Kumar Singh
Ramesh Kumar Singh Sep 18, 2017

jai sri bacchababa ki

jai sri bacchababa ki

+178 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 9 शेयर

कामेंट्स

Indu Bhatia Sep 18, 2017
OM NAMAH SHIVAY 🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲 Good Morning Friends

Rajendra Joshi Mar 6, 2021

+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 29 शेयर

+28 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Archana Singh Mar 6, 2021

+157 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 52 शेयर

👉#हर_हर_महादेव_श्री_मृत्युंजय_महाकालेश्वराय_नमः।।🙏🏻🌺 #शिवनैवेद्य_ग्राह्याग्राह्य_विचार शिव नैवेद्य को लेकर अक्सर लोग विभ्रांति में रहते हैं कि यह ग्राह्य है अथवा नहीं? उसी विषय के उपर सामान्य आलोकपात मात्र किया गया है।। #अग्राह्य_शिवनैवेद्यं_पत्रम्_पुष्पम्_फलम्_जलम्। #शालिग्रामशिलासंगात्_सर्वं_याति_पवित्रताम्।।(शिवपुराण,विद्येश्वर संहिता २२/१९) अर्थात् शिवलिंग पर चढ़ाया गया जल_फल_पुष्पादि अग्राह्य है,परंतु शालिग्राम शिला के स्पर्श से वे भी पवित्र हो जाते हैं,ग्रहण योग्य बन जाते हैं।। #लिंगे_स्वयंभुवे_बाणे_रत्नजे_रसनिर्मिते। #सिद्धप्रतिष्ठिते_चैव_न_चंडाधिकृतिर्भवेत्।।(#निर्णयसिन्धौ) अर्थात् नर्मदेश्वर शिवलिंग,स्वयंभु शिवलिंग, ज्योतिर्लिंग,रत्न निर्मित तथा पारद शिवलिंग पर जल फल आदि चढ़ाने के बाद भी ग्रहण कर सकते हैं,क्यो कि उसमें चंड भैरव भगवान का कोई अधिकार नहीं होता है।। बाणलिंग(नर्मदेश्वर शिवलिंग) में चढ़ाया गया सब कुछ प्रसाद समझकर ले सकते हैं,क्यो कि यहां साक्षात् भगवान शिव का वास होता है।यथा:- #ग्राह्याग्राह्यविचारोऽयम्_बाणलिंगे_न_विद्यते। #तदर्पितम्_जलम्_पत्रम्_ग्राह्य_प्रसाद_संज्ञया।। शिवपुराण में एक और श्लोक आता है इस प्रकार:- #लिंगोपरि_च_यद्_द्रव्यम्_तद्ग्राह्यं_मुनिश्वरा। #सुपवित्रंच_तज्ज्ञेयम्_यल्लिंग_स्पर्श_बाह्यत:।।(शिवपुराण,विद्येश्वर संहिता २२/२०) अर्थात् जो वस्तु शिवलिंग के ऊपर रखा गया है,वह अग्राह्य है, परंतु जो शिवलिंग से स्पर्श न किया गया है,वह निश्चित रूप से ग्राह्य है।। यदि एसे में शिवलिंग से स्पर्श किया गया द्रव्यो को शालिग्राम शिला से स्पर्श किया जाता है,तब वह भी ग्राह्य हो जाता है।।🙏🏻🌺🙏🏻😊 ༺꧁ इति ꧂༻ शशांक शेखर पराशर नागांव,आसाम

+7 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 13 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB