Pawan Sharma
Pawan Sharma Oct 26, 2020

+13 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 14 शेयर

कामेंट्स

R.K.SONI(Ganesh Mandir) Oct 26, 2020
her her mahadav ji🙏 good Night ji🌹🌹 have you nice health and luck🌹🌹🌹🌹🙏🙏🙏

Mandeep Sharma Nov 26, 2020

+15 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sheela Sharma Nov 26, 2020

+89 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 17 शेयर

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🕉🇮🇳 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🌿🌷🌻 *शुभ~दिवस* 🌻🌷🌿 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 *साभार ऑडियो ~ @Kamini Agarwal* *गुरु ग्यांन गहै अति होइ सुखी,* *मन मोह तजै सब सब काज सरै ।* *धुर ध्यांन रहै पति खोइ मुखी,* *रन लोह बजै तब लाज परै ॥* *सुरतान उहै हति दोइ रुखी,* *तन छोह सजै अब आज मरै ।* *पुरथान लहै मति धोइ दुखी,* *जन वोह रजै जब राज करै ॥३३॥* *गुरुज्ञान से शाश्वत सुखप्राप्ति* : रे मन ! यदि तूँ गुरु द्वारा उपदिष्ट ज्ञान को ग्रहण कर ले तो तूँ नित्य सुख की प्राप्ति कर सकता है । तूँ सांसारिक मोह ममता का त्याग कर दे तो तेरे सभी आध्यात्मिक कार्य पूर्ण हो सकते हैं । यदि तूँ अपना ध्यान दृढ़ता से हरिभजन में लगाना चाहता है तो सांसारिक प्रतिष्ठा की बात भूल जा और गुरुमुख हो जा । सांसारिक बिघ्न बाधाओं को दूर हटा दे । तभी तेरी वास्तविक लज्जा बच सकती है । यहाँ वही दिग्विजयी राजा कहलाने का अधिकारी है जो दुमुखी बातें करना छोड़ कर देह का ममत्व त्याग देता है, फिर यह देह भले ही आज चला जाय, या कल जाय - इसकी चिन्ता न करें । गुरुज्ञान - प्राप्ति द्वारा जिसकी बुद्धि शुद्ध हो गयी है, उसी को परमपद(मोक्ष) प्राप्त हो सकता है । किसी दुःखी जन पर उस परम कृपालु प्रभु की अनुकम्पा हो जाय तो वह समस्त विश्व पर अक्षय राज्य करने में समर्थ हो जाता है ॥३३॥ *(सवैया ग्रंथ ~ उपदेश चितावनी को अंग)* https://youtu.be/xiJ_4TEONKs https://youtu.be/xiJ_4TEONKs

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
OM PRKASH GUPTA Nov 26, 2020

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Meenakshi Goyal Nov 26, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB