Suchitra Singh
Suchitra Singh Sep 2, 2017

पूजा के बाद क्यों करते हैं आरती? जान लें ये 3 वैज्ञानिक कारण।

पूजा के बाद क्यों करते हैं आरती? जान लें ये 3 वैज्ञानिक कारण।

हम में से अधिकतर लोग तो ऐसे हैं जो रोजाना पूजा-पाठ करते हैं लेकिन क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि पूजा-पाठ के बाद आरती क्यों की जाती है. आरती करने के पीछे भी एक कारण है. आइए जानते हैं आरती करने के पीछे का तर्क. ऐसा नहीं है कि आरती का केवल धार्मिक महत्व ही है बल्कि आरती का वैज्ञानिक तर्क भी है.
1. आरती की थाल में रुई, घी, कपूर, फूल, चंदन होता है. रुई शुद्ध कपास होता है इसमें किसी प्रकार की मिलावट नहीं होती है. इसी प्रकार घी भी दूध का मूल तत्व होता है. कपूर और चंदन भी शुद्घ और सात्विक पदार्थ है. जब रुई के साथ घी और कपूर की बाती जलाई जाती है तो एक अद्भुत सुगंध वातावरण में फैल जाती है.

2. इससे आस-पास के वातावरण में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा भाग जाती है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होने लगता है. इस वजह से मन में अच्छे विचारों का आगमन होता है. जैसा कि हम सभी जानते हैं कि खूशबू या सुगन्ध का हमारे जीवन पर क्या असर पड़ता है. इससे हमारा दिल और दिमाग शांत रहता है.

3. जिससे किसी भी प्रकार की नकारात्मकता हम पर हावी नहीं होती. साथ ही आरती में बजने वाले शंख और घंटी के स्वर के साथ जिस किसी देवता को ध्यान करके गायन किया जाता है उसके प्रति मन केन्द्रित होता है, जिससे मन में चल रहे प्रश्नों पर विराम लगकर हमारे मन को शांति मिलती है.

+547 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 238 शेयर

कामेंट्स

Dashrath Rajpoot Sep 2, 2017
जी बोहत ही सुन्दर बात कही

Hemant M. Mehta Sep 22, 2017
महत्वपूर्ण जानकारी के लिए धन्यवाद.

Deepu Shukla Oct 17, 2017
हर हर महादेव जय भोलेनाथ

Vishnu Aug 16, 2018
सुचित्रा जी 🙏 शुभ संध्या काल जी गुड ईवनिंग जी बोलो बजरंगबली की जय 🙏 जयश्री कृष्णा सा 🙏 राधे राधे बोलो जी 🙏

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB