🌷🙏🌷जय माता दी ,शुभ शुक्रवार ,सुप्रभातम 🌷🙏🌷

+223 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 128 शेयर

कामेंट्स

Seema soni Jan 22, 2021
Radhe Radhe dear sister ji Jai mata di 🙏🌹🌹😊

Sumitra Soni Jan 22, 2021
जय माता दी 🙏🏻🌹बहना माता रानी आपकी सभी मनोकामना पूरी करें आप और आपके परिवार को सदा सुखी रखे स्वस्थ रखें🌹🙏🏻🌹

saumya sharma Jan 22, 2021
जय माता दी 🙏🙏🙏 सुप्रभात मेरी प्यारी बहन🌞🌹🙏 माता रानी की कृपा से आपका हर पल मंगलमय हो🙏🙏🙏

k l तिवारी Jan 22, 2021
जय श्री माता की बहन, मातारानी के पावन श्रीचरणों में शत शत नमन वंदन🌹🌷🙏🌷🌹

आशुतोष Jan 22, 2021
सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके। शरण्ये त्र्यंबके गौरी नारायणि नमोऽस्तुते।। || जय माता दी || ༺꧁ Զเधॆ Զเधॆ꧂༻ 🌼🌻 शुभदिवस की मंगलकामनाएँ🌻🌼

Archana Singh Jan 22, 2021
🙏🌹jai mata di 🌹🙏 mangal suprabhat meri pyari bahna ji 🙏 mata Rani aapko sapariwar hamesha khush our swasthya rkhe Bahna ji 🙏🌹🌹🙏

shohana sing Jan 22, 2021
जय माता दी सुप्रभात वंदन माता रानी की कृपा आप बनी रहे आप सदैव हसते मुस्कराते रहिए मस्त रहिए स्वस्थ रहिए ॐ सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके  |  शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते || जय महालक्ष्मी माँ

Ansouya M Jan 22, 2021
जय माता दी 🙏🌹 जय माता दी 🙏🌹 शुभ प्रभात प्यारी बहना जी 🌷🙏🌷🙏 आप का दिन शुभ और मंगलमय हो माता रानी की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बना रहे बहना जी 🙏 या देवी सॅव भूतेशू मातृ रूपेण संसथिता नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नमः 🙏🌷 🙏🌷🙏🌷

Ansouya M Jan 22, 2021
अति सुन्दर प्रस्तुति के लिये धन्यवाद बहना जी 🌷🙏🌷🙏 👌👌🌷🌷

BK WhatsApp STATUS Jan 22, 2021
जय माता महालक्ष्मी नमो नमः शुभ प्रभात स्नेह वंदन धन्यवाद 🌹🙏🙏👌👌👍👍🕉️🌄

madan pal 🌷🙏🏼 Jan 22, 2021
जय माता दी शुभ प्रभात वंदन जी माता रानी जी की कृपा आप व आपके परिवार पर बनीं रहे जी 🌷🙏🏼🌷🙏🏼🌷

अर्जुन वर्मा Jan 22, 2021
🙏!!प्रेम से बोलो जय माता दी!!🙏 !! माता रानी की कृपा एवं आशीर्वाद आप और आपके पूरे परिवार जनों पर सदैव बनी रहे!!🙏🌿🌿🌿🌿 !! आप स्वस्थ एवं प्रसन्न रहें!!😊 !!इसी मंगल कामना के साथ शुभ दोपहर वंदन दीदी सादर प्रणाम!!🙏

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Jan 22, 2021
Good Evening My Sweet Sister ji 🙏🙏 Jay Mata di 🙏🙏🌹🌹 Mata Rani 🙏🙏🌹🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Pal Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹.

BK WhatsApp STATUS Jan 22, 2021
जय माता दी बहना हमने आज आपकी (४) पोस्ट देखें तो आप हमारी पोस्ट नहीं देखा धन्यवाद 🌹🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

🚩🌷🚩जय माता की🚩🌷🚩 🏵️🌺माँ जगतजननी जगदम्बा की जय🌺🏵️ सच्चे हृदय से की गई साधना कभी निष्फल नहीं होती। Sacchi hriday se ki gai Sadhna kabhi nishfal nahin Hoti. बहुत पुरानी बात है। हस्तिनापुर के जंगल में दो साधक अपनी नित्य साधना में लीन थे। उधर से एक देवर्षि का प्रकट होना हुआ। देवर्षि को देखते ही दोनों साधक बोल उठे – ‘ परमात्मन ! आप देवलोक जा रहे हैं क्या ? आप से प्रार्थना है कि लौटते समय प्रभु से पूछिए कि हमारी मुक्ति कब होगी। ‘ यह सुनकर देवर्षि वहां से चले गए। एक महीने के उपरांत देवर्षि वहां फिर प्रकट हुए। उन्होंने प्रथम साधक के पास जाकर प्रभु के संदेश को सुनाते हुए कहा – ‘ प्रभु ने कहा है कि तुम्हारी मुक्ति पचास वर्ष बाद होगी। ‘ यह सुनते ही वह साधक अवाक् रह गया। उसने विचार किया कि मैंने दस वर्ष तक निरंतर तपस्या की , कष्ट सहे , भूखा – प्यासा रहा , शरीर को क्षीण किया। फिर भी मुक्ति में पचास वर्ष ! मैं इतने दिन और नहीं रुक सकता। निराश हो , वह साधना को छोड़ अपने परिवार में वापस जा मिला। देवर्षि ने दूसरे साधक के पास जाकर कहा – ‘ प्रभु ने तुम्हारी मुक्ति के विषय में मुझे बताया है कि साठ वर्ष बाद होगी। ‘ साधक ने सुनकर बड़े संतोष की सांस ली। उसने सोचा , जन्म – मरण की परंपरा मुक्ति की एक सीमा तो हुई। मैंने एक दशाब्दि निरंतर तपस्या की। कष्ट सहे , शरीर को क्षीण किया। संतोष है कि वह निष्फल नहीं गया। इसके बाद वह और भी अधिक उत्साह से प्रभु के ध्यान में निमग्न हो गया। सच्चे हृदय से की गई साधना कभी निष्फल नहीं होती। इसे शेयर करे:

+129 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 125 शेयर
Krishna Mishra Mar 4, 2021

+90 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 44 शेयर
jyoti Mar 5, 2021

+32 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 5 शेयर
🌹Simran S 🌹 Mar 5, 2021

+24 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 12 शेयर

🚩जय माता की🌷 जय माता की🌷 जय माता की🚩 सच्चे हृदय से की गई साधना कभी निष्फल नहीं होती। Sacchi hriday se ki gai Sadhna kabhi nishfal nahin Hoti. बहुत पुरानी बात है। हस्तिनापुर के जंगल में दो साधक अपनी नित्य साधना में लीन थे। उधर से एक देवर्षि का प्रकट होना हुआ। देवर्षि को देखते ही दोनों साधक बोल उठे – ‘ परमात्मन ! आप देवलोक जा रहे हैं क्या ? आप से प्रार्थना है कि लौटते समय प्रभु से पूछिए कि हमारी मुक्ति कब होगी। ‘ यह सुनकर देवर्षि वहां से चले गए। एक महीने के उपरांत देवर्षि वहां फिर प्रकट हुए। उन्होंने प्रथम साधक के पास जाकर प्रभु के संदेश को सुनाते हुए कहा – ‘ प्रभु ने कहा है कि तुम्हारी मुक्ति पचास वर्ष बाद होगी। ‘ यह सुनते ही वह साधक अवाक् रह गया। उसने विचार किया कि मैंने दस वर्ष तक निरंतर तपस्या की , कष्ट सहे , भूखा – प्यासा रहा , शरीर को क्षीण किया। फिर भी मुक्ति में पचास वर्ष ! मैं इतने दिन और नहीं रुक सकता। निराश हो , वह साधना को छोड़ अपने परिवार में वापस जा मिला। देवर्षि ने दूसरे साधक के पास जाकर कहा – ‘ प्रभु ने तुम्हारी मुक्ति के विषय में मुझे बताया है कि साठ वर्ष बाद होगी। ‘ साधक ने सुनकर बड़े संतोष की सांस ली। उसने सोचा , जन्म – मरण की परंपरा मुक्ति की एक सीमा तो हुई। मैंने एक दशाब्दि निरंतर तपस्या की। कष्ट सहे , शरीर को क्षीण किया। संतोष है कि वह निष्फल नहीं गया। इसके बाद वह और भी अधिक उत्साह से प्रभु के ध्यान में निमग्न हो गया। सच्चे हृदय से की गई साधना कभी निष्फल नहीं होती। इसे शेयर करे:

+57 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 10 शेयर
lndu Malhotra Mar 5, 2021

+18 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Ammbika Mar 5, 2021

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 8 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB