अमरत्व की निरर्थकता

अमरत्व की निरर्थकता

*🌷अमरत्व की निरर्थकता☘*

🌅धर्म ग्रंथों में एक कथा है कि ख्वाजा खिजर की कृपा से सिकन्दर उस अमृत को पीने को ही था… कि पास में बैठे हुए

कौए ने चिल्लाकर कहा––“ ऐ बदनसीब इंसानǃ खुदा के वास्ते! इस पानी को न पीना।“

सिकंदर ने हैरान होकर पूछा–“ क्योंॽ”

कौए ने उत्तर दिया– “मैने एक बार बदनसीबी से इस पानी की एक बूँद पी ली। अब बुड्ढा और कमजोर हूँ। साथी–संगी सब मर गए, पर मैं अकेला उनकी याद करता हुआ रात–दिन बैठा–बैठा रोया करता हूँ। अकेला भटकता हूँ, नए पैदा होने वाले बच्चों के उल्लास को देख–देखकर मन मसोस कर रह जाता हूँ। जीने से मेरा दिल भर गया है, पर प्राण नहीं निकलते। सो, ऐ बादशाहǃ अगर तू इस पानी को पी लेगा, तो तेरा भी यही हाल होगा।“

सिकंदर कुछ देर स्तब्ध खड़ा हुआ कौए की बातों पर गौर करता रहा और आवेहयात् (अमृत) को बिना पिए ही उल्टे पाँव वापस लौट आया।

यदि मनुष्य शरीर से अमर हो भी जाए, तो यह बात उसके लिए अंततः दुःख का कारण ही बनेगी।

*आध्यात्मिक अमृत ही वह अमरता है, जो मनुष्य को संतोष और शांति प्रदान करने की क्षमता रखती है।*
🍁💦🙏Զเधे👣Զเधे🙏🏻💦🍁
*☘🌷!! हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे !!💖*
*☘💞हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे !!🌹💐*

÷सदैव जपिए एवँ प्रसन्न रहिए÷

Fruits Jyot Tulsi +15 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 2 शेयर

कामेंट्स

Mamta Sharma Oct 5, 2018
जय श्री राधे कृष्णा राधे जू तेरे चेहरे में वो जादू है बिन डोर खिंचा आती हूं जाना होता कहीं और तेरी और चली जाती हूं कृष्णा कृष्णा राधे राधे

Namrata.. Oct 5, 2018
जय श्री राधे कृष्णा जी🙏🙏

Like +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*महर्षि मेँहीँ परमहंस जी महाराज की अमृतवाणी*

*शरीर इन्द्रियों को पार करने पर जो है, वही परमात्मा है।* मन-बुद्धि इन्द्रियों के द्वारा जो ज्ञान होता है, वह माया है। एक इन्द्रिय का ज्ञान दूसरी इन्द्रिय को नहीं है। *उसी तरह उस परमात्मा का ज्ञान केवल ...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Lotus Dhoop +7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Harshasinh Rajput Nov 17, 2018

Like +4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Anuradha Tiwari Nov 17, 2018

खाटू श्याम बर्बरीक के रूप है। श्रीकृष्ण ने ही बर्बरीक को खाटूश्यामजी नाम दिया था। भगवान श्रीकृष्ण के कलयुगी अवतार खाटू श्यामजी खाटू में विराजित हैं। वीर घटोत्कच और मौरवी को एक पुत्ररतन की प्राप्ति हुई जिसके बाल बब्बर शेर की तरह होने के कारण इनका न...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Flower Jyot +16 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 6 शेयर

"यमदेव आणि शनिदेव आहेत सूर्यदेवाचे पुत्र, आणखी कोणकोण आहेत यांच्या कुटुंबात?
धर्म ग्रंथांमध्ये सूर्यदेवाला प्रत्यक्ष देवता मानण्यात आले आहे. सूर्य प्रकाशामुळेच जीवन शक्य आहे. यामुळे पंचदेवांमध्ये यांची पूजा अनिवार्य मानली गेली आहे. दररोज सूर्यदेवा...

(पूरा पढ़ें)
Dhoop Fruits Jyot +53 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 17 शेयर
jasbir Singh nain Nov 17, 2018

नवग्रहों में सूर्य, चन्द्रमा, मंगल, बुध, वृहस्पति, शुक्र और शनि इनको देवता माना जाता है तथा राहू केतु यह असुर हैं। पुराणों के अनुसार शनि महाराज भगवान सूर्य (आदित्य ) के पुत्र हैं। छाया (संवर्णा ) इनकी माता का नाम है । इन्हे क्रूर ग्रह माना जाता है...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Flower Pranam +65 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 40 शेयर
meena kumari Nov 16, 2018

Like Fruits Flower +7 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Narendra padhiyar, Nov 16, 2018

(((((((((((( पतिव्रता ))))))))))))
.
किसी नगर में कौशिक नामक एक क्रोधी और निष्ठुर ब्राह्मण रहता था. उसे कोढ़ की बीमारी थी.
.
उसकी पत्नी शांडिली अत्यंत मां दुर्गा की बड़ी भक्त था. वह बड़ी पतिव्रता थी और कोढ़ से सड़े-गले पति को सर्वश्रेष्ठ पुरूष और ...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like Jyot +10 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 42 शेयर
Narayan Tiwari Nov 15, 2018

🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻
एक सन्यासी घूमते-फिरते एक दुकान पर आये, दुकान में अनेक छोटे-बड़े डिब्बे थे, सन्यासी के मन में जिज्ञासा उत्पन्न हुई, एक डिब्बे की ओर इशारा करते हुए सन्यासी ने दुकानदार से पूछा, इसमे क्या है ? दुकानदार ने कहा - इसमे ...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Lotus Dhoop +98 प्रतिक्रिया 22 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Vidur Tiwari Nov 17, 2018

Radhe Radhe Radhe G Jaroori hai

Like +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB