Mahesh Panwar
Mahesh Panwar Mar 16, 2021

🎷चलो अमरनाथ ज़ी यात्रा 2021 🎷 🙏🌹शुरू करो तैयारी बाबा अमरनाथ धाम की अब सिर्फ 103 दिन शेष यात्रा 28 जून से 22 अगस्त 2021 (रक्षाबंधन) 🌹🙏 🙏जय बाबा अमरनाथजी ग्रुप 🙏 #amarnathyatra2021cave 🙏🌹जय बाबा बर्फानी 🌹🙏 भूखे को अन्न दे प्यासे को पानी

🎷चलो अमरनाथ ज़ी यात्रा 2021 🎷
🙏🌹शुरू करो तैयारी बाबा अमरनाथ धाम की अब सिर्फ 103 दिन शेष यात्रा 28 जून से 22 अगस्त 2021 (रक्षाबंधन) 🌹🙏
🙏जय बाबा अमरनाथजी ग्रुप 🙏
#amarnathyatra2021cave
🙏🌹जय बाबा बर्फानी 🌹🙏
भूखे को अन्न दे प्यासे को पानी

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

कामेंट्स

Mohit Sharma Mar 21, 2021
जय बाबा अमरनाथ बर्फानी

pawan saini May 10, 2021

🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️ *#शिवमहिम्नःस्तोत्रम्* 🌷🌷🌷🙏🏻🙏🏻🙏🏻🌹🌹🌹 *कृश-परिणति-चेतः क्लेशवश्यं क्व चेदं।* *क्व च तव गुण-सीमोल्लंघिनी शश्वदृद्धिः।।* *इति चकितममन्दीकृत्य मां भक्तिराधाद्।* *वरद चरणयोस्ते वाक्य-पुष्पोपहारम्।।* *#भावार्थ:* 🌷🌷🌷🙏🏻🙏🏻🙏🏻🌹🌹🌹 *मेरा मन शोक, मोह और दुःख से संतप्त तथा क्लेश से भरा पड़ा है। मैं दुविधा में हूँ कि ऐसे भ्रमित मन से मैं आपके दिव्य और अपरंपार महिमा का गान कैसे कर पाउँगा ? फिर भी आपके प्रति मेरे मन में जो भाव और भक्ति है उसे अभिव्यक्त किये बिना मैं नहीं रह सकता। अतः ये स्तुति की माला आपके चरणों में अर्पित करता हूँ।* 🎉🎉🎉🙏🏻🙏🏻🙏🏻🎉🎉🎉 *#शिवमहिम्नःस्तोत्रम्* 🌷🌷🌷🙏🏻🙏🏻🙏🏻🌹🌹🌹 *नमो नेदिष्ठाय प्रियदव दविष्ठाय च नमः।* *नमः क्षोदिष्ठाय स्मरहर महिष्ठाय च नमः।।* *नमो वर्षिष्ठाय त्रिनयन यविष्ठाय च नमः।* *नमः सर्वस्मै ते तदिदमतिसर्वाय च नमः।।* *#भावार्थ:* 🌹🌹🌹🙏🏻🙏🏻🙏🏻🌷🌷🌷 *आप सब से दूर हैं फिर भी सब के पास है। हे कामदेव को भस्म करनेवाले प्रभु ! आप अति सूक्ष्म है फिर भी विराट है। हे तीन नेत्रोंवाले प्रभु! आप वृद्ध है और युवा भी है। आप सब में है फिर भी सब से पर है। आपको मेरा प्रणाम है।* 🎉🙏🏻🙏🏻🌹🌹🙏🏻🙏🏻 *झाड़ू में जब तक बन्धन होता है तब तक वो कचरे को साफ करता है...* *बन्धन खुल जाने पर झाड़ू खुद कचरा बन जाता है...* *इसलिये हमेशा अपनों से बंधे रहिये।* *एक, एक से हम अनेक बनते है, इस बंधन को मजबूती से बनाए रखे* 💐💐🎊🎊🌸🌸 *नाजु़क वक्त है...* *ना रखना किसी से बैर...* *हो सके तो हाथ जोड़कर* *"ईश्वर" से मांगना* *सब की खैर...* 💎💎💎💎💎💎💎💎💎💎💎 *जिसका जैसा “चरित्र” होता है* *उसका वैसा ही “मित्र” होता है* *”शुद्धता” होती है “विचारों” में* *“आदमी” कब “पवित्र”होता है* *फूलो में भी कीड़े पाये जाते हैं..,* *पत्थरों में भी हीरे पाये जाते हैं..* *बुराई को छोड़कर* *अच्छाई देखिये तो सही..,* *नर में भी नारायण पाये जाते हैं..!!* *मैं आप के साथ हूँ* *ये मेरा भाग्य है।* *पर आप मेरे साथ है* *यह मेरा सौभाग्य है…* *🧘🏻‍♂️ओम् नम: शिवाय💥* 🍁🍁🍁🍁🍁🍁🍁🍁🍁

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB