जय माता दी...

#देवीदर्शन
जय माता दी...

+106 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 10 शेयर

कामेंट्स

Gaurav shukla Apr 22, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
SunitaSharma Apr 21, 2021

+54 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 38 शेयर
SunitaSharma Apr 20, 2021

+191 प्रतिक्रिया 43 कॉमेंट्स • 284 शेयर
pooja Apr 21, 2021

+20 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 23 शेयर
HEMANT JOSHI Apr 21, 2021

+8 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 46 शेयर
Manoj manu Apr 20, 2021

🚩🙏🔔जय माता दी - शुभ अष्टमी 🌺🔔🙏 🌹🌿🌹"कन्या पूजन विशेष :- नवरात्रि में कन्या पूजन का विशेष महत्व है, शास्त्रों के अनुसार एक कन्या की पूजा से ऐश्वर्य, दो की पूजा से भोग और मोक्ष, तीन की पूजा-अर्चना से धर्म -अर्थ व काम, चार की पूजा से राज्यपद, पांच की पूजा से विद्या, छ: की पूजा से छ: प्रकार की सिद्धि, सात की पूजा से राज्य, आठ की पूजा से संपदा, अष्टसिद्धि और नौ की पूजा से नवनिधि तथा पृथ्वी के प्रभुत्व की प्राप्ति होती है। कन्याओं की आयु 9 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। शास्त्रों में दो साल की कन्या कुमारी, तीन साल की त्रिमूर्ति, चार साल की कल्याणी, पांच साल की रोहिणी, छ: साल की कालिका, सात साल की चंडिका, आठ साल की शांभवी, और नौ साल की कन्या दुर्गा मानी जाती हैं। कन्या पूजन करने से महामाया भगवती प्रसन्न होकर सभी मनोरथ पूर्ण करती हैं और सुख शाँति एवं समृद्धि प्रदान करती हैं। 🌹🌹कैसे करें कन्या पूजन :- सभी कन्याओं के पैर धो कर उन्हें स्वच्छ आसन पर बैठाएं। हाथों में मौली बांधें, माथे पर रोली से तिलक लगाएं। भगवती दुर्गा को उबले हुए चने, हलवा पूरी,खीर,पूआ व फल आदि का भोग लगाया जाता है। यही प्रसाद कन्या को भी प्रेम पूर्वक भोजन कराये जाते हैं कन्याओं को कुछ न कुछ दक्षिणा भी दी जाती है। उन्हें रुमाल, फल और खिलौने भी भेंट कर सकते हैं, कन्या को लाल चुन्नी भी चढ़ाई जाती हैं। कन्याओं को घर से विदा करते समय उनसे आशीर्वाद के रूप में थपकी लेने की भी मान्यता है। ध्यान रखें कि कन्याओं के साथ एक भैरव यानी लड़के का भी पूजन होता है। उनके चरण छुकर आर्शीवाद लें। इसके बाद कन्‍याओं को खुशी-खुशी विदा करें। ऐसा करने से मातारानी की कृपा और उनका आर्शीवाद आप के ऊपर हमेशा ही बना रहेगा। अष्टमी और नवमी दोनों ही दिन कन्या पूजन कर सकते हैं। "माँ भगवती सभी का सदा कल्याण करें सदा मंगल प्रदान करें,सुख शाँति एवं समृद्धि प्रदान करें, जय माता दी"🙏

+198 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 65 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB