Dilunath Vairagi
Dilunath Vairagi Feb 2, 2018

jai mata jwaladevi

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Renu Singh May 27, 2020

+365 प्रतिक्रिया 53 कॉमेंट्स • 97 शेयर
sanjay Awasthi May 27, 2020

+56 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Bhim singh May 27, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Bhim singh May 27, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Vandana Singh May 27, 2020

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
DimpAl Dimpu Kumari May 27, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Manoj manu May 27, 2020

🚩🙏🌹हरि ऊँ -राधे राधे जी 🌿🌺🙏 भक्ति धारा :-एक बार बृंदावन में एक मंदिर के बाहर कुछ साधू एक बड़ा सुंदर भजन गा रहे थे - 🌺"हो नयन हमारे अटके बिहारी जी के चरण कमलों में " 🌿- हो नयन हमारे अटके बिहारी जी के चरण कमलों में " -बार -बार वे यही दुहराये जा रहे थे,तभी वहाँ से एक राहगीर का निकलना हुआ,भजन बहुत ही सुंदर था ,तो वह कुछ देर वहीं बैठकर भजन सुनता रहा,और कुछ समय बाद आगे को चला गया और एक स्थान पर बैठकर अपनी आँखें बंद करके वह भी भजन गाने लगा -- 🌹"हो नयन बिहारी जी के अटके ,हमारे चरण कमलों में " --बार- बार बस यही गाये जा रहा था, कुछ देर बाद वह अपनी आँखें खोलता है और अपने सामने साक्षात् बिहारी जी को देखता है, वो बड़ी सोच में पड जाता कि बडे -बड़े सिद्ध महात्माओं को ही बिहारी जी के दर्शन होते हैं और मैं तो कुछ भी नहीं, जरूर कोई भृम हो रहा है मुझे, लेकिन बिहारी जी तो सब कुछ समझते -जानते हैं, वे बोले मैं ही तुम्हारे बिहारी जी हूँ, मैंने बड़े -बड़े संत महात्मा मेरी भक्ति में लीन देखे पर तुम्हारे जैसा कोई नहीं देखा, तुमने तो मेरे नयन अपने चरण कमलों में ही अटका रखे हैं भैया, -फिर भला मैं कैसे तुमको दर्शन नहीं देता बस तुम्हारा ये समर्पण भाव मुझे मजबूर कर गया और मुझे आना पड़ा तुम्हें दर्शन देने के लिए, ऐसे ही तो हैं अपने बिहारी जी शब्द और भाषा से परे बस केवल और केवल मन के समर्पण भाव में रमण करते हैं वे तो, बोलिए बृंदावन बिहारी लाल की जय 🌺🙏 🌹"भाव के भूखे हैं प्रभु जी भाव ही बस सार है, 🌿भाव से अर्पण करो तो एक पुष्प भी स्वीकार है, " 🌺🌿प्रेम पूर्वक बोल दीजिए -राधे राधे 🌺🌿🙏

+142 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 40 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB