🕉️ओम हरि विष्णु 🕉️

+81 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 117 शेयर

कामेंट्स

Gour.... Jan 27, 2021
राम राम जी।।जय माता की।। 🙏भगवान श्री हरि विष्णु जी व माँ लक्ष्मी जी का आशीर्वाद आप पर हमेशा बना रहे🚩🔱🙏 🙏 🙏 आपका हर पल खुशियों से भरा हो जी🙏🙏🙏🔔 हर हर महादेव जी **** जय श्री राधे जय श्री कृष्णा जी🔔🔔🔔

Norat mal mali Rajasthan Jan 27, 2021
jay shree ganeshji maharaj 🙏🙏🌹🌹 ram ram ji jay shree hari Vishnu bhgwan aapki mnokamna puri kre khushiyo hi khushiyo jay shree radhe radhe krishna ji Jay shree hari balaji 🙏🙏🌹🌹 ram ram ji jay baba ramdevji maharaj ri 🙏🙏🌹🌹 ram ram ji HARI OM NAMO NARAYAN VASUDEV BHGWAN SETJI🙏🙏🌹🌹 RAM RAM JI GOOD NIGHT JIJI

Uma shankar Pandey Jan 27, 2021
🏵🙏🏵🚩🕉राधे राधे,बहन 🏵🙏🏵🚩🕉शुभ रात्रि,बन्दन।

RAJ RATHOD Jan 27, 2021
🙏जय श्रीकृष्ण 🙏 🌹🌹शुभ रात्रि वंदन 🌹🌹 🌺🌺Good Night.... sweet dreams 🌺🌺

Gour.... Jan 27, 2021
Jai Shri Krishna Jai Shri Radhe G. Aapki Aane Wali Subah Bahut Hi Sunder Ho G. Aapka Har Pal Khushion Se Bhara Ho G. Shubh Ratri G.

sanjay choudhary Jan 27, 2021
।।।।जय श्री कृष्णा।।।। जय श्री राम 🙏🙏🙏 आपकी रात्रि शुभ रहे।।।

🌹🌹कविता🌹🌹 Jan 27, 2021
ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः शुभ रात्रि सादर सप्रेम वंदन जी

Ramesh Mathews Jan 27, 2021
Meri pyari Bdi Bahana Rain ji very nice post Didi ji Aap ka Har pal shubh v swasth aur kisan se bhara Rahe Shubh Ratri ji Thakur ji aapko lambhi umr or Aacha svasty de Baba Bholenath ji ki Kripa dristi aap pr Hamesha Bni Rahe ji

🌀SOM DUTT SHARMA🌀 Jan 27, 2021
jai sri Radhey Radhey ji good night ji sweet dreams ji nice 👍 beautiful thanks 👍 so sweet g ❤️ 💝 nice 👍

raadhe krishna Mar 3, 2021

+198 प्रतिक्रिया 24 कॉमेंट्स • 130 शेयर
Saroj Kumari Sinjh Mar 4, 2021

0️⃣3️⃣❗0️⃣3️⃣❗2️⃣0️⃣2️⃣1️⃣ *आप के अच्छे समय मे आप के हितैसी बहुत होंगे, लेकिन जब भी तकलीफ का समय आएगा तब कुछ चुनिंदा ही दिखेंगे, जो आप को हिम्मत देगे,आगे बढ़ने का हौसला देगे,* *🦚ईश्वर ने सब की समस्या का समाधान भी दिया है, बस आप को अपने धैर्य से विवेक से परिस्थितियों को सुलझाना है, अक्सर हम दोष देने लग जाते है, लेकिन असल मे हमे अपनी कमियों को समझना चाहिए,* *🍃विपत्तियां कैसी भी हो कष्टदायक होती है,आज आप किसी की तकलीफ में साथ है, तो निश्चित ही आपकी मदद के लिए भी कोई साथ आएगा।एक ईश्वर पर दृढ़ता से सदैव विश्वास रखे।* *🦚जब मुझे पर्याप्त आत्मविश्वास मिला*तो मंच खत्म हो चुका था* *जब मुझे हार का यकीन हो गया तब मैं जीता......*जब मुझे लोगों की जरूरत थी... उन्होंने मुझे छोड़ दिया.... जब रोते हुये मेरे आँसू सूख गए.... तो मुझे सहारे के लिए कंधा मिल गया.... *जब मैंने नफरत की दुनिया में जीना सीख लिया... किसी ने मुझे दिल की गहराई से प्यार करना शुरु कर दिया.... *जब सुबह का इंतजार करते करते मे सोने लगा*... *सूर्य निकल आया*..... *यही जिंदगी है*... *कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या योजना बना रहे हैं आप कभी भी नहीं जान पाते हैं कि जीवन आपके लिए क्या योजना बना रहा है*... *सफलता आपका दुनिया से परिचय कराती है और असफलता आप को दुनिया का*....! *इसलिए हमेशा खुश रहो!!* *अक्सर जब हम आशा खो देते हैं और लगता है कि यह अंत है भगवान ऊपर से मुस्कराते हैं और कहते हैं कि*.. *शांत रहो वत्स...यह सिर्फ एक मोड़ है अंत नहीं है..... अनंत है..........!!!!!!* *बुरा वक्त भी कमाल का होता है* *जी जी कहने वाले भी तू तू कहने लगते है✍🏻* *🙏🏻🙏🏾🙏जय जय श्री विष्णु हरि 🙏🏼🙏🏿🙏🏽 🌹🌹🌿🌿 शुभ रात्रि 🌿🌿🌹🌹

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+7 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 0 शेयर

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Pandurang Khot Mar 3, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
shiva Mar 4, 2021

+45 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 59 शेयर
Smt Neelam Sharma Mar 4, 2021

*_ll ॐ नमो भगवते वासुदेवाय ll🏵ll_* *_शुभ वृहस्पतिवारीय सुप्रभातम 💐_* *_🔸💫🌸((🕉))🌸💫🔸_* *_शान्ताकारं भुजग-शयनं पद्मनाभं सुरेशं,_* *_विश्वाधारं गगनसदृशं मेघवर्ण शुभाङ्गम्।_* _*शान्ताकारं*– जिनकी आकृति अतिशय शांत है, वह जो धीर क्षीर गंभीर हैं,_ _*भुजग-शयनं* – जो शेषनाग की शैया पर शयन किए हुए हैं (विराजमान हैं),_ _*पद्मनाभं* – जिनकी नाभि में कमल है,_ _*सुरेशं* – जो ‍देवताओं के भी ईश्वर और_ _*विश्वाधारं* – जो संपूर्ण जगत के आधार हैं, संपूर्ण विश्व जिनकी रचना है,_ _*गगन-सदृशं* – जो आकाश के सदृश सर्वत्र व्याप्त हैं,_ _*मेघवर्ण* – नीलमेघ के समान जिनका वर्ण है,_ _*शुभाङ्गम्* – अतिशय सुंदर जिनके संपूर्ण अंग हैं, जो अति मनभावन एवं सुंदर है !_ *_लक्ष्मीकान्तं कमलनयनं योगिभिर्ध्यानगम्यम्_* *_वन्दे विष्णुं भवभयहरं सर्वलोकैकनाथम्॥_* _*लक्ष्मीकान्तं* – ऐसे लक्ष्मीपति,_ _*कमल-नयनं* – कमलनेत्र (जिनके नयन कमल के समान सुंदर हैं !)_ _*योगिभिर्ध्यानगम्यम्* – (योगिभिर – ध्यान – गम्यम्) – जो योगियों द्वारा ध्यान करके प्राप्त किए जाते हैं, (योगी जिनको प्राप्त करने के लिया हमेशा ध्यानमग्न रहते हैं !)_ _*वन्दे विष्णुं* – भगवान श्रीविष्णु को मैं प्रणाम करता हूँ (ऐसे परमब्रम्ह श्री विष्णु को मेरा नमन है !)_ _*भवभय-हरं* – जो जन्म-मरण रूप भय का नाश करने वाले हैं, जो सभी भय को नाश करने वाले हैं !_ _*सर्वलोकैक-नाथम्* – जो संपूर्ण लोकों के स्वामी हैं, सभी चराचर जगत के ईश्वर हैं !!_ *_जगत के पालनहार प्रभु, श्री विष्णु भगवान हम सबका प्रणाम स्वीकार करें !!🙏!!_* _*🔸💫🌸((🙏))🌸💫🔸*_ _*💐 श्री कृष्ण गोविंद हरे मुरारी हे नाथ नारायण वासुदेवा 💐*_

+130 प्रतिक्रिया 25 कॉमेंट्स • 61 शेयर

+58 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 262 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB