माँ पीताम्बरा (दतिया, मध्यप्रदेश)

माँ पीताम्बरा (दतिया, मध्यप्रदेश)

+236 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 24 शेयर

कामेंट्स

ram Aug 22, 2017
jai maai ki

_*🌻🔥सर्वसिद्धि बगलामुखी मन्दिर🔥🌻*_ 🌻२५ मई २०१९ शनिवार🌻 प्रातःकाल ०६:०० बजे ⛳ _*(ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष सप्तमी कल सुबह 08:49 तक तत्पश्चात अष्‍टमी*_⛳ 🌞रजत शृंगार मंगला आरती दर्शन🌞 🙏स्वयंम्भू प्राकट्य धाम, नलखेड़ा🙏 👏जय माता दी👏 🙏🙏ॐ "मध्ये सुताब्धि मणिमण्डप रत्नवेद्याम्। सिंहासनोपरिगताँ परिपीत वर्णाम्॥ पीताम्बराभरण माल्य विभूषिताङ्गीम्। देवी नमामि धृतमुद्गर वैरि जिह्वाम्॥ जिह्वाग्रमादाय करेण देवी वामेन शत्रूनपरिपीड्यन्तीम्। गदाभिघातेन च दक्षिणेन पीताम्बराढ्यां द्विभुजाँम् नमामि ॥ त्रिशूलधारिणीमम्बाम् सर्व सौभाग्यदायिनीम्। सर्वशृंगार वेषाढ्याम् देवीं ध्यात्वा प्रपूज्येत्॥"🙏🙏

+64 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Anjana Gupta May 24, 2019

+1402 प्रतिक्रिया 301 कॉमेंट्स • 455 शेयर

_*🌻🔥सर्वसिद्धि बगलामुखी मन्दिर🔥🌻*_ 🌻२५ मई २०१९ शनिवार🌻 प्रातःकाल ०६:०० बजे ⛳ _*(ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष सप्तमी कल सुबह 08:49 तक तत्पश्चात अष्‍टमी*_⛳ 🌞रजत शृंगार मंगला आरती दर्शन🌞 🙏स्वयंम्भू प्राकट्य धाम, नलखेड़ा🙏 👏जय माता दी👏 🙏🙏ॐ "मध्ये सुताब्धि मणिमण्डप रत्नवेद्याम्। सिंहासनोपरिगताँ परिपीत वर्णाम्॥ पीताम्बराभरण माल्य विभूषिताङ्गीम्। देवी नमामि धृतमुद्गर वैरि जिह्वाम्॥ जिह्वाग्रमादाय करेण देवी वामेन शत्रूनपरिपीड्यन्तीम्। गदाभिघातेन च दक्षिणेन पीताम्बराढ्यां द्विभुजाँम् नमामि ॥ त्रिशूलधारिणीमम्बाम् सर्व सौभाग्यदायिनीम्। सर्वशृंगार वेषाढ्याम् देवीं ध्यात्वा प्रपूज्येत्॥"🙏🙏

+14 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Anita Mittal May 24, 2019

🌼🌼उल्लू कैसे माँ लक्ष्मी जी का वाहन बना ? 🌼🌼 🌹🌹जय माँ लक्ष्मी जी की 🌹🌹 प्राणी जगत की संरचना करने के बाद एक रोज़ सभी देवी - देवता पृथ्वी पर विचरण करने आये ।क्षसभी पशु - पक्षियों ने उनसे कहा , आप हमें वाहन के रुप में चुनकर कृतार्थ करें । देवी - देवताओं ने उनकी बात मानकर उन्हें अपने वाहन के रुप में चुनना आरंभ किया । लक्ष्मी जी असमंजस में थीं कि किसको अपना वाहन चुने ? काफी सोच - विचार के बाद उन्होंने कहा , कार्तिक अमावस्या के दिन आप में से किसी एक को अपना वाहन बनाऊँगी । कार्तिक अमावस्या की रात्रि जैसे ही लक्ष्मी जी धरती पर पधारीं , उल्लू ने अंधेरे में अपनी तेज़ नज़रों से उन्हें देखा और उनके समीप पहुँचा और उनसे प्रार्थना की , आप मुझे अपना वाहन स्वीकार करें । लक्ष्मी जी ने चारों ओर दृष्टि दौड़ाई पर उन्हें कोई भी अन्य पशु - पक्षी दिखाई नहीं दिया । इसतरह उन्होंने उल्लू को अपना वाहन बना कर उसे कृतार्थ किया । 🌷🌷माँ लक्ष्मी जी की ममता आप पर हर पल बरसती रहे जी 🌷🌷 🌹🌹जय माँ लक्ष्मी जी की 🌹🌹

+493 प्रतिक्रिया 139 कॉमेंट्स • 43 शेयर
PRAMIL KUMAR SHARMA May 24, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB