💐 *मुस्कुराहट का महत्व* 💐 👉

💐 *मुस्कुराहट का महत्व* 💐 👉

💐 *मुस्कुराहट का महत्व* 💐

👉 _*अगर आप एक अध्यापक हैं और जब आप मुस्कुराते हुए कक्षा में प्रवेश करेंगे तो देखिये सारे बच्चों के चेहरों पर मुस्कान छा जाएगी।*_

👉 _*अगर आप डॉक्टर हैं और मुस्कराते हुए मरीज का इलाज करेंगे तो मरीज का आत्मविश्वास दोगुना हो जायेगा।*_

👉 _*अगर आप एक ग्रहणी है तो मुस्कुराते हुए घर का हर काम किजिये फिर देखना पूरे परिवार में खुशियों का माहौल बन जायेगा।*_

👉 _*अगर आप घर के मुखिया है तो मुस्कुराते हुए शाम को घर में घुसेंगे तो देखना पूरे परिवार में खुशियों का माहौल बन जायेगा।*_

👉 _*अगर आप एक बिजनेसमैन हैं और आप खुश होकर कंपनी में घुसते हैं तो देखिये सारे कर्मचारियों के मन का प्रेशर कम हो जायेगा और माहौल खुशनुमा हो जायेगा।*_

👉 _*अगर आप दुकानदार हैं और मुस्कुराकर अपने ग्राहक का सम्मान करेंगे तो ग्राहक खुश होकर आपकी दुकान से ही सामान लेगा।*_

👉 _*कभी सड़क पर चलते हुए अनजान आदमी को देखकर मुस्कुराएं, देखिये उसके चेहरे पर भी मुस्कान आ जाएगी।*_

🌺 _*मुस्कुराइए, 😊“क्यूंकि मुस्कराहट के पैसे नहीं लगते ये तो ख़ुशी और संपन्नता की पहचान है।*_”

🌺 _*मुस्कुराइए, 😊“क्यूंकि आपकी मुस्कराहट कई चेहरों पर मुस्कान लाएगी।*_”

🌺 *_मुस्कुराइए, 😊“क्यूंकि ये जीवन आपको दोबारा नहीं मिलेगा।_*”

🌺 *_मुस्कुराइए, 😊“क्योंकि क्रोध में दिया गया आशीर्वाद भी बुरा लगता है और मुस्कुराकर कहे गए बुरे शब्द भी अच्छे लगते हैं।_*”

🌺 _*मुस्कुराइए ,😊“क्योंकि दुनिया का हर आदमी खिले फूलों और खिले चेहरों को पसंद करता है।”*_

🌺 _*मुस्कुराइए, 😊“क्योंकि आपकी हँसी किसी की ख़ुशी का कारण बन सकती है।”*_

🌺 _*मुस्कुराइए,😊 “क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते है”*_

*और सबसे बड़ी बात*

_*मुस्कुराइए, 😊 “क्योंकि यह मनुष्य होने की पहचान है। एक पशु कभी भी मुस्कुरा नही सकता।”*_

*_इसलिए स्वयं भी मुस्कुराए और औराें के चहरे पर भी मुस्कुराहट लाएं,_*

_*यही जीवन है।*_

_*आनंद ही जीवन है।।*_
🌺🌺🌺💢राधेयय्य्य🎉🌺🌺🌺

+523 प्रतिक्रिया 43 कॉमेंट्स • 901 शेयर

कामेंट्स

Dinesh Shankar Tripathi Sep 3, 2017
मुसकुराने से अंतरआत्मा काे खुशी िमलती है

Ravish Kumar Sep 3, 2017
SGM PUBLIC SCHOOL KRISHNA NAGAR SAHAWAR GATE KASGANJ

Raghunath Prasad Sep 3, 2017
अच्छे विचार अच्छी सोच के साथ हंसते हुए बोलो राधे राधे जय

Radhe Shyam Mamgain Sep 3, 2017
हरिऊँ नारायण हरी सब प्रभु ईच्छा अब क्या कहें। न कहें तो ज्यादा अच्छा।।

kalavati Rajput May 23, 2019

+278 प्रतिक्रिया 70 कॉमेंट्स • 52 शेयर
Swami Lokeshanand May 23, 2019

देखो, मनुष्य के तीन बड़े दुर्धर्ष शत्रु हैं, काम, क्रोध और लोभ। "तात तीन अति प्रबल खल काम क्रोध अरु लोभ" सूर्पनखा काम है, ताड़का क्रोध और मंथरा लोभ है। ताड़का पर प्रहार रामजी ने किया, मंथरा पर शत्रुघ्नजी ने, सूर्पनखा पर लक्षमणजी ने। उनका असली चेहरा पहचानते ही, किसी को मारा गया, किसी को सुधारा गया, एक को भी छोड़ा नहीं गया। संकेत है कि, सावधान साधक, कैसी भी वृत्ति उठते ही, तुरंत पहचान ले, कि कौन वृत्ति साधन मार्ग में मित्र है और कौन शत्रु। शत्रु पक्ष की वृत्ति का, विजातीय वृत्ति का, आसुरी वृत्ति का, उसे जानते ही, बिना अवसर दिए, बिना एक पल भी गंवाए, तुरंत यथा योग्य उपाय करना ही चाहिए। एक और विशेष बात है, ये कामादि प्रथम दृष्ट्या किसी आवरण में छिप कर ही वार करते हैं, कभी कर्तव्य बन कर, कभी सुंदर बन कर, सुखरूप बनकर, आवश्यकता बनकर, मजबूरी बनकर आते हैं। सबके सामने आते हैं, कच्चा साधक उलझ जाता है, सच्चा साधक सुलझ जाता है। अभी अभी लक्षमणजी के कारण सूर्पनखा का वास्तविक रूप प्रकट हुआ। अब रामजी मारीच का वास्तविक रूप प्रकट करेंगे। फिर सीताजी रावण का वास्तविक रूप प्रकट कर देंगी। भगवान खेल खेल में खेल खेलते हैं। एक तो उनकी यह लीला एक खेल है। इस खेल में तीन और खेल खेले गए। अयोध्या में खेल हुआ गेंद का, रामजी हार गए, भरतजी को जिता दिया। चित्रकूट में खेल हुआ, अयोध्या को गेंद बनाया गया, संदेह हार गया, स्नेह जीत गया। आज पंचवटी में भी एक खेल खेला जा रहा है, यहाँ सूर्पनखा को गेंद बनाया गया है, वासना हार रही है, उपासना जीत रही है। "देखो ठुकराई जाती है पंचवटी में इक बाला। भैया दो राजकुमारों ने उसको गेंद बना डाला॥ दुनिया में दुनियावालों को जो ठोकर रोज लगाती है। वो राम और रामानुज के पैरों की ठोकर खाती है॥" आप के पास भी सूर्पनखा आए तो ठोकर से ही स्वागत करना। अब विडियो देखें- सूर्पनखा निरूपण https://youtu.be/AMqSUheFr2c

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 36 शेयर

+153 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 65 शेयर

+265 प्रतिक्रिया 24 कॉमेंट्स • 180 शेयर

+91 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 18 शेयर

+689 प्रतिक्रिया 122 कॉमेंट्स • 407 शेयर

+60 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 98 शेयर

+600 प्रतिक्रिया 107 कॉमेंट्स • 1075 शेयर
Uma Sood May 23, 2019

+13 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 17 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB