नवरात्रि कलश स्थापना।

नवरात्रि कलश स्थापना।

आपने देखा होगा कि लोग कोई भी शुभ काम करते हैं तो उसमें कलश जरुर बैठाते हैं चाहे वह शुभ काम शादी विवाह हो या भगवान की पूजा। गृह प्रवेश हो नए कारोबार की शुरुआत करनी हो कलश बैठाए बिना काम आरंभ नहीं होता है।

कलश धातु के बर्तन का या मिट्टी के बर्तन का हो सकता है। लेकिन हर कलश के ऊपर एक कच्चा नारियल जरुर होता है जो लाल रंग के कपड़े में लिपटा होता है।

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कलश के ऊपर नारियल क्यों रखा जाता है और नारियल रखने के फायदे हैं या नुकसान। नुकसान की बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि कलश पर रखा नारियल कई बार एक छोटी सी गलती से आपके लिए धन, स्वास्थ्य की हानि के साथ दुःख का कारण भी हो सकता है।

लेकिन कलश पर नारियल रखने के नियम का ध्यान रखेंगे तो यह आपके लिए हर तरह से शुभ और लाभदायक रहेगा। कलश पर इस तरह नारियल रखना हानिकारक होता है।

शास्त्रों में कलश पर नारियल रखने के विषय में बताया गया है कि "अधोमुखं शत्रु विवर्धनाय, ऊर्धवस्य वस्त्रं बहुरोग वृध्यै। प्राचीमुखं वित विनाशनाय, तस्तमात‍् शुभं संमुख्यं नारीलेलंष्।"

यानी कलश पर नरियल रखते समय इस बा का ध्यान रखना चाहिए कि नारियल का मुख नीचे की तरफ नहीं हो।

नारियल का मुख नीचे होने से शत्रुओं की वृद्घि होती है। नारियल खड़ा करके रखते हैं और उसका मुंह ऊपर की ओर होता है तब रोग बढ़ता है, यानी घर में रहने वाले लोग अधिक बीमार होते हैं।

कलश पर नारियल रखते समय अगर नारियल का मुख पूर्व दिशा की ओर होता है तो आर्थिक हानि होती है यानी धन की हानि के योग बनते रहते हैं।

लाभ और उन्नति के लिए इस तरह कलश पर रखें नारियल?

शास्त्रों के अनुसार कलश स्थापना किसी भी शुभ काम को मंगलमय तरीके से पूर्ण होने के लिए किया जाता है। इसलिए कलश में सभी तीर्थों को आमंत्रित किया जाता है।

नारियल लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है। इसलिए कलश के ऊपर नारियल रखते हैं। इसका उद्देश्य यह होता है कि कलश में स्थित देवता और तीर्थ मंगलकारी हों और देवी लक्ष्मी की कृपा से उन्नति बनी रहे।

लेकिन कलश स्थापन का यह उद्देश्य तभी सफल होता है जब कलश पर रखा हुआ नारियल का मुख पूजन करने वाले व्यक्ति की ओर हो।

छिले हुए नारियल को आपने देखा होगा तो पाया होगा कि इसके सिरे पर तीन काले बिंदू होते हैं। माना जाता है कि यह नारियल के आंख और मुख हैं। नारियल का मुख उस दिशा में होता है जिधर से वह पेड़ से लगा होता है। इसलिए अब से कलश बैठाते समय इन बातों का ध्यान रखना लाभप्रद होगा।

Like Jyot Pranam +127 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 169 शेयर

कामेंट्स

Ashwani kumar Pandit ji Sep 18, 2017
Jai ho kul devi maa samlasan devi ji ki. Jai mata di. Jai mata di. Jai mata di. Jai mata di. Jai mata di.

Ramdevsinh D Zala Sep 18, 2017
navratri pujavidhi bataye please puja me kya kya Lena he konsa mantra jap karna he ye bataye sir ji

Dinesh Kumar Dixit Dixit Sep 18, 2017
जानकारी देंने के लिए धन्यवाद आप का सदैव मङ्गल हो

🍃🌿के पी एस🌿🍃 Sep 18, 2017
शुभसँध्या जी भगवान आपकी मनोकामना पूर्ण करें आप स्वस्थ रहें खुश रहे । जयश्रीकृष्ण

dheeraj patel Dec 14, 2018

🌷हे बंसी वाले🌷

🌷🙏🌲 किसी को भी ना तू उदास रखना🙏🌷🌲

🌷🙏सब को चरणों के पास रखना
गम ना आये किसी को भी 🙏🌷

🌷🌲प्रभु सब पर अपनी दया का मान रखना🌲🌷

🌹जय श्री👏 राधे 👏राधे👏

Lotus Dhoop Belpatra +31 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 14 शेयर
Devendra. angira Dec 14, 2018

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aparana Shukla Dec 14, 2018

Jyot Pranam Flower +6 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर
anju joshi Dec 14, 2018

Pranam Flower Like +22 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 21 शेयर

शीघ्रता जी की पोस्ट अपने फॉलो टैब में उन्हें फॉलो अवश्य करें।
फॉलो करें- https://www.mymandir.com/u/sheeghrtatripathiji

Pranam Flower Jyot +70 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 31 शेयर
🌓 VEERUDA 🌗 Dec 14, 2018

🌴🌿🌴 Subah Sandhya Ji Jai Shree Radhe Krishna Ji Everyone 🌼🙏🌼

Lotus Dhoop Belpatra +16 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
RenuSuresh Dec 14, 2018

Pranam +3 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 14 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB