आज का संस्कृत शब्द।

आज का संस्कृत शब्द।

+130 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 87 शेयर

कामेंट्स

KAMAL Dec 29, 2017
payaz ka sanskrit pallandoo

anju joshi Aug 4, 2020

+163 प्रतिक्रिया 20 कॉमेंट्स • 89 शेयर
🌹kriti 🌹 Aug 4, 2020

+95 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 38 शेयर

🍁🏯🌺👏🕉️👏🌺🏯🍁 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌈 *दिनांक 04 अगस्त 2020* 🌈 *दिन - मंगलवार* 🌈 *विक्रम संवत - 2077 (गुजरात - 2076)* 🌈 *शक संवत - 1942* 🌈 *अयन - दक्षिणायन* 🌈 *ऋतु - वर्षा* 🌈 *मास - भाद्रपद (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - श्रावण)* 🌈 *पक्ष - कृष्ण* 🌈 *तिथि - प्रतिपदा रात्रि 09:54 तक तत्पश्चात द्वितीया* 🌈 *नक्षत्र - श्रवण सुबह 08:11 तक तत्पश्चात धनिष्ठा* 🌈 *योग - सौभाग्य 05 अगस्त प्रातः 05:16 तक तत्पश्चात शोभन* 🌈 *राहुकाल - शाम 03:48 से शाम 05:26 तक* 🌈 *सूर्योदय - 06:14* 🌈 *सूर्यास्त - 19:14* 🌈 *दिशाशूल - उत्तर दिशा में* 🌈 *व्रत पर्व विवरण - गायत्री पुरश्चरण प्रारंभ, ऋक् श्रावणी, मंगलागौरी पूजन* ✨ *विशेष - प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌻 *तुलसी के बीज का चमत्कार* 🌻 ⏩ *तुलसी के बीज पीसकर रखो । एक चुटकी बीज रात को भिगा दो । सुबह खा लो । इससे ....* 🌿 *पेट की तकलीफ़ भागेगी ।* 🌿 *यादशक्ति बढेगी ।* 🌿 *बुढ़ापे की कमजोरी से बचोगे ।* 🌿 *heart attack नहीं होगा ।* 🌿 *High Blood Pressure भी नहीं होगा ।* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🍁 *वास्तु शास्त्र* 🏡 *यदि घर में लक्ष्मीजी की फोटो लगानी हो तो ऐसी फोटो लगाए, जिसमें वे बैठी हुई हों। जिस फोटो में लक्ष्मीजी खड़ी हुई दिखाई देती हैं, वह फोटो घर में लगाने से बचना चाहिए।* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌻 *देवी महालक्ष्मी* 🌻 ⏩ *लक्ष्मी ने इंद्र को बताई थीं ये बातें, किन लोगों के घर में करती हैं निवास* 🚩 *देवी महालक्ष्मी की कृपा से धन और सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। लक्ष्मी कृपा के लिए पूजा-अर्चना के साथ-साथ हमारे घर का वातावरण भी शुद्ध रहना चाहिए। लक्ष्मी को कैसा वातावरण चाहिए, इस संबंध में देवी लक्ष्मी और इंद्र की एक कथा प्रचलित है। यहां जानिए उस प्रचलित कथा के आधार पर किन लोगों के घर में लक्ष्मी निवास करती हैं।* 🚩 *कथा के अनुसार प्राचीन समय में महालक्ष्मी असुरों के यहां निवास करती थीं, लेकिन एक दिन वे देवराज इंद्र के यहां पहुंचीं और उन्होंने कहा कि इंद्र, मैं आपके यहां निवास करना चाहती हूं।* 🚩 *इंद्र ने आश्चर्य से कहा कि हे देवी, आप तो असुरों के यहां बड़े आदरपूर्वक रहती हैं। वहां आपको कोई कष्ट भी नहीं है। मैंने पूर्व में आपसे कितनी बार निवेदन किया कि आप स्वर्ग पधारें, लेकिन आप नहीं आईं। आज आप बिन बुलाए कैसे मेरे यहां पधारी हैं? कृपया इसका कारण मुझे बताइएं।* 🚩 *देवी लक्ष्मी ने कहा कि हे इंद्र, कुछ समय पहले असुर भी धर्मात्मा हुआ करते थे, वे अपने सभी कर्तव्य निभाते थे। अब असुर अधार्मिक हो गए हैं। इसीलिए मैं अब वहां नहीं रह सकती हूं।* 🚩 *जिस स्थान पर प्रेम की जगह ईर्ष्या-द्वेष और क्रोध-कलह आ जाए, अधार्मिक, दुर्गुण और बुरी आदतें आ जाए, वहां मैं नहीं रह सकती। असुरों में ये सब बातें आ गई हैं। इसीलिए उन्हें छोड़कर मैं तुम्हारे यहां रहने आईं हूं।* 🚩 *तब इंद्र ने पूछा कि देवी वे और कौन-कौन से दोष हैं? जहां आप निवास नहीं करती हैं।* 🚩 *लक्ष्मीजी ने कहा कि जो लोग विवेक और धर्म की बात नहीं करते हैं, जो ज्ञानी लोगों का अपमान करते हैं, उन लोगों के घर में मैं निवास नहीं करती हूं। जिस घर में पाप, अधर्म, स्वार्थ रहता हैं, वहां लक्ष्मी नहीं रहती है।* 🚩 *जो लोग गुरु, माता-पिता और बड़ों का सम्मान नहीं करते, लक्ष्मी उनके यहां निवास नहीं करती।* 🚩 *जो संतान अपने माता-पिता से मुंहजोरी करते हैं, उनका अनादर करते हैं, बिना वजह वाद-विवाद करते हैं, लक्ष्मी ऐसे लोगों पर कृपा नहीं बरसाती।* 🚩 *महालक्ष्मी ने कहा कि मैं उन लोगों के यहां निवास करती हूं जो धार्मिक हैं। जिस घर के सदस्य पवित्र मन वाले हैं, जो सभी को आदर-सम्मान देते हैं। जिस घर के सदस्य किसी को धोखा नहीं देते, लक्ष्मी उनके यहां निवास करती है। जो व्यक्ति दूसरों की मदद करते हैं, गरीबों को दान देते हैं, अपना कार्य पूर्ण ईमानदारी से करते हैं, लक्ष्मी कृपा प्राप्त करते हैं।* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~ 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩☀!! श्री हरि: शरणम् !! ☀ 🍃🎋🍃🎋🕉️🎋🍃🎋🍃 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+162 प्रतिक्रिया 30 कॉमेंट्स • 47 शेयर

+23 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+20 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Shuchi Singhal Aug 4, 2020

+72 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 141 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB