Manoj manu
Manoj manu Sep 15, 2020

🚩🙏🌹जय श्री राम जी 🌹🌿🙏 🌹🌿आपदामपहर्तारं दातारां सर्वसम्पदाम्। 🌿लोकाभिरामं श्रीरामं भूयो-भूयो नामाम्यहम्॥ जीवन (जीवित प्राणियों) के सभी प्रकार के प्रतिकूल परिस्थितियों और पीड़ा को कौन निकालता है, जो सभी तरह के पक्ष, सम्मान और धन प्रदान करता है, जिन्हें देखकर दुनियाँ बहुत प्रसन्न महसूस करती है, उन श्रीराम के लिए, मैं बार-बार अपना सर झुकाता हूँ। 🌹रामाय रामभद्राय रामचन्द्राय वेधसे। 🌿रघुनाथाय नाथाय सीतायाः पतये नमः॥ श्री रामभद्रा को, श्री रामचंद्र को, वेदों के स्वामी के लिए, रघु कबीले के प्रमुख को, सभी संसारों के स्वामी और सीता के भगवान के लिए, भगवान राम को मेरा नमस्कार है। 🌹.नीलाम्बुजश्यामलकोमलाङ्गं। --सीतासमारोपितवामभागम। 🌿पाणौ महासायकचारूचापं नमामि रामं रघुवंशनाथम॥ कमल की तरह नील रंग और कोमल कौन है, जिनके शरीर के अंग बहुत नरम हैं, जिनकी बाईंओर सीता जो उनकी अपनी प्रिय पत्नी है, जिनके हाथों में एक दिव्य तीर और एक सुंदर धनुष है, मैं उस राजवंश के भगवान श्री राम से प्रार्थना करता हूं।🌹🌿प्रभु श्री रामचंद्र जी सदा सहाय करें,सदा मंगल प्रदान करें जय सियाराम जी 🌹🙏

+528 प्रतिक्रिया 107 कॉमेंट्स • 116 शेयर

कामेंट्स

Renu Singh Sep 16, 2020
Shubh Ratri Vandan Bhai Ji 🙏🌹 Ganesh Ji Ki Anant kripa Aap aur Aàpke Pariwar pr Sadaiv Bni rhe 🌹Aap Khush aur Swasth rahein Bhai ji 🙏🌹

prem chand shami Sep 16, 2020
जय जय श्री राधे कृष्णा 🙏🙏 शुभ मंगलमय रात्रि की शुभकामनायें प्रणाम भाई जी 💐🙏 प्रभू श्री बाँके बिहारी जी की कृपा से आपका हर पल सुखद और सुन्दर हो

r h Bhatt Sep 16, 2020
Om gam ganpatay namah Shubh ratri ji Vandana ji Jai Shri Ganesh

Suraj Singh rajput Sep 16, 2020
🌷🌹🥀 Radhe Radhe jai shri KRISHNA Shubh ratri ki shubhkamnaye Ji 💐🌹 🌴

Mamta Chauhan Sep 16, 2020
Radhe radhe ji 🌷🙏 Shubh ratri vabdan bhai ji aapka har pal mangalmay ho radha rani kripa sda aap or aapke priwar pr bni rhe 🌷🙏🌷🙏🌷

Narayan Tiwari Sep 16, 2020
🙏|| ऊँ गं नम:🚩जय गणपति || 🙏 गणेशजी अकेले एेसे भगवान माने जाते हैं, जो मंदिर के पूजा स्थल से लेकर घर के हर कोने में विराजमान रहते हैं! प्रथम पूज्य को कोई गणेशा कहता है, कोई गजानन तो कोई बप्पा। लेकिन श्रद्धालु लोग इन्हें विघ्नहर्ता कहते हैं।

Sagar ji.. 🙏 Sep 16, 2020
🌹 जय श्रीराम जय श्री राधे कृष्णा 🌹🙏 शुभ रात्रि स्नेह वंदन भाई जी🙏 🌹भगवान् जी की महिमा सदा बनी रहे अपने के🌸🌷राधे राधे🌸🌷🌹

🌸🌿 preeti Jain 🌿🌸 Sep 16, 2020
*स्वामी विवेकानंद कहते हैं* *"कि तुम मुझे पसंद करो या मुझसे नफरत, दोनो ही मेरे पक्ष में हैं।"* *"क्योंकि अगर तुम मुझको पसंद करते हो तो, मैं आपके दिल में हूँ,* *और अगर तुम मुझ से नफरत करते हो , तो मैं आपके दिमाग में हूं !!"* *"पर रहूंगा आप के पास ही*" 🌹🌹🌹🌹🌹🌹--ओम श्री गणेशाय नमः रिद्धि सिद्धि के दाता का कृपा सदा आप पर बना रहे शुभ रात्रि वंदन 🙏🙏🍧🍧🌹🙏

Ansouya Sep 16, 2020
जय श्री राम जय श्री राम 🙏 जय बजरंगबली हनुमान 🙏 शुभ रात्रि वनदन भइया जी 🙏🌹 आप सदा स्वस्थ और खुश रहें भईया जी 🙏 🙏🙏

Alka Devgan Sep 16, 2020
Om Ganeshaye Namah 🙏 God bless you and your family aapka har pal mangalmay n shubh ho bhai ji Ganpati bappa aap sabhi ko kushiyan pradhan karein bhai ji aap sabhi par sada kirpa karein shubh ratri vandan bhai ji Ganpati bappa moriya 🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Seema Sharma. Himachal (chd) Sep 17, 2020
ओम् नमो भगवते वासुदेवाय 🙏🌹 नारायण नारायण नारायण 🌷🌷🌷🌹🌹🌞 सुबह की शुरुआत थोड़ा मुस्कुरा कर कीजिए 😊😊😊 शुभ प्रभात जी 🙏 राम राम जी 🙏🌹🙏

Sumitra Soni Sep 17, 2020
राम राम 🙏🏻🌹भाई विष्णु भगवान और विश्वकर्मा का आशीर्वाद है आप और आपके परिवार पर सदैव बना रहे विश्वकर्मा जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं भाई आपका हर पल खुशियों भरा हो🌹🙏🏻

Babita Sharma Sep 17, 2020
राधे राधे भाई 🙏हरि ॐ नमो भगवते वासुदेवाय आपके पितृगणो का आशीर्वाद आपके कुल के समस्त लोगों पर बना रहे। सर्वपितृ अमावस्या शुभ हो🙏

Sukanya Sharan Sep 17, 2020
Aapko Vishawakarma Puja ki Hardik Shubh Kamnaye Bhai ji 🙏🌹Ishwar aapko sada Sukhi aur Khush rakhe 🙏🌹

Sukanya Sharan Sep 17, 2020
Aapko Vishawakarma Puja ki Hardik Shubh Kamnaye Bhai ji 🙏🌹Ishwar aapko sada Sukhi aur Khush rakhe 🙏🌹

sita Sep 17, 2020
जय श्री हरि राधे राधे भाई राधे कृष्णा भगवान विष्णु माता लक्ष्मी की कृपा आप पर आपके परिवार पर सदैव बनी रहे आपका आने वाला हर पल खुशियों से भरा रहे शुभ रात्रि वंदन भैया🙏🙏🌸🌸🌸🌱🌱🌱🌱🍫🍫👌👌👌👌👌 श्रीमन नारायण नारायण हरि हरि भजमन नारायण नारायण हरि हरि लक्ष्मी नारायण नारायण हरि हरि जो नारायण नाम जपत है हो जाता है भवसागर से पारायण लक्ष्मी नारायण नारायण हरि हरि👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏👏🌷🌷🌷🌷

Neha Sharma Sep 22, 2020

*14 प्रकार के मुर्दे।* रामचरितमानस की सुंदर रचना जब अंगद रावण के पास सन्धि प्रस्ताव लेकर गए थे तब वार्ता के दौरान रावण से बोले कि तू तो मुर्दा है, तुझे मारने से क्या फायदा? रावण बोला मैं जिंदा हूँ मुर्दा कैसे? अंगद बोले सिर्फ सांस लेनेवालों को जिंदा नही कहते सांस तो लुहार का भाता भी लेता है, तब अंगद ने 14 प्रकार के मुर्दों के लक्षण बताये। _अंगद द्वारा रावण को बताई गई ये बातें आज के दौर में भी लागू होती हैं।_ 👉 यदि किसी व्यक्ति में इन 14 दुर्गुणों में से एक दुर्गुण भी आ जाता है तो वह मृतक समान हो जाता है। विचार करें कहीं यह दुर्गुण हमारे पास तो नहीं.... और हमें मृतक समान माना जाय। 1. *वाम मार्गी-* जो व्यक्ति पूरी दुनिया से उल्टा चले। जो संसार की हर बात के पीछे नकारात्मकता खोजता हो। नियमों, परंपराओं और लोक व्यवहार के खिलाफ चलता हो, वह वाम मार्गी कहलाता है। ऐसे काम करने वाले लोग मृत समान माने गए हैं। 2. *कंजूस-* अति कंजूस व्यक्ति भी मरा हुआ होता है। जो व्यक्तिधर्म के कार्य करने में, आर्थिक रूप से किसी कल्याण कार्य में हिस्सा लेने में हिचकता हो। दान करने से बचता हो। ऐसा आदमी भी मृत समान ही है। 3. *कामवश-* जो व्यक्ति अत्यंत भोगी हो, कामवासना में लिप्त रहता हो, जो संसार के भोगों में उलझा हुआ हो, वह मृत समान है। जिसके मन की इच्छाएं कभी खत्म नहीं होती और जो प्राणी सिर्फ अपनी इच्छाओं के अधीन होकर ही जीता है, वह मृत समान है। वह अध्यात्म का सेवन नही करता। सदैव वासना में लीन रहता है। 4. *अति दरिद्र-* गरीबी सबसे बड़ा श्राप है। जो व्यक्ति धन, आत्म-विश्वास, सम्मान और साहस से हीन हो, वो भी मृत ही है। अत्यंत दरिद्र भी मरा हुआ हैं। दरिद्र व्यक्ति को दुत्कारना नहीं चाहिए, क्योकि वह पहले ही मरा हुआ होता है। बल्कि गरीब लोगों की मदद करनी चाहिए। 5. *विमूढ़-* अत्यंत मूढ़ यानी मूर्ख व्यक्ति भी मरा हुआ होता है। जिसके पास विवेक, बुद्धि नहीं हो। जो स्वयं निर्णय ना ले सके। हर काम को समझने या निर्णय को लेने में किसी अन्य पर आश्रित हो, ऐसा व्यक्ति भी जीवित होते हुए मृत के समान ही है। मुढ़ को आत्मा अध्यात्म समझता नही। 6. *अजसि-* जिस व्यक्ति को संसार में बदनामी मिली हुई है, वह भी मरा हुआ है। जो घर, परिवार, कुटुंब, समाज, नगर या राष्ट्र, किसी भी ईकाई में सम्मान नहीं पाता है, वह व्यक्ति मृत समान ही होता है। 7. *सदा रोगवश-* जो व्यक्ति निरंतर रोगी रहता है, वह भी मरा हुआ है। स्वस्थ शरीर के अभाव में मन विचलित रहता है। नकारात्मकता हावी हो जाती है। व्यक्ति मुक्ति की कामना में लग जाता है। जीवित होते हुए भी रोगी व्यक्ति स्वस्थ्य जीवन के आनंद से वंचित रह जाता है। 8. *अति बूढ़ा-* अत्यंत वृद्ध व्यक्ति भी मृत समान होता है, क्योंकि वह अन्य लोगों पर आश्रित हो जाता है। शरीर और बुद्धि, दोनों असक्षम हो जाते हैं। ऐसे में कई बार स्वयं वह और उसके परिजन ही उसकी मृत्यु की कामना करने लगते हैं, ताकि उसे इन कष्टों से मुक्ति मिल सके। 9. *सतत क्रोधी-* 24 घंटे क्रोध में रहने वाला भी मृत समान ही है। हर छोटी-बड़ी बात पर क्रोध करना ऐसे लोगों का काम होता है। क्रोध के कारण मन और बुद्धि, दोनों ही उसके नियंत्रण से बाहर होते हैं। जिस व्यक्ति का अपने मन और बुद्धि पर नियंत्रण न हो, वह जीवित होकर भी जीवित नहीं माना जाता है। पूर्व भव के संस्कार लेकर यह जीव क्रोधी होता है। क्रोधी अनेक जीवों का घात करता है। और नरक गामी होता है। 10. *अघ खानी-* जो व्यक्ति पाप कर्मों से अर्जित धन से अपना औरपरिवार का पालन-पोषण करता है, वह व्यक्ति भी मृत समान ही है। उसके साथ रहने वाले लोग भी उसी के समान हो जाते हैं। हमेशा मेहनत और ईमानदारी से कमाई करके ही धन प्राप्त करना चाहिए। पाप की कमाई पाप में ही जाती है। और पाप की कमाई से नीच गोत्र निगोद की प्राप्ति होती है। 11. *तनु पोषक-* ऐसा व्यक्ति जो पूरी तरह से आत्म संतुष्टि और खुद के स्वार्थों के लिए ही जीता है, संसार के किसी अन्य प्राणी के लिए उसके मन में कोई संवेदना ना हो तो ऐसा व्यक्ति भी मृत समान है। जो लोग खाने-पीने में, वाहनों में स्थान के लिए, हर बात में सिर्फ यही सोचते हैं कि सारी चीजें पहले हमें ही मिल जाएं, बाकि किसी अन्य को मिले ना मिले, वे मृत समान होते हैं। ऐसे लोग समाज और राष्ट्र के लिए अनुपयोगी होते हैं। शरीर को अपना मानकर उसमें रत रहना मूर्खता है क्यों की यह शरीर विनाशी है। पूर्ण गलन से सहित है। नष्ट होनेवाला है। 12. *निंदक-* अकारण निंदा करने वाला व्यक्ति भी मरा हुआ होता है। जिसे दूसरों में सिर्फ कमियां ही नजर आती हैं। जो व्यक्ति किसी के अच्छे काम की भी आलोचना करने से नहीं चूकता। ऐसा व्यक्ति जो किसी के पास भी बैठे तो सिर्फ किसी नाकिसी की बुराई ही करे, वह इंसान मृत समान होता है। पर की निंदा करने से नीच गोत्र का बन्ध होता है। 13. *परमात्म विमुख-* जो व्यक्ति परमात्मा का विरोधी है, वह भी मृत समान है। जो व्यक्ति ये सोच लेता है कि कोई परमतत्व है ही नहीं। हम जो करते हैं, वही होता है। संसार हम ही चला रहे हैं। जो परमशक्ति में आस्था नहीं रखता है, ऐसा व्यक्ति भी मृत माना जाता है। 14. *श्रुति, संत विरोधी-* जो संत, ग्रंथ, पुराण का विरोधी है, वह भी मृत समान होता है। श्रुत और सन्त ब्रेक का काम करते है। अगर गाड़ी में ब्रेक ना हो तो वह कही भी गिरकर एक्सीडेंट हो सकता है वैसे समाज को सन्त के जैसे ब्रेक की जरूरत है। नही तो समाज में अनाचार फैलेगा। जौं अस करौं तदपि न बड़ाई। मुएहि बधें नहि कछु मनसाई।। कौल कामबस कृपिन बिमूढ़ा। अति दरिद्र अजसी अति बूढ़ा।। सदा रोगबस संतत क्रोधी। बिष्नु बिमुख श्रुति संत बिरोधी।। तनु पोषक निंदक अघ खानी। जीवत सव सम चौदह प्रानी।। 🚩🚩🚩*जय श्री राम*🚩🚩🚩 🌷🙏*जय श्री राधेकृष्णा*🙏🌷

+301 प्रतिक्रिया 43 कॉमेंट्स • 118 शेयर
Meena Vaishnav Sep 22, 2020

+18 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 66 शेयर
Heena Thacker Sep 22, 2020

+11 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 13 शेयर
Raj Sep 22, 2020

+33 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 29 शेयर
Vijay Yadav Sep 22, 2020

+32 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 17 शेयर

राम राम जी🙏🙏🙏🙏 #धन की परिभाषा जब कोई बेटा या बेटी ये कहे कि मेरे माँ बाप ही मेरे भगवान् है…. तो समझ लीजियेगा...... यही है “धन” जब कोई माँ बाप अपने बच्चों के लिए ये कहे कि ये हमारे कलेजे की कोर हैं…. ये है “धन” शादी के 20 साल बाद भी अगर पति पत्नी एक दूसरे से कहें । I Love you… ये है “धन” कोई सास अपनी बहु के लिए कहे कि ये मेरी बहु नहीं बेटी है और कोई बहु अपनी सास के लिए कहे कि ये मेरी सास नहीं मेरी माँ है…… ये है “धन” जिस घर में बड़ो को मान और छोटो को प्यार भरी नज़रो से देखा जाता है…… ये है “धन” जब कोई अतिथि कुछ दिन आपके घर रहने के पशचात् जाते समय दिल से कहे की आपका घर …घर नहीं मंदिर है…. ये है “धन” ऐसी दुआ हैं मेरी कि आपको ऐसे ”परम धन” की प्राप्ति हो। और हम एक परिवार सा लगे… खुश रहिये ……..

+112 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 80 शेयर
Vijay Yadav Sep 22, 2020

+24 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 4 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
HEMANT JOSHI Sep 21, 2020

+11 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 39 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB