Kamlesh Mishra
Kamlesh Mishra Oct 4, 2017

सुविचार मित्रो

सुविचार मित्रो

+83 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 165 शेयर

+117 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 312 शेयर
Shanti Pathak Oct 29, 2020

**जय श्री राधे कृष्णा ** **शुभरात्रि वंदन जी** 🙏 It's my *Pleasure*🙏 बहुत दिनो से *Pleasure* गाडी का उपयोग नही होने से, वह पडी पडी खराब होने जैसी स्थिति में पहुंच रही थी। विचार आया *Olx पे बेच दे* Add डाला किमत *Rs 30000/-* बहुत आफर आये 15 से 28 हजार तक। मुझे लगा यदि 28 मिल रहे तो, कोई 29-30 देगा भी। एक का 29 का प्रस्ताव आया। उसे भी waiting में रखा। एक सुबह काल आया, उसने कहा *साहब नमस्कार 🙏 , आपकी गाडी का add देखा। पसंद भी आयी है। परंतु 30 जमाने का बहुत प्रयत्न किया, 24 ही इकठ्ठा कर पाया हूँ। बेटा इंजिनियरिंग के अंतिम वर्ष में है। बहुत मेहनत किया है उसने। कभी पैदल, कभी सायकल, कभी बस, कभी किसी के साथ। सोचा अंतिम वर्ष तो वह अपनी गाडी से ही जाये। आप कृपया Pleasure मुझे ही दिजीएगा। नयी गाडी दुगनी किमत से भी ज्यादा है। मेरी हैसियत से बहुत ज्यादा है। थोडा समय दिजीए। मै पैसो का इंतजाम करता हूँ। मोबाइल बेच कर कुछ रुपये मिलेंगें। परंतु हाथ जोड़कर कर निवेदन है साहब, Pleasure मुझे ही दिजीएगा।* मैने औपचारिकता में मात्र *Ok* 👌 बोलकर फोन रख दिया। कुछ विचार मन में आये। वापस काल बैक किया और कहा *आप अपना मोबाइल मत बेचिए, कल सुबह केवल 24 हजार लेकर आईए,गाडी आप ही ले जाईए वह भी मात्र 24 में ही* मेरे पास *29* का प्रस्ताव होने पर भी 24 में किसी अपरिचित व्यक्ति को मै *Pleasure* देने जा रहा था। सोचा उस परिवार में आज कितने *Pleasure* या आनंद का निर्माण हुआ होगा। कल उनके घर *Pleasure* आएगी। और मुझे ज्यादा नुकसान भी नहीं हो रहा था। ईश्वर ने बहुत दिया है और सबसे बडा धन *समाधान* है जो कूट-कूटकर दिया है। अगली सुबह उसने कम से कम 6-7 बार फोन किया *साहब कितने बजे आऊ, आपका समय तो नही खराब होगा।पक्का लेने आऊं, बेटे को लेकर या अकेले आऊ। पर साहब *Pleasure* *गाडी किसी को और नही दिजीएगा।* वह 2000,500,200,100,50 के नोटों का संग्रह लेकर आया, साथ में बेटा भी था। ऐसा लगा, पता नही कहा कहा से निकाल कर या मांग कर या इकठ्ठा कर यह पैसे लाया है। एकदम आतुरता और कृतज्ञता से *Pleasure* को देख रहा था। मैने उसे दोनो चाबियां दी, कागज दिये। बेटा गाडी पर विनम्रतापूर्वक हाथ फेर रहा था। रुमाल निकास कर पोछ रहा था। उसनें पैसे गिनने कहा, मैने कहा *आप गिनकर ही लाये है, कोई दिक्कत नहीं।* जब जाने लगे, तो मैने उन्हे 500 का एक नोट वापस करते कहाँ, *घर जाते मिठाई लेते जाएगा*। सोच यह थी कि कही तेल के पैसे है या नही। और यदि है तो मिठाई और तेल दोनो इसमें आ जायेंगें। आँखों में कृतज्ञता के आंसु लिये उसने हमसे विदा ली और अपनी *Pleasure* ले गया। जाते समय बहुत ही आतुरता और विनम्रता से झुककर अभिवादन किया। बार बार आभार व्यक्त किया। हम लोग सहज भाव में कहते है *it's my pleasure* परंतु आज *Pleasure* बेचते समय ही पता चला कि वास्तव में *Pleasure* होता क्या है। जीवन में कुछ व्यवहार करते समय नफा नुकसान नहीं देखना चाहिए। अपने माध्यम से किसी को क्या सचमें कुछ आनंद प्राप्त हुआ यह देखना भी होता है। करबद्ध निवेदन है कि ईश्वर ने आपको कुछ देने लायक बनाया हो या नही, किसी एक व्यक्ति को सुख देने या खुशी देने लायक तो बनाया ही है। आज सब्जी वाली किसी बुजुर्ग महिला या पुरुष को अपनी ओर से केवल 5 या 10 रुपये अधिक देकर देखिएगा, वही *Pleasure* न आये तो कहना। *छोटी छोटी खुशियाँ बाँटे।*

+172 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 186 शेयर
Neha Sharma, Haryana Oct 29, 2020

*मेथी के फायदे, उपयोग और नुकसान – *मेथी का इस्तेमाल सब्जी से लेकर पराठे तक में किया जाता है। जहां यह खाने में स्वादिष्ट है, वहीं आयुर्वेद के नजरिए से भी इसके कई फायदे हैं। भारत में सदियों से इसके पत्ते और दानों को आयुर्वेदिक औषधि के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। इससे स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में मदद मिल सकती है। वहीं, अगर कोई बीमार है, तो इसे गुण ठीक होने के मदद कर सकते हैं। हां, अगर किसी को कोई गंभीर समस्या है, तो डॉक्टरी इलाज को प्राथमिकता दें। इस लेख में हम मेथी का उपयोग व मेथी खाने के फायदे नुक़सान के बारे में जाने *मेथी एक प्रकार की खाद्य सामग्री है, जिसे कई तरह से आहार में उपयोग किया जा सकता है। जब इसके हरे पत्तों का सेवन सब्जी के रूप में किया जाता है। वहीं, भोजन बनाते समय इसके दानों का भी उपयोग किया जाता है। इसका पौधा दो-तीन फुट लंबा होता है और इसकी फली में छोटे-छोटे पीले-भूरे रंग के सुगंधित दाने होते हैं। भूमध्य क्षेत्र, दक्षिण यूरोप और पश्चिम एशिया में इसकी खेती बहुतायत में होती है। मेथी को भारत में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। जहां हिंदी, गुजराती, मराठी, बंगाली और पंजाबी में इसे मेथी कहते हैं, वहीं संस्कृत में इसका नाम मेथी का हे *मेथी के फायदे – 1. मधुमेह से राहत *मधुमेह के मरीजों को खान-पान पर खासतौर से ध्यान देना चाहिए। ऐसे लोग अपनी डाइट में मेथी के दाने शामिल कर सकते हैं। इस बात की पुष्टि करने के लिए एक वैज्ञानिक शोध किया गया, जिसके मुताबिक, मेथी के बीज का सेवन करने से रक्त में शुगर की मात्रा को नियंत्रित किया जा सकता है। साथ ही यह टाइप-2 मधुमेह के रोगियों में इंसुलिन प्रतिरोध को भी कम करने का काम कर सकता है (1)। वहीं, एक दूसरे शोध के मुताबिक, मधुमेह पर इसका लाभदायक असर इसमें मौजूद हाइपोग्लिसेमिक प्रभाव के कारण हो सकता है। इसे रक्त में शुगर की मात्रा को कम करने के लिए जाना जाता है (2)। इसलिए, सामान्य रक्त शुगर वालों को इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से बचना चाहिए। 2. कोलेस्ट्रॉल के लिए *शरीर में कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने से कई समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। ऐसे में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए मेथी का उपयोग अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। दरअसल, एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, मेथी के दानों में नारिंगेनिन नामक फ्लेवोनोइड होता है। यह रक्त में लिपिड के स्तर को कम करने का काम कर सकता है। साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जिस कारण मरीज का उच्च कोलेस्ट्रॉल कम हो सकता है (3)। इसलिए, कहा जा सकता है कि मेथी के बीज के लाभ कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए हो सकते हैं। 3. अर्थराइटिस का दर्द *उम्र बढ़ने के साथ-साथ जोड़ों में सूजन होने लगती है, जिस कारण असहनीय दर्द हो सकता है। इसे जोड़ों का दर्द या फिर अर्थराइटिस कहा जाता है। इससे निपटने के लिए मेथी रामबाण नुस्खा है, जिसे सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है। मेथी में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। ये गुणकारी तत्व जोड़ों की सूजन को कम करके अर्थराइटिस के दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। मेथी में आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए, मेथी के औषधीय गुण से हड्डियों व जोड़ों को जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं, जिससे हड्डियां स्वस्थ व मजबूत रह सकती हैं 4. हृदय के लिए *हृदय बेहतर तरीके से काम कर सके, उसके लिए मेथी का उपयोग करने की सलाह दी जाती है। जो लोग नियमित रूप से मेथी का सेवन करते हैं, उन्हें दिल का दौरा पड़ने की आशंका कम हो सकती है और अगर दौरा पड़ भी जाए, तो जानलेवा स्थिति से बचा जा सकता है। विभिन्न शोधों में पाया गया है मृत्यु दर के पीछे दिल का दौरा एक प्रमुख कारण होता है। यह तब होता है, जब हृदय की धमनियों में रुकावट आ जाती है। वहीं, मेथी के दाने इस स्थिति से बचाने में सक्षम हो सकते हैं। अगर किसी को दिल का दौरा पड़ भी जाए, तो मेथी ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को पैदा होने से रोकने का काम कर सकती है। हृदयाघात के दौरान ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की स्थिति जानलेवा साबित हो सकती है। साथ ही मेथी के बीज शरीर में रक्त प्रवाह को संतुलित रखने में सहायक हो सकते हैं, जिस कारण धमनियों में किसी भी प्रकार की रुकावट पैदा नहीं हो सकती (6)। ऐसे में मेथी दाना खाने के फायदे में हृदय को स्वस्थ रखना भी शामिल है। 5. मासिक धर्म में फायदेमंद *महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। ऐसी स्थिति में मेथी खाने से क्या होता है, अगर यह सोच रहे हैं, तो बता दें कि इस स्थिति में मेथी दाने से बना पाउडर राहत दिलाने में कारगर काम कर सकते हैं। साथ ही मेथी के दाने मासिक धर्म से जुड़ी अन्य समस्याओं से राहत दिलाने में भी मदद कर सकते हैं। मेथी के दानों में एंटीइंफ्लेमेटरी, एनाल्जेसिक, एंटीस्पास्मोडिक व ड्यूरेटिक गुण पाए जाते हैं। वैज्ञानिक शोधों में इस बात की पुष्टि की गई है कि मेथी के ये गुणकारी तत्व मासिक धर्म में होने वाली हर तरह की पीड़ा से राहत दिलाने का काम कर सकते हैं, जिसे मेडिकल भाषा में डिसमेनोरिया (Dysmenorrhea) कहा जाता है (7)। ध्यान रहे कि मासिक धर्म की स्थिति में इसे डॉक्टर की सलाह पर कम मात्रा में ही लेना चाहिए। 6. कैंसर *कैंसर एक घातक रोग है, इसलिए इस समस्या से बचे रहना ही बेहतर है। इसके लिए मेथी के बीज के लाभ नजर आ सकते हैं। एक मेडिकल रिसर्च के अनुसार, मेथी में एंटी कैंसर प्रभाव पाए जाते हैं, जो कैंसर की समस्या को दूर रखने का काम कर सकते हैं (8)। हां, अगर कोई कैंसर से पीड़ित है, तो उसे बिना किसी देरी के डॉक्टर से इलाज करवाना चाहिए। 7. बढ़ता है स्तन-दूध *प्रसव के बाद नवजात के लिए मां के दूध से बेहतर कुछ नहीं होता है। ऐसे में स्तनपान करवाने वाली महिला मेथी या मेथी के बीज से बनी हर्बल चाय का सेवन कर सकती है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद एक शोध में भी कहा गया है कि स्तन दूध की गुणवत्ता व मात्रा को बढ़ाने के लिए मेथी का सेवन किया जा सकता है (9)। फिलहाल, इस पर और शोध किए जाने की जरूर है, ताकि पता चल सके कि मेथी इस संबंध में किस तरह काम करती है। 8. वजन घटाने के लिए *अगर कोई वजन कम करना चाहता है, तो इसके लिए मेथी का उपयोग सहायक सिद्ध हो सकता है। दरअसल, मेथी शरीर में फैट को जमा होने से रोकने का काम कर सकती है। इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो आहार को पचाने के साथ ही भूख को शांत रखने का काम कर सकता है। इससे वजन को बढ़ने से रोका जा सकता है (10)। इसके अलावा, मेथी में विभिन्न प्रकार के पॉलीफेनॉल्स पाए जाते हैं, जिससे वजन कम हो सकता है (11)। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि मेथी खाने के फायदे वजन घटाने के लिए हो सकते हैं। 9. रक्तचाप में सुधार *उच्च रक्तचाप कई तरह की बीमारियों का कारण बन सकता है, जिनमें हृदय की समस्या भी शामिल है। मेथी के औषधीय गुण इस समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, मेथी में एंटीहाइपरटेंसिव प्रभाव पाया जाता है, जो रक्तचाप की समस्या को कम करने का काम कर सकता है (12)। 10. स्वस्थ किडनी *कई वैज्ञानिक शोधों में इस बात का दवा किया गया है कि किडनी के लिए मेथी फायदेमंद है। मेथी को अपने भोजन में शामिल करने से किडनी अच्छी तरह काम कर सकती है। मेथी के दानों में पॉलीफेनोलिक फ्लेवोनोइड पाया जाता है, जो किडनी को बेहतर तरीके से काम करने में मदद करता है। साथ ही यह किडनी के आसपास एक रक्षा कवच का निर्माण करता है, जिससे इसके सेल नष्ट होने से बच जा सकते हैं। इस बात की पुष्टि एनसीबीआई की ओर से उपलब्ध एक शोध से होती है (13)। 11. सूजन को कम करने के लिए *सूजन और इससे होने वाली समस्या को दूर करने में मेथी के बीज फायदेमंद हो सकते हैं। दरअसल, मेथी के बीज में लिनोलेनिक और लिनोलिक एसिड पाया जाता है। इस एसिड के पेट्रोलियम ईथर के अर्क में एंटीइंफ्लेमेटरी गतिविधि पाई जाती है, जो सूजन से छुटकारा दिलाने का काम कर सकती है। इस बात का जिक्र हमने ऊपर अर्थराइटिस वाले भाग में भी किया है। यह जानकारी एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक वैज्ञानिक शोध में उपलब्ध है (14)। इसलिए, मेथी दाने के फायदे में सूजन से राहत पाना भी शामिल है। 12. टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाने के लिए *अगर कोई यह सोच रहा है कि मेथी खाने से क्या होता है, तो यहां हम बता दे कि इसके सेवन से टेस्टोस्टेरोन में वृद्धि हो सकती है। एक शोध के मुताबिक, मेथी के गुण हार्मोनल के रेगुलेशन में उपयोगी माने गए हैं। मेथी शरीर में एस्ट्रोजन के उत्पादन को रोककर टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाती है। पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ने से मांसपेशियों का विकास होता है और शारीरिक क्षमता में वृद्धि होती है (15)। 13. त्वचा के लिए *मेथी को त्वचा के लिए भी लाभकारी माना जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर पब्लिश एक वैज्ञानिक अध्ययन से पता चलता है कि मेथी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीरिंकल, मॉइस्चराइजिंग और स्किन स्मूदिंग गुण पाए जाते हैं (16)। इसलिए मेथी के लाभ त्वचा पर नजर आ सकते हैं। 14. बालों के लिए *मेथी के उपयोग से बालों का झड़ना रुक सकता है। एक मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, मेथी के बीज में प्रोटीन के भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो बालों के लिए जरूरी होता है। इससे गंजेपन, बालों का पतला होना और बालों के झड़ने का इलाज करने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा, मेथी में लेसिथीन भी पाया जाता हैं, जो बालों को प्राकृतिक रूप से मजबूत बनाने के साथ ही मॉइस्चराइज करने का काम कर सकता है। यह रूसी को भी दूर रख सकता है (10)। ऐसे में मेथी पाउडर के फायदे बालों पर नजर आ सकते हैं। *पढ़ते रहें यह आर्टिकल *अब हम जानेंगे कि मेथी में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व होते हैं और उनकी मात्रा कितनी होती है। *मेथी के पौष्टिक तत्व – *मेथी में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं, जिसे समझने के लिए हम एक टेबल का उपयोग कर रहे हैं (17)। पोषक तत्व मूल्य प्रति 100 ग्राम पानी 8.84 g ऊर्जा 323 g प्रोटीन 23 g टोटल लिपिड (फैट) 6.41 g कार्बोहाइड्रेट 58.35 g फाइबर 24.6 g कैल्शियम, Ca 176 mg आयरन, Fe 33.53 mg मैग्नीशियम, Mg 191 mg फास्फोरस, P 296 mg पोटैशियम, K 770 mg सोडियम, Na 67 mg जिंक, Zn 2.5 mg मैंगनीज, Mn 1.228 mg सेलेनियम, Se 6.3 µg विटामिन सी 3 mg थायमिन 0.322 mg राइबोफ्लेविन 0.366 mg नियासिन 1.64 mg विटामिन बी-6 0.6 mg फोलेट 57 µg विटामिन ए, RAE 3 µg विटामिन ए, IU 60 IU फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 1.46 g *लेख के इस भाग में हम यह बताएंगे कि मेथी खाने का तरीका क्या-क्या हो सकता है। *मेथी का उपयोग – *आयुर्वेद में कहा गया है कि मेथी के दानों की तासीर गर्म होती है। इसका सीधे सेवन करने से फायदे की जगह नुकसान हो सकता है। इसलिए, मेथी के दानों को कुछ समय के लिए पानी में भिगोकर रखना चाहिए, ताकि उसकी गर्माहट कम हो जाए। इसके बाद मेथी के दानों को प्रयोग में लाना चाहिए। *कब और कैसे करें उपयोग: *मेथी के दानों को एक-दो मिनट के लिए मध्यम आंच पर भून लें और फिर इसे सब्जी या फिर सलाद के ऊपर डाल दें। इसे दोपहर या रात के खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं। एक चम्मच मेथी के दानों को रातभर पानी में भिगोकर रखें और अगली सुबह एक गिलास पानी के साथ इनका सेवन करें। जिस पानी में मेथी के दानों को भिगोया था, आप सुबह खाली पेट उसका भी सेवन कर सकते हैं। *मेथी के दानों को रातभर पानी में भिगोकर रखने के बाद एक कपड़े में बांधकर रख दें। कुछ दिन ऐसे ही रखने के बाद मेथी के दाने अंकुरित हो जाएंगे। फिर इसका सुबह सेवन किया जा सकता है। *मेथी के पराठे और रोटियां बनाकर इसका सेवन किया जा सकता है। इसके पराठे को सुबह के नाश्ते में लिया जा सकता है। *मेथी दाने की हर्बल चाय भी पी जा सकती है। पानी में मेथी के दाने डालकर उसे उबाल लें। स्वाद के लिए इसमें नींबू और शहद मिला सकते हैं। इसे सुबह और शाम पिया जा सकता है। कितना करें उपयोग: *मधुमेह जैसी अवस्था में इसे प्रतिदिन 25 से 50 ग्राम तक लिया जा सकता है। फिर भी इसकी सही मात्रा जानने के लिए अपने आहार विशेषज्ञ की सहारा लेना बेहतर होगा (18)। आइए, अब जाने कि लंबे समय तक मेथी को सुरक्षित कैसे रखा जा सकता है। *मेथी को लंबे समय तक सुरक्षित कैसे रखें? – *मेथी के हरे पत्तों को फ्रिज में रखकर कुछ दिनों तक सुरक्षित रखा जा सकता है। इसकी पत्तियों की गिले कपड़े में लपेटकर भी एक-दो दिन तक सुरक्षित रखा जा सकता है। अगर मेथी के बीज है, तो इसे एयर टाइट डिब्बे में डालकर सुरक्षित रखा जा सकता है। स्क्रॉल करें *चलिए, अब जानते हैं कि मेथी से किन-किन लोगों को दूरी बनाकर रखनी चाहिए। *मेथी किन-किन लोगों को नहीं खानी चाहिए – *कुछ लोगो को मेथी के सेवन से बचना चाहिए, जो इस प्रकार है: *कम रक्त शुगर के मरीज को मेथी के सेवन से बचना चाहिए, क्योंंकि इसमें हाइपोग्लिसेमिक प्रभाव होता है (2)। मेथी में एंटीहाइपरटेंसिव प्रभाव पाया जाता है, जो रक्तचाप को कम कर सकता है (12)। इसलिए, जिनके शरीर का रक्तचाप कम है, उन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए। *गर्भवती को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। अगर फिर भी उन्हें मेथी खानी है, तो इस संबंध में डॉक्टर से जरूर बात करें। अब लेख के इस भाग में हम जानेंगे कि मेथी खाना किस प्रकार नुकसानदायक हो सकता है। *मेथी के नुकसान – *इसमें कोई दो राय नहीं कि मेथी के दाने सेहत के लिए लाजवाब हैं। इसे अपने भोजन में शामिल करने से कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, लेकिन इतने फायदों के साथ-साथ इसके नुकसान भी हैं। कुछ मामलों में इसके सेवन से कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। मेथी से नुकसान के बारे में यहां हम विस्तार से बता रहे हैं। *दस्त : हालांकि, पाचन तंत्र के लिए मेथी के दाने अच्छे होते हैं, लेकिन कई बार यह दस्त का कारण भी बन जाते हैं। जरूर से ज्यादा मेथी खाने से पेट खराब हो सकता है और दस्त लग जाते हैं। अगर स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसे खाने से पेट खराब होता है, तो उससे शिशु को भी दस्त लग सकते हैं। इसलिए, ऐसे कोई लक्षण नजर आते ही इसका सेवन बंद कर दें। गर्भाशय संकुचन : जैसा कि इस लेख में पहले बताया गया है कि मेथी दाने की तासीर गर्म होती है। अगर गर्भवती महिला इसका अधिक सेवन करती है, तो समय से पहले गर्भाशय संकुचन जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। मेथी के दानों में ऑक्सीटोसिन होता है, जो गर्भाशय संकुचन का कारण बनता है। इसलिए, गर्भवती महिलाएं मेथी दाने का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें। *एलर्जी : कुछ लोगों को मेथी दाने के सेवन से एलर्जी हो सकती है। यह एलर्जी चेहरे पर सूजन के तौर पर नजर आ सकती है। वहीं, कुछ को शरीर पर रैशेज हो सकते हैं, सांस फूलने जैसी समस्या हो सकती है और कुछ बेहोश तक हो जाते हैं। इसके अलावा, कई लोगों को मेथी के सेवन से छाती में दर्द जैसी शिकायत होने लगती है। यह तासीर में गर्म होती है, इसलिए कुछ लोगों को बवासीर, गैस व एसिडिटी तक की शिकायत हो जाती है (19)। साथ ही अगर कोई किसी बीमारी के लिए दवा खा रहा है, तो वो मेथी के दानों का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर ले। "बच्चों के लिए हानिकारक : बच्चों के लिए मेथी दाने को सुरक्षित नहीं माना गया है। यह तो हम पहले ही बता चुके हैं कि इसे खाने से दस्त लग सकते हैं। वहीं, इसकी हर्बल चाय पीना भी बच्चों के लिए ठीक नहीं है, क्योंकि इससे उनकी मस्तिष्क की क्षमता पर असर पड़ सकता है। इसलिए, बेहतर यही है कि मेथी के सप्लीमेंट्स बच्चों को न दें। अगर देना ही चाहते हैं, तो डॉक्टर की सलाह पर सब्जियों में डालकर दे सकते हैं। बेशक मेथी के दाने दिखने में छोटे-से होते हैं, लेकिन इसके फायदे अनेक हैं, जिनके बारे में आप इस लेख के जरिए जान ही चुके हैं। साथ ही मेथी से नुकसान भी हो सकते हैं, उसकी जानकारी भी आपको यहां मिल चुकी है। इसलिए, अब देरी किए बिना मेथी को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। ध्यान रहे कि इन्हें सीमित और नियमित रूप से खाएं और अच्छी सेहत को प्राप्त करें। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे इस लेख में दिए गए जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। आप स्वास्थ्य से जुड़े स्टाइलक्रेज के अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं। *आइए, अब जान लेते हैं कि मेथी के बीज को लेकर हमारे पाठकों के क्या-क्या सवाल हैं। *अक्सर पूछे जाने वाले सवाल *क्या मेथी को रोज लेना सुरक्षित है? *हां, इसकी सीमित मात्रा को प्रतिदिन लिया जा सकता है। अब इसकी मात्रा कितनी होनी चाहिए, इस बारे में हमने ऊपर लेख में बताया है। साथ ही ध्यान रहे कि प्रत्येक व्यक्ति की शारीरिक क्षमता अलग-अलग होती है। इसलिए, आपको इसकी कितनी मात्रा लेनी चाहिए, इस बारे में आहार विशेषज्ञ से जरूर बात करें। खासकर, अगर कोई बीमारी है, तो उसे डॉक्टर से जरूर पूछना चाहिए। *क्या मेथी को खाली पेट ले सकते हैं? *जी हां, सुबह अंकुरित मेथी के बीज या इससे बनी हर्बल चाय को खाली पेट ले सकते हैं। साथ ही मेथी दानों को रात भर पानी में भिगोकर सुबह ले सकते हैं। *मेथी का असर शुरू होने में कितना समय लगता है? *किसी भी खाद्य पदार्थ या औषधि का असर शुरू होने में कुछ समय लगता है और इनके फायदे भी धीरे-धीरे ही नजर आते हैं। *आप मेथी को जरूरत से ज्यादा लेते हैं, तो क्या होता है? *मेथी दाने के फायदे और नुकसान दोनों है। अगर कोई इसे अधिक मात्रा में लेता है, तो ऊपर बताए गए कुछ नुकसान होने का जोखिम बढ़ जाता है। इनमें निम्न रक्त शुगर और निम्न रक्तचाप जैसी समस्या शामिल हैं। *क्या मेथी दवाओं के साथ परस्पर क्रिया करती है? *कई मामलों में मेथी के सेवन और दवाइयों के बीच प्रतिक्रिया हो सकती है। इसलिए, अगर कोई किसी गंभीर समस्या के लिए दवा ले रहा है, तो इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। *मेथी की तासीर कैसी होती है? *मेथी की तासीर गर्म होती है। इसलिए, इसे रातभर पानी में भिगोकर सुबह सेवन करने की सलाह दी जाती है। *क्या मेथी और शहद साथ में ले सकते हैं? *जी हां, मेथी चूर्ण और शहद को साथ में लिया जा सकता है। मेथी चूर्ण के फायदे भी इसके बीज और पत्तों की तरह हो सकते हैं। *मेथी को भिगोकर खाने से क्या होता है? *मेथी को रातभर भिगोकर रखने से इसकी गर्म तासीर कम हो जाती है। वहीं, मेथी का पानी पीने के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए, बेहतर होगा कि मेथी दानों को जिस पानी में भिगोया जाए, उसे नहीं पीना चाइए *जय श्री राधेकृष्णा*🙏🌸

+180 प्रतिक्रिया 35 कॉमेंट्स • 166 शेयर
Amar jeet mishra Oct 30, 2020

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 46 शेयर
Radha Bansal Oct 29, 2020

+69 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 101 शेयर
आशुतोष Oct 29, 2020

+34 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 107 शेयर

+15 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 29 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB