Pt Vinod Pandey 🚩
Pt Vinod Pandey 🚩 Apr 10, 2021

🌞 ~ आज का हिन्दू पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 10 अप्रैल 2021 ⛅ दिन - शनिवार ⛅ विक्रम संवत - 2077 ⛅ शक संवत - 1942 ⛅ अयन - उत्तरायण ⛅ ऋतु - वसंत  ⛅ मास - चैत्र (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - फाल्गुन) ⛅ पक्ष - कृष्ण  ⛅ तिथि - चतुर्दशी 11 अप्रैल प्रातः 06:03 तक तत्पश्चात अमावस्या ⛅ नक्षत्र - पूर्व भाद्रपद सुबह 06:46 तक तत्पश्चात उत्तर भाद्रपद ⛅ योग - ब्रह्म दोपहर 01:35 तक तत्पश्चात इन्द्र ⛅ राहुकाल - सुबह 09:32 से सुबह 11:06 तक ⛅ सूर्योदय - 06:25  ⛅ सूर्यास्त - 18:55  ⛅ दिशाशूल - पूर्व दिशा में ⛅ व्रत पर्व विवरण - मासिक शिवरात्रि   💥 विशेष - चतुर्दशी और अमावस्या के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38) 🌷 सोमवती अमावस्या पर विशेष मंत्र 🌷 💵 जिनको पैसो की कमजोरी है वह तुलसी माता की १०८ प्रदिक्षणा करें। और श्री हरि.... श्री हरि.... श्री हरि.... श्री हरि.... ‘श्री’ माना सम्पदा, ‘हरि’ माना भगवान की दया पाना। तो गरीबी चली जायेगी। 💥 विशेष ~ 12 अप्रैल 2021 सोमवार को सूर्योदय से सुबह 08:01 तक) सोमवती अमावस्या है। 🌷 नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए 🌷  ➡ 11 अप्रैल, रविवार को प्रातः 06:04 से 12 अप्रैल, सोमवार को सुबह 08:01 तक अमावस्या है। 🏡 घर में हर अमावस अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें। इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी। अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं। 🌷 अमावस्या 🌷 🙏🏻 अमावस्या के दिन जो वृक्ष, लता आदि को काटता है अथवा उनका एक पत्ता भी तोड़ता है, उसे ब्रह्महत्या का पाप लगता है (विष्णु पुराण) 🌷 धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए 🌷 🔥 हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें। 🍛 सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा। 🔥 विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें। 🔥 आहुति मंत्र 🔥 🌷 १. ॐ कुल देवताभ्यो नमः 🌷 २. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः 🌷 ३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः 🌷 ४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः 🌷 ५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः 🌐http://www.vkjpandey.in 🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻 https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/JUHz5Z8J6yYHqEmBW2JjXx

🌞 ~ आज का हिन्दू पंचांग ~ 🌞
⛅ दिनांक 10 अप्रैल 2021
⛅ दिन - शनिवार
⛅ विक्रम संवत - 2077
⛅ शक संवत - 1942
⛅ अयन - उत्तरायण
⛅ ऋतु - वसंत 
⛅ मास - चैत्र (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - फाल्गुन)
⛅ पक्ष - कृष्ण 
⛅ तिथि - चतुर्दशी 11 अप्रैल प्रातः 06:03 तक तत्पश्चात अमावस्या
⛅ नक्षत्र - पूर्व भाद्रपद सुबह 06:46 तक तत्पश्चात उत्तर भाद्रपद
⛅ योग - ब्रह्म दोपहर 01:35 तक तत्पश्चात इन्द्र
⛅ राहुकाल - सुबह 09:32 से सुबह 11:06 तक
⛅ सूर्योदय - 06:25 
⛅ सूर्यास्त - 18:55 
⛅ दिशाशूल - पूर्व दिशा में

⛅ व्रत पर्व विवरण - मासिक शिवरात्रि
 
💥 विशेष - चतुर्दशी और अमावस्या के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

🌷 सोमवती अमावस्या पर विशेष मंत्र 🌷
💵 जिनको पैसो की कमजोरी है वह तुलसी माता की १०८ प्रदिक्षणा करें। और श्री हरि.... श्री हरि.... श्री हरि.... श्री हरि.... ‘श्री’ माना सम्पदा, ‘हरि’ माना भगवान की दया पाना। तो गरीबी चली जायेगी।
💥 विशेष ~ 12 अप्रैल 2021 सोमवार को सूर्योदय से सुबह 08:01 तक) सोमवती अमावस्या है।

🌷 नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए 🌷
 ➡ 11 अप्रैल, रविवार को प्रातः 06:04 से 12 अप्रैल, सोमवार को सुबह 08:01 तक अमावस्या है।
🏡 घर में हर अमावस अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें। इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी। अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं।

🌷 अमावस्या 🌷
🙏🏻 अमावस्या के दिन जो वृक्ष, लता आदि को काटता है अथवा उनका एक पत्ता भी तोड़ता है, उसे ब्रह्महत्या का पाप लगता है (विष्णु पुराण)

🌷 धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए 🌷
🔥 हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें।
🍛 सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा।
🔥 विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें।
🔥 आहुति मंत्र 🔥
🌷 १. ॐ कुल देवताभ्यो नमः
🌷 २. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः
🌷 ३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः
🌷 ४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः
🌷 ५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः
🌐http://www.vkjpandey.in

🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻

https://t.me/OnlineMandir

🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳
लिंक- 👇🏻
https://chat.whatsapp.com/JUHz5Z8J6yYHqEmBW2JjXx

+25 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 11 शेयर

कामेंट्स

जितेन्द्र दुबे Apr 10, 2021
🌹🌹🌹🚩🌹🥀जय श्री मंगलमूर्ति गणेशाय नमः 🌺🌹💐🚩🌹🌺 शुभ प्रभात वंदन🌺🌹 राम राम जी 🌺🚩🌹मंदिर के सभी भाई बहनों को राम राम जी परब्रह्म परमात्मा आप सभी की मनोकामना पूर्ण करें 🙏 🚩🔱🚩प्रभु भक्तो को सादर प्रणाम 🙏 🚩🔱 🕉️ हं हनुमते नमः ॐ शं शनिश्चराय नमः ॐ हं हनुमते नमः ॐ शं शनिश्चराय नमः 🚩🙏🚩ऊँ रामेश्वराय नमः🌺🚩 ऊँ उमामहेश्वराभ्यां नमः🌺 ऊँ राम रामाय नमः 🌻🌹ऊँ सीतारामचंद्राय नमः🌹 ॐ राम रामाय नमः🌹🌺🌹 ॐ हं हनुमते नमः 🌻ॐ हं हनुमते नमः🌹🥀🌻🌺🌹ॐ शं शनिश्चराय नमः 🚩🌹🚩ऊँ नमः शिवाय 🚩🌻 जय श्री राधे कृष्णाजी 🌹राम भक्त हनुमान जी महाराज श्री शनिदेव महाराज की कृपा दृष्टि आप सभी पर हमेशा बनी रहे 🌹 आप का हर पल मंगलमय हो 🚩जय श्री राम 🚩🌺हर हर महादेव🚩राम राम जी 🥀शुभ प्रभात स्नेह वंदन💐🌹🌺 शुभ शनिवार🌺 हर हर महादेव 🔱🚩🔱🚩हर हर नर्मदे हर हर नर्मदे 🚩🔱🚩🔱🚩 हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🙏🙏🙏🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹

Babulal patel Apr 10, 2021
Acharya g 🙏🙏🙏🙏🙏🌷 Om namo Bhagvate Vashudevay namah 🌷 jay Shree Radhe Radhe Krishna 🌷🚩💓

Ameet Apr 10, 2021
हर हर महादेव जय शिव शंभू

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄 #सुप्रभातम 🌄 🗓 आज का #पञ्चाङ्ग 🗓 🌻सोमवार, १० मई २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०५:३९ सूर्यास्त: 🌅 ०६:५३ चन्द्रोदय: 🌝 २९:११ चन्द्रास्त: 🌜१७:४८ अयन 🌕 उत्तराणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: 🍁 ग्रीष्म शक सम्वत: 👉 १९४३ (प्लव) विक्रम सम्वत: 👉 २०७८ (राक्षस) मास 👉 वैशाख पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 चतुर्दशी (२१:५५ तक) नक्षत्र 👉 अश्विनी (२०:२६ तक) योग 👉 आयुष्मान् (२१:४० तक) प्रथम करण 👉 विष्टि (०८:४१ तक) द्वितीय करण 👉 शकुनि (२१:५५ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 मेष चंद्र 🌟 मेष मंगल 🌟 मिथुन (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 वृष (उदित, पूर्व, मार्गी) गुरु 🌟 कुम्भ (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 वृष (उदय, पश्चिम, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 ११:४६ से १२:४१ अमृत काल 👉 १२:२१ से १४:०८ विजय मुहूर्त 👉 १४:२९ से १५:२३ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:४७ से १९:११ निशिता मुहूर्त 👉 २३:५२ से २४:३४ राहुकाल 👉 ०७:०८ से ०८:५० राहुवास 👉 उत्तर-पश्चिम यमगण्ड 👉 १०:३२ से १२:१३ होमाहुति 👉 केतु (२०:२६ तक) दिशाशूल 👉 पूर्व अग्निवास 👉 पृथ्वी (२१:५५ तक) भद्रावास 👉 स्वर्गलोक (०८:४१ तक) चन्द्रवास 👉 पूर्व 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - अमृत २ - काल ३ - शुभ ४ - रोग ५ - उद्वेग ६ - चर ७ - लाभ ८ - अमृत ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - चर २ - रोग ३ - काल ४ - लाभ ५ - उद्वेग ६ - शुभ ७ - अमृत ८ - चर नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 उत्तर-पूर्व (दर्पण देखकर अथवा खीर का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️〰️〰️〰️ तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ देव प्रतिष्ठा मुहूर्त प्रातः ०९:०३ से १०:४३ तक आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज २०:२६ तक जन्मे शिशुओ का नाम अश्विनी नक्षत्र के द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (चे, चो, ला) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम भरणी नक्षत्र के प्रथम एवं द्वितीय चरण अनुसार क्रमश (ली, लू) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त मेष - २८:१२ से ०५:४५ वृषभ - ०५:४५ से ०७:४० मिथुन - ०७:४० से ०९:५५ कर्क - ०९:५५ से १२:१७ सिंह - १२:१७ से १४:३६ कन्या - १४:३६ से १६:५३ तुला - १६:५३ से १९:१४ वृश्चिक - १९:१४ से २१:३४ धनु - २१:३४ से २३:३७ मकर - २३:३७ से २५:१८ कुम्भ - २५:१८ से २६:४४ मीन - २६:४४ से २८:०८ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त चोर पञ्चक - ०५:२७ से ०५:४५ शुभ मुहूर्त - ०५:४५ से ०७:४० रोग पञ्चक - ०७:४० से ०९:५५ शुभ मुहूर्त - ०९:५५ से १२:१७ मृत्यु पञ्चक - १२:१७ से १४:३६ अग्नि पञ्चक - १४:३६ से १६:५३ शुभ मुहूर्त - १६:५३ से १९:१४ रज पञ्चक - १९:१४ से २०:२६ शुभ मुहूर्त - २०:२६ से २१:३४ चोर पञ्चक - २१:३४ से २१:५५ शुभ मुहूर्त - २१:५५ से २३:३७ रोग पञ्चक - २३:३७ से २५:१८ शुभ मुहूर्त - २५:१८ से २६:४४ मृत्यु पञ्चक - २६:४४ से २८:०८ रोग पञ्चक - २८:०८ से २९:२६ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज का दिन आपके लिए आशा से अधिक फायदेमंद रहेगा। घर एवं बाहर आश्चर्यजनक घटनाएं घटित होंगी। आज जहाँ आप हानि की संभावना रखेंगे वहां से भी लाभ मिलेगा। कार्य क्षेत्र पर आरंभ में थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन बाद में स्थिति अनुकूल बनने लगेगी कई साधनो से एक साथ धन लाभ होगा। विरोधी भी आपकी कार्यकुशलता की प्रशंशा करेंगे सामाजिक क्षेत्र पर मान बढ़ेगा परन्तु गृहस्थ में इसके विपरीत वातावरण रहने से होत्साहित हो सकते है। परिजन आज आपकी बात का जल्दी से विश्वास नहीं करेंगे। सेहत की अनदेखी भारी पड़ सकती है। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आपका आज का दिन प्रतिकूल रहेगा। जिस भी कार्य को करने का प्रयास करेंगे उसमे ही विलंब के साथ कुछ ना कुछ कमी रहेगी। सहकर्मी भी आपके ऊपर छींटाकशी करेंगे जिससे माहौल गरम रहेगा। आज आपकी विचारधारा किसी से भी मेल नही खायेगी जी कारण अन्य लोगो से तालमेल बैठाने में असुविधा रहेगी। घर मे भी भाई बंधुओ से वैचारिक मतभेद के चलते कलह होगी। घर के बुजुर्गो का व्यवहार भी निराश करने वाला रहेगा। आज किसी भी महत्त्वपूर्ण कार्य मे निवेश ना करें हानि की संभावना अधिक है। विपरितलिंगीय के प्रति सम्मानजनक दृष्टिकोण रखें। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज का दिन आपको राज समाज से लाभ के साथ-सातः मान-सम्मान भी दिलाएगा। कारोबारी लोग रुके हुए कार्य सहायता मिलने से पूर्ण कर सकेंगे। प्रतिस्पर्धा भी कम रहने से लाभ के आसार बढ़ेंगे। लेन-देन के व्यवहारों से भी निश्चित समय पर धन लाभ हो सकेगा। दाम्पत्य जीवन मे खुशियां बढ़ेंगी। सुख के साधनों की वृद्धि पर खर्च करेंगे। सामाजिक जीवन मे आज आप धनी व्यक्तियों जैसी पहचान बनाएंगे। किसी मांगलिक अथवा धार्मिक कार्यक्रम में उपस्थिति देंगे। महिला वर्ग भी आज महात्त्वकांक्षाओ की पूर्ति होने पर उत्साहित रहेंगी। जननेंद्रित संबंधित समस्या रह सकती है पानी अधिक पियें। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज आपके द्वारा बनाई योजनाएं शीघ्र फलीभूत होंगी। सभी महत्त्वपूर्ण कार्य आज सरलता से पूर्ण होने की संभावना अधिक रहेगी। कार्य व्यस्तता के कारण घरेलु कार्यो की अनदेखी पारिवारिक क्लेश का कारण बन सकती है फिर भी धन लाभ होने से संतुष्टि रहेगी। स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा। धर्म कर्म में विश्वास रहने पर भी समय नहीं दे सकेंगे तंत्र मंत्र में अधिक रूचि लेंगे। आज आप सभी को साथ लेकर चलेंगे जिससे अधिक स्नेह एवं सम्मान मिलेगा। परंतु घर के बुजुर्ग एवं अधिकारी वर्ग से सावधान रहें मतभेद के चलते गर्मा-गर्मी हो सकती है। धन लाभ आवश्यकतानुसार हो जाएगा। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आपका आज का दिन भागदौड़ वाला रहेगा। शारीरिक शिथिलता के बाद भी कार्यो की व्यस्तता सेहत ज्यादा खराब करेगी। धन संबंधित कार्य जोड़ तोड़ की नीति से पूर्ण करलेंगे फिर भी आज के दिन से जो आशा रहेगी उसके पूर्ण होने में अंत तक संदेह रहेगा अधूरे रहने की संभावना ज्यादा है। विद्यार्थ वर्ग मध्यान तक पढ़ाई को लेकर गंभीर रहेंगे इसके बाद चंचलता आने लगेगी। घर अथवा कार्य क्षेत्र पर किसी की मामूली गलती से बड़ा नुकसान होने की सम्भवना है सतर्क रहें। महिलाये आज स्वयं को अन्य से अत्यंत बुद्धिमान आंकेंगी। घरेलू सुख मिलने से पहले कुछ कटु अनुभव भी होंगे। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन आपको प्रतिकूल फलदेगा। प्रातःकाल से ही कार्य करने के लिए शारीरिक एवं मानसिक रूप से असमर्थता रहेगी। मन एक साथ दो विषयो में भटकने से असमंजस में फंसे रहेंगे। बार-बार प्रयास करने पर भी निराशा मिलने से मन ऊबने लगेगा। घर एवं बाहर बड़बोलेपन के कारण स्वयं मुसीबत सर लेंगे। धर्म कर्म में आस्था होने पर भी पूजा के समय ध्यान इधर उधर की बातों में ज्यादा भटकेगा। लोग मीठा बोलकर आपकी परोपकार की वृत्ति का नाजायज फायदा उठाएंगे। कार्य व्यवसाय से आर्थिक लाभ होगा परन्तु ज्यादा देर रोक नही सकेंगे। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज के दिन आस-पास का वातावरण अनुकूल मिलने से दिनचर्या सुव्यवस्थित रहेगी कार्यो के प्रति गंभीर रहेंगे जिससे समय से पहले पूर्ण कर लेंगे परन्तु फिर भी आज धन अथवा अन्य लाभ के लिए प्रतीक्षा करनी पड़ेगी। कार्य क्षेत्र पर आपकी व्यवहार कुशलता की प्रशंसा होगी। मध्यान के आस-पास किसी अन्य व्यक्ति के व्यवहार अथवा कार्य की थकान के कारण स्वभाव में झुंझलाहट आएगी। लोगो से कार्य निकालने के लिए खुशामद भी करनी पड़ेगी। गृहस्थ जीवन सामान्य रूप से चलता रहेगा। महिलाये पुरुषों का बराबर सहयोग करेंगी। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज के दिन आपको अधूरे कार्य पूर्ण करने की जल्दी रहेगी जल्दबाजी में कुछ कार्य बिगड़ भी सकते है इसका ध्यान रखें। कार्य क्षेत्र पर अपनी गलती का गुस्सा अन्य व्यक्ति के ऊपर निकालने से गर्मा गर्मी बढ़ेगी फिर भी अधिकांश कार्य समय से थोड़ा आगे पीछे पूर्ण हो ही जायेंगे। धन लाभ की कामना संध्या के समय पूर्ण हो जायेगी लेकिन आशा से कुछ कम ही। नौकरी पेशा जातक आवश्यक कार्य से लंबे अवकाश का मन बना सकते है। धार्मिक कार्यो में भी विशेष रूचि लेंगे टोने टोटको पर प्रयोग कर सकते है। पारिवारिक वातावरण मध्यम रहेगा। अविवाहितो के लिए रिश्ते आएंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज दिन का अधिकांश समय शांति से व्यतीत करेंगे परन्तु बीच-बीच में पारिवारिक उलझने परेशान करेंगी। व्यवसाय में परिश्रम का फल विलम्ब से मिलेगा धन लाभ के लिए अधिक इन्तजार करना पड़ेगा सहकर्मीयो से नम्रता से व्यवहार करें अन्यथा सारा कार्य खुद ही करना पड़ सकता है। आपके व्यवहार में परिवर्तन आने से लोग आश्चर्य करेंगे। सामाजिक क्षेत्र से आय के नवीन साधन बनेंगे उच्चवर्ग के लोगो से लाभदायक जान-पहचान होगी। पारिवारिक जीवन में विषमताओं का अहसास होगा खर्च करने पर भी आर्थिक स्थिति बिगड़ेगी स्वयजनो से वैर विरोध रहेगा फिरभी गंभीर परिणाम नही होंगे। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज के दिन गृहक्लेश के कारण वातावरण कलुषित होने की संभावना अधिक है। भाई-बंधू वैरभाव रखेंगे परिवार के अन्य सदस्य भी आपका पक्ष लेने से बचेंगे। जमीन जायदाद सम्बंधित कार्य जल्दबाजी अथवा भावुकता में ना करें अन्यथा बाद में पश्चाताप होगा। कार्य क्षेत्र पर व्यवसाय में सुधार आने से थोड़ी राहत मिलेगी। नौकरी पेशा वर्ग आज पर्यटन के मूड में रहेंगे। स्वास्थ्य सम्बंधित शिकायते भी रहने से शिथिलता आयेगी। अधिकारी वर्ग से किसी कारण बहस हो सकती है। आस-पड़ोसियों से सम्बन्ध बिगड़ेंगे। यथा सम्भव लंबी यात्रा टालें। चोरी की घटनाएं घट सकती है। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज का दिन आपको पुराने परिश्रम का फल देगा। व्यवहारिकता से बनाये सम्बन्धों से लाभ की संभावनाएं बनेगी। व्यवसाय से भी मध्यान तक प्रचुर मात्रा में लाभ अर्जित कर पाएंगे। परन्तु आज नए कार्यो में निवेश ना करें अन्यथा रुकावट आ सकती है। घरेलु कार्यो में व्यस्तता रहेगी सुखोपभोग की वस्तुओ पर खर्च करना पड़ेगा। रिश्तेदारी में जाना पड़ सकता है। सामाजिक क्षेत्र पर पारिवारिक स्थिति और ज्यादा बेहतर बनेगी। वाणी एवं व्यवहार की मधुरता किसी को भी आसानी से प्रभावित करेगी। धार्मिक क्षेत्र की यात्रा होगी दान पुण्य के अवसर मिलेंगे। सेहत सामान्य रहेगी। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज के दिन का पूर्वार्ध कुछ ख़ास नहीं रहेगा दैनिक कार्य सामान्य गति से चलते रहेंगे। कार्य क्षेत्र पर विलम्ब के कारण व्यवसाय की गति धीमी रहेगी। अधूरे कार्य आज भी लटके रहने की संभावना है। मध्यान के बाद का समय कार्यो से मन भटकायेंगा। आज आप स्वयं को छोड़ इधर-उधर की बातों में ज्यादा रूचि लेंगे लेकिन किसी को बिना मांगे सलाह ना दे अन्यथा सम्मान में कमी आ सकती है दो पक्षो में सुलह कराने में भी आपकी महत्त्वपूर्ण भागीदारी रह सकती है। विरोधी शांत रहेंगे। धन लाभ आज चाह कर भी आशा के अनुकूल नहीं रहेगा। मन बहलाने के लिये अनैतिक कर्म भी कर सकते है। 🌐http://www.vkjpandey.in 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/I0lnC06D3bfGIhcWkRZPBb

+39 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 182 शेयर

🌞 ~ आज का हिन्दू #पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 10 मई 2021 ⛅ दिन - #सोमवार ⛅ विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077) ⛅ शक संवत - 1943 ⛅ अयन - उत्तरायण ⛅ ऋतु - ग्रीष्म  ⛅ मास - वैशाख (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - चैत्र) ⛅ पक्ष - कृष्ण  ⛅ तिथि - चतुर्दशी रात्रि 09:55 तक तत्पश्चात अमावस्या ⛅ नक्षत्र - अश्विनी रात्रि 08:26 तक तत्पश्चात भरणी ⛅ योग - आयुष्मान् रात्रि 09:40 तक तत्पश्चात सौभाग्य ⛅ राहुकाल - सुबह 07:41 से सुबह 09:19 तक ⛅ सूर्योदय - 06:04  ⛅ सूर्यास्त - 19:06  ⛅ दिशाशूल - पूर्व दिशा में 💥 विशेष - चतुर्दशी और अमावस्या के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38) 🌷 नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए 🌷  ➡ 11 मई 2021 मंगलवार को अमावस्या है। 🏡 घर में हर अमावस अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें। इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी। अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं। 🌷 अमावस्या 🌷 🙏🏻 अमावस्या के दिन जो वृक्ष, लता आदि को काटता है अथवा उनका एक पत्ता भी तोड़ता है, उसे ब्रह्महत्या का पाप लगता है (विष्णु पुराण) 🌷 धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए 🌷 🔥 हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें। 🍛 सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा। 🔥 विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें। 🔥 आहुति मंत्र 🔥 🌷 १. ॐ कुल देवताभ्यो नमः 🌷 २. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः 🌷 ३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः 🌷 ४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः 🌷 ५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः 🌐http://www.vkjpandey.in 🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻 https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/I0lnC06D3bfGIhcWkRZPBb

+52 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 104 शेयर

🏵️🕉️शुभ सोमवार 🏵️ शुभ प्रभात् 🕉️🏵️ 2078-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1943 🏵️-आज दिनांक--10.05.2021-🏵️ श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 74.30 - रेखांतर मध्यमान - 75.30 शिक्षा नौकरी आजीविका प्रेम विवाह भाग्योदय (प्रामाणिक जानकारी--प्रभावी समाधान) --------------------------------------------------------- -विभिन्न शहरों के लिये रेखांतर(समय) संस्कार- (लगभग-वास्तविक समय के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर -6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद-8 मिनट कोटा +5 मिनट-------------मुंबई-7 मिनट लखनऊ +25 मिनट------बीकानेर-5 मिनट कोलकाता +54 मिनट-जैसलमेर -15 मिनट ___________________________________ _____________आज विशेष_____________ प्रातःकाल नींद उठने साथ करें निम्न 15 कार्य जीवन में सफलता कदम चूमेगी ___________________________________ आज दिनांक........................10.05.2021 कलियुग संवत्.............................. 5123 विक्रम संवत................................ 2078 शक संवत....................................1943 संवत्सर................................... श्री राक्षस अयन..................................... उत्तरायण गोल............................................. उत्तर ऋतु............................................. ग्रीष्म मास...........................................वैशाख पक्ष.......................................... कृष्ण तिथि.....चतुर्दशी. रात्रि. 9.55 तक / अमावस्या वार...........................................सोमवार नक्षत्र..........अश्विनी. रात्रि. 8.24 तक/ भरणी चंद्र राशि....................मेष. संपूर्ण (अहोरात्र) योग.....आयुष्मान. रात्रि. 9.37 तक / सौभाग्य करण................विष्टि(भद्रा)-प्रातः 8.41 तक करण....... शकुनि. रात्रि. 9.55 तक / चतुष्पद ____________________________________ सूर्योदय..............................5.50.35 पर सूर्यास्त...............................7.05.27 पर दिनमान............................... 13.14.52 रात्रिमान................................10.44.32 चंद्रास्त................अपरा. 5.57.55 PM पर चंद्रोदय.................रात्रि. 5.31.39 AM पर राहुकाल..........प्रातः 7.30 से 9.09 (अशुभ) यमघंट..पूर्वाह्न.10.49 से 12.28 तक(अशुभ) अभिजित....... (मध्या)12.02 से 12.55 तक पंचक..................................आज नहीं है शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास)...............आज है दिशाशूल..................................पूर्व दिशा दोष निवारण........दूध का सेवन कर यात्रा करें __________________________________ ____आज की सूर्योदय कालीन ग्रह स्थिति___ ग्रह स्पष्ट.. राशि.. सूर्य-------मेष 25°26' भरणी, 4 लो चन्द्र -----------मेष 6°9' अश्विनी, 2 चे बुध-----वृषभ 15°31' रोहिणी, 2 वा शुक्र --------वृषभ 7°1' कृत्तिका, 4 ए मंगल-----मिथुन 15°55' आद्रा, 3 ङ बृहस्पति---कुम्भ 5°22' धनिष्ठा, 4 गे शनि ------मकर 19°18' श्रवण, 3 खे राहू-----वृषभ 17°57' रोहिणी, 3 वी केतु -----वृश्चिक 17°57' ज्येष्ठा, 1 नो ___________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)........केवल शुभ कारक * चौघड़िया दिन * अमृत................. प्रातः 5.51 से 7.30 तक शुभ................ प्रातः 9.09 से 10.49 तक चंचल............. अपरा. 3.07 से 3.47 तक लाभ................ अपरा. 3.47 से 5.26 तक अमृत................ .सायं. 5.26 से 7.05 तक * चौघड़िया रात्रि * चंचल......... सायं-रात्रि. 7.05 से 8.26 तक लाभ...... रात्रि. 11.07 से 12.28 AM तक शुभ...... रात्रि. 1.48 AM से 3.09 AM तक अमृत.... रात्रि. 3.09 AM से 4.29 AM तक चंचल.... रात्रि. 4.29 AM से 5.50 AM तक (विशेष - ज्योतिष शास्त्र में एक शुभ योग और एक अशुभ योग साथ साथ आते हैं तो शुभ योग की स्वीकार्यता मानी गई है ) ___________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ____________________________________ जानकारी विशेष -यदि किसी बालक का जन्म गंड मूल(रेवती, अश्विनी, अश्लेषा, मघा, ज्येष्ठा और मूल) नक्षत्रों में होता है तो नक्षत्र शांति को आवश्यक माना गया है.. आज जन्मे बालकों का नक्षत्र के चरण अनुसार नामाक्षर.. 06.55 AM तक--अश्विनी -----2------(चे) 01.39 PM तक--अश्विनी -----3------(चो) 08.24 PM तक--अश्विनी---- 4------(ला) 03.10 AM तक---भरणी-----1------(ली) उपरांत रात्रि तक---भरणी-----2------(लू) (पाया-स्वर्ण ) __________सभी की राशि मेष____________ ____________________________________ ____________आज का दिन______________ व्रत विशेष...................................... नहीं नियमित व्रत............. वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष...................................... नहीं दिन विशेष................. भद्रा. प्रातः 8.41 तक सर्वा.सि.योग....................................नहीं सिद्ध रवियोग................................... नहीं ____________________________________ _____________कल का दिन_____________ दिनांक..............................11.05 2021 तिथि........वैशाख कृष्णा अमावस्या मंगलवार दिन विशेष........देवपितृ अमावस्या(भौमवती) दिन विशेष. कृतिकायां रवि. अपरा.12.32 पर व्रत विशेष..................................... नहीं नियमित व्रत............. वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष...............श्री शुकदेव मुनि जयंती सर्वा.सि.योग.......रात्रि. 11.30 से रात्रि पर्यंत सिद्ध रवियोग..................................नहीं ____________________________________ _____________आज विशेष _____________ सुबह आंखें खुलने के पहले व्यक्ति जाग जाता है। जागने के बाद आंखें खोलता है और आंखें खोलते ही मस्तिष्क भी धीरे-धीरे जागने लगता है। यह समझना जरूरी है कि जिस तरह सूर्योदय के पहले उजाला होने लगता है और फिर बाद में सूर्य दिखाई देता है, ठीक उसी तरह व्यक्ति को पूर्ण चैतन्य होने में वक्त लगता है। ऐसे समय में उसका मस्तिष्क संवेदनशील होता है। ऐसे में कुछ सावधानियां रखना जरूरी है, क्योंकि हमारे मस्तिष्क को सेट होने में कम से कम 2 घंटे का समय लगता है। ऐसे समय में हमें कौनसे कार्य करना चाहिए आओ जानते हैं। 1. नींद से जागते ही आप एकदम से आंखें न खोलें। धीरे-धीरे आंखें खोलें और यह सुनिश्चित करें कि आंखें खुलते ही आपको अच्छी तस्वीर के दर्शन हो या आप सबसे पहले अपनी हथेली के दर्शन करें और भगवान का ध्यान करें। ऐसा करने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। धर्मग्रंथों और ऋषि-मुनियों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि हमारे हाथों की हथेलियों में दैवीय शक्तियां निवास करती हैं। अत: हमारी सुबह यदि शुभ दर्शन और शुभ कार्यों के साथ शुरू होगी तो संपूर्ण दिन भी शुभ ही होगा। अच्छा ये है कि आप अपने बेडरूम में अच्छी तस्वीरें लगाएं। सुगंधित वातावरण रखें। 2. बिस्तर छोड़ते ही हमारी यात्रा प्रारंभ हो जाती है। अत: जो भी स्वर चल रहा हो उसी साइड का पैर निकालकर उठें। 3. उठने के कम से कम एक घंटे तक चुप रहें और इस दौरान शौचादि से मुक्त होने का कार्य ही करें। 4. यदि आप पूजा पाठ करते हैं तो शौचादि से मुक्त के बाद ये कार्य करें या प्रार्थना करें या भजन सुनें। दरअसल, हम जब सो रहे होते हैं या सोकर उठ रहे होते हैं तो वह काल संधि का काल होता है। जैसे सूर्योदय या सूर्यास्त या जैसे रात और दिन या दिन और रात जहां मिल रहे होते हैं, उसे संधि कहते हैं। ऐसे काल में हमारा मस्तिष्क बहुत ही संवेदनशील होता है। ऐसे में यदि वह सकारात्मक बातें ग्रहण करता है, तो जीवन में सकारात्मक घटनाएं ही घटती हैं, लेकिन यदि वह लगातार नकारात्मकता ग्रहण करता है तो जीवन में नकारात्मकता ही घटित होती है। 5. सुबह उठने के बाद सबसे पहले उन कामों के बारे में सोचे जो आपको प्राथमिक रूप से करना है। इस आदत से आप सबसे जरूरी कार्य को निपटाने की क्षमता साहिल करेंगे। जीवन में सफलता हेतु सबसे पहले वही कार्य करना चाहिए जो आपने जीवन में खास है। 6. आंख खुलते ही आप किसी का भी चेहरा देखने से बचें, खासकर किसी ऐसे व्यक्ति, पशु या अन्य का जिसे देखकर आपके मन में अचानक से बुरे भाव आते हो या आपको अच्छा न लगता हो। 7. जो लोग देर से सोते हैं, वे देर से ही उठते हैं या उन्हें मजबूरीवश देर से सोना और जल्दी उठता पड़ता है। ऐसे लोगों की सेहत दिन-ब-दिन गिरती जाती है जिसका उन्हें पता नहीं चलता। वे चिढ़चिढ़े हो जाते हैं और उनके संबंधों पर भी गहरा असर होता है। ऐसे में जरूरी है कि सुबह उठकर शौचादि के बाद 5 मिनट का ध्यान करें या अपने ईष्टदेव की पूजा या प्रार्थना करें। इसके बाद ही कोई दूसरा कार्य करें। इसके साथ ही वे अपने खानपान पर ध्यान दें। 8. सुबह उठते ही अखबार पढ़ने या टीवी देखने से भी मस्तिष्क पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। 9. सुबह उठते ही किसी गांव या पशु का नाम नहीं लेना चाहिए विशेषकर बंदर, कुत्ता या सूअर का नाम तो कभी नहीं लेना चाहिए। 10. सुबह टीवी पर कभी भी लड़ाई-झगड़े, रोने-धोने वाले सीरियल न देखें। इसी तरह रात को सोने से कुछ समय पूर्व भी ऐसा न करें। 11. सुबह उठते ही झगड़ें नहीं और न ही गड़े मुर्दे उखाड़ने का प्रयास करें। यदि आप ऐसा करते रहेंगे तो जिंदगी में कभी भी बेहतर की आशा न करें। 12. सुबह उठकर घर में या दफ्तर जाकर लोगों से कठोर भाषा में बात न करें। अच्छे शब्दों का उपयोग करें। 13. आजकल लोग सुबह उठते ही कम्प्यूटर या मोबाइल से चिपक जाते हैं जिसकी वजह से उनके जीवन पर नकारात्मक असर पड़ता है। उनकी सेहत और संबंध खराब होने लगते हैं, साथ ही समय प्रबंधन भी गड़बड़ा जाता है। 14: सुबह उठते ही कुछ लोग शौच जाए बिना या बिना मंजन किए भोजन करना शुरू कर देते हैं, जो कि बहुत ही गलत है। इससे सेहत पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। बिना शौच जाए खाने से पहले की गंदगी बाहर नहीं निकल पाती और बिना मंजन किए खाने से रातभर की मुंह की गंदगी और पेट में चली जाती है। 15. सभी कार्यों से मुक्त होने के बाद सुबह कम से कम 15 मिनट के लिए योगासन, एरोबिक्स, कसरत, साइकिलिंग या मॉर्निंग वॉक करें। ---------------------------------------------------------- *संकलनकर्त्ता* श्री ज्योतिष सेवाश्रम सेवाश्रम संस्थान (राज) ___________________________________ ___________आज का राशिफल__________ मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो अ) आज आपको खेल-कूद में हिस्सा लेने की ज़रूरत है, क्योंकि चिर यौवन का रहस्य यही है। अगर आपका धन से जुड़ा कोई मामला कोर्ट-कचहरी में अटका था तो आज उसमें आपको विजय मिल सकती है और आपको धन लाभ हो सकता है। अपने स्वभाव को अस्थिर न होने दें- ख़ासतौर पर अपनी पत्नी/पति के साथ- नहीं तो यह घर की शांति पर असर डाल सकता है। आपके महंगे तोहफ़े भी आपके प्रिय के चेहरे पर मुस्कान लाने में नाकाम साबित होंगे, क्योंकि वह उनसे क़तई प्रभावित नहीं होगा/ होगी। कामकाज में थोड़ी मुश्किल के बाद आपको दिन में कुछ अच्छा देखने को मिल सकता है। सामाजिक और धार्मिक समारोह के लिए बेहतरीन दिन है। आपके जीवनसाथी की सुस्ती आपके कई कामों पर पानी फेर सकती है। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज आप ख़ुद अपना इलाज करने से बचें, क्योंकि दवाई पर आपकी निर्भरता बढ़ने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। आप घूमने-फिरने और पैसे ख़र्च करने के मूड में होंगे- लेकिन अगर आपने ऐसा किया तो बाद में आपको पछताना पड़ सकता है। आज का दिन ख़ुशियों से भरा रहेगा, क्योंकि आपका जीवन-साथी आपको ख़ुशी देने का हर प्रयास करेगा। रोमांस आनन्ददायी और काफ़ी रोमांचक रहेगा। अगर आप अपने काम पर ध्यान दें तो क़ामयाबी और प्रतिष्ठा आपकी होगी। इस राशि के लोग बड़े ही दिलचस्प होते हैं। ये कभी लोगों के बीच रहकर खुश रहते हैं तो कभी अकेले में हालांकि अकेले वक्त गुजारना इतना आसान नहीं है फिर भी आज दिन में कुछ समय आप अपने लिए जरुर निकाल पाएंगे। यह दिन आपके सामान्य वैवाहिक जीवन से कुछ हटकर होने वाला है। आपको अपने जीवनसाथी की ओर से कुछ ख़ास देखने को मिल सकता है। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आपकी सबसे बड़ी पूंजी आपकी हँसने-हँसाने की शैली है, अपनी बीमारी को ठीक करने के लिए इसका उपयोग करके देखें। आर्थिक दृष्टि से आज का दिन मिलाजुला रहने वाला है। आज आपको धन लाभ तो हो सकता है लेकिन इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। ऐसा कोई जिसके साथ आप रहते हैं, आज आपके किसी काम की वजह से बहुत झुंझलाहट महसूस करेगा। आपको उदार और स्नेह से भरे प्यार का तोहफ़ा मिल सकता है। कारोबारी जितना हो अपने कारोबार से जुड़ी बातों को किसी से शेयर न करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो आप बड़ी मुश्किल में पड़ सकते हैं। आज आप नए विचारों से परिपूर्ण रहेंगे और आप जिन कामों को करने के लिए चुनेंगे, वे आपको उम्मीद से ज़्यादा फ़ायदा देंगे। यह दिन आपके सामान्य वैवाहिक जीवन से कुछ हटकर होने वाला है। आपको अपने जीवनसाथी की ओर से कुछ ख़ास देखने को मिल सकता है। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आज के दिन मौज-मस्ती की यात्राएं और सामाजिक मेलजोल आपको ख़ुश रखेंगे और सुकून देंगे। जीवन की गाड़ी को अच्छे से चलाना चाहते हैं तो आज आपको पैसे की आवाजाही पर विशेष ध्यान देना होगा। आज आपको दूसरों की ज़रूरतों पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। हालाँकि बच्चों को ज़्यादा छूट देना आपके लिए समस्या खड़ी कर सकता है। उदास न हों, कभी-कभी विफल होना कोई ख़राब बात नहीं है। वह तो ज़िंदगी की ख़ूबसूरती है। प्रतिस्पर्धा के चलते काम-काज की अधिकता थकावट भरी हो सकती है। टीवी, मोबाईल का इस्तेमाल गलत नहीं है लेकिन आवश्यकता से अधिक इनका उपयोग आपके जरुरी समय को खराब कर सकता है। जीवनसाथी की वजह से आपकी कोई योजना या कार्य गड़बड़ हो सकता है; लेकिन धैर्य बनाए रखें। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज भागमभाग भरे दिन के बावजूद आपकी सेहत पूरी तरह दुरुस्त रहेगी। आर्थिक तौर पर सुधार तय है। आपकी ज्ञान की प्यास आपको नए दोस्त बनाने में मददगार साबित होगी। अगर आप खुले दिल से अपनी बात रखें, तो आपकी मोहब्बत आज आपके सामने प्यार के फ़रिश्ते के रूप में आएगी। जो काम आपने किया है, उसका श्रेय किसी और को न ले जाने दें। आप उन लोगों की तरफ़ वादे का हाथ बढ़ाएंगे, जो आपसे मदद की गुहार करेंगे। आपका जीवनसाथी अन्य दिनों की अपेक्षा आपका ज़्यादा ख़्याल रखेगा। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आज आपकी सेहत बढ़िया रहेगी। अगर आप लम्बे वक़्त के लिए निवेश करें, तो अच्छा-ख़ासा फ़ायदा हासिल कर सकते हैं। बच्चों को पढ़ाई पर ध्यान लगाने और भविष्य के लिए योजना बनाने की ज़रूरत है। आज आप कोई दिल टूटने से बचा सकते हैं। व्यावसायिक मीटिंग के दौरान भावुक और बड़बोले न हों- अगर आप अपनी ज़बान पर क़ाबू नहीं रखेंगे तो आप आसानी से अपनी प्रतिष्ठा धूमिल कर सकते हैं। बेवजह की उलझनों से दूर होकर आज आप किसी मंदिर, गुरुद्वारे या किसी भी धार्मिक स्थल पर अपना खाली समय बिता सकते हैं। जीवनसाथी से आपको अपने दिल की सारी बातें करने का भरपूर समय मिलेगा। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते) आज आप खेल-कूद में हिस्सा ले सकते हैं, जो आपको तन्दुरुस्त बनाए रखेगा। विवाहित दंपत्तियों को आज अपनी संतान की शिक्षा पर अच्छा खासा धन खर्च करना पड़ सकता है। आपके परिवार वाले किसी छोटी-सी बात को लेकर राई का पहाड़ बना सकते हैं। बाहरी चीज़ों का अब कोई ख़ास मायने आपके लिए नहीं बचा है, क्योंकि आप ख़ुद को हमेशा प्यार की ख़ुमारी में महसूस करते हैं। आज आपकी कलात्मक और रचनात्मक क्षमता को काफ़ी सराहना मिलेगी और इसके चलते अचानक लाभ मिलने की संभावना भी है। आपको अपने दायरे से बाहर निकलकर ऐसे लोगों से मिलने-जुलने की ज़रूरत है, जो ऊँची जगहों पर हों। आपका वैवाहिक जीवन इससे अधिक रंगों से भरा कभी नहीं रहा है। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आउटडोर खेल आपको आकर्षित करेंगे- ध्यान और योग आपको फ़ायदा पहुँचाएंगे। इस राशि के कारोबारियों को आज अपने घर के उन सदस्यों से दूर रहना चाहिए जो आपसे पैसा मांगते हैं और फिर लौटाते नहीं हैं। बच्चे ज़्यादा वक़्त साथ बिताने की मांग करेंगे- लेकिन उनका बर्ताव सहयोगी और समझदारी भरा होगा। अटके कामों के बावजूद रोमांस और बाहर घूमना-फिरना आपके दिलो-दिमाग़ पर छाया रहेगा। अपने वरिष्ठों को नज़रअंदाज़ न करें। कर्म-काण्ड/हवन/पूजा-पाठ आदि का आयोजन घर मे होगा। ऐसा लगता है कि आपके जीवनसाथी आज आपके ऊपर ख़ास ध्यान देंगे. धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) आज आपको कोई अच्छी ख़बर मिल सकती है। आपका धन कहां खर्च हो रहा है इसपर आपको नजर बनाए रखने की जरुरत है नहीं तो आने वाले समय में आपको परेशानी हो सकती है। आपकी ज्ञान की प्यास आपको नए दोस्त बनाने में मददगार साबित होगी। अचानक मिला कोई सुखद संदेश नींद में आपको मीठे सपने देगा। अगर आप व्यवसाय में किसी नये भागीदार को जोड़ने पर विचार कर रहे हैं, तो यह ज़रूरी होगा कि उससे कोई भी वादा करने से पहले आप सभी तथ्य अच्छी तरह जाँच लें। आज घर में अधिकतर समय आप सो कर गुजार सकते हैं। शाम के वक्त आपको महसूस होगा कि आपने अपना कितना कीमती समय बर्बाद कर दिया। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज दूसरों की इच्छाएँ आपकी अपना ख़याल रखने की इच्छा से टकराएगी- अपने जज़्बात को बांधे नहीं और वे काम करें जिससे आपको सुकून मिले। अगर आप सूझ-बूझ से काम लें, तो आज अतिरिक्त धन कमा सकते हैं। अपने जीवन-साथी के साथ बेहतर समझ ज़िन्दगी में ख़ुशी, सुकून और समृद्धि लाएगी। अगर प्रेमी को अपना जीवनसाथी बनाना चाहते हैं तो उनसे आज बात कर सकते हैं। हालांकि बात करने से पहले आपको उनके मनोभावों को जान लेना चाहिए। दफ़्तर में जिसके साथ आपकी सबसे कम बनती है, उससे अच्छी बातचीत हो सकती है। यात्रा करना फ़ायदेमंद लेकिन महंगा साबित होगा। आप और आपका हमदम एक-दूसरे से आज एक-दूसरे की ख़ूबसूरत भावनाओं का इज़हार कर सकेंगे। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज आपका ऊर्जा-स्तर ऊँचा रहेगा। नया आर्थिक क़रार अंतिम रूप लेगा और धन आपकी तरफ़ आएगा। बच्चे आपको घरेलू काम-काज निबटाने में मदद करेंगे। आज प्यार की मदहोशी में हक़ीक़त और फ़साना मिलकर एक होते मालूम होंगे। इसे महसूस करें। कामकाज में आ रहे बदलावों के कारण आपको लाभ मिलेगा। यात्रा के दौरान आप नयी जगहों को जानेंगे और महत्वपूर्ण लोगों से मुलाक़ात होगी। आज के दिन आपका वैवाहिक जीवन एक ख़ूबसूरत बदलाव से गुज़रेगा। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज आपका व्यक्तित्व इत्र की तरह महकेगा और सबको आकर्षित करेगा। जो लोग अब तक पैसे को बिना वजह ही उड़ा रहे थे आज उन्हें अपने आप पर काबू रखना चाहिए और धन की बचत करनी चाहिए। अपनी जीवन में एक संगीत पैदा करें, समर्पण का मूल्य समझें और हृदय में प्रेम व कृतज्ञता के फूल खिलने दें। आप अनुभव करेंगे कि आपका जीवन अधिक अर्थपूर्ण हो रहा है। आपका महबूब आज आपको बड़ी ख़ूबसूरती से कुछ ख़ास करके चौंका सकता है। कार्यक्षेत्र में आपके कामकाज की सराहना होगी। कई कामों को छोड़कर आप आज अपने पसंदीदा कामों को करने का मन बनाएंगे लेकिन काम की अधिकता के कारण आप ऐसा नहीं कर पाएँगे। आपका जीवनसाथी अन्य दिनों की अपेक्षा आपका ज़्यादा ख़्याल रखेगा। __________________________________ 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ - संकलनकर्त्ता- ज्योतिर्विद् पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ __________________________________

+29 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 57 शेयर

🌞 ~ आज का हिन्दू #पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 09 मई 2021 ⛅ दिन - #रविवार ⛅ विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077) ⛅ शक संवत - 1943 ⛅ अयन - उत्तरायण ⛅ ऋतु - ग्रीष्म  ⛅ मास - वैशाख (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - चैत्र) ⛅ पक्ष - कृष्ण  ⛅ तिथि - त्रयोदशी शाम 07:30 तक तत्पश्चात चतुर्दशी ⛅ नक्षत्र - रेवती शाम 05:29 तक तत्पश्चात अश्विनी ⛅ योग - प्रीति रात्रि 08:44 तक तत्पश्चात आयुष्मान् ⛅ राहुकाल - शाम 05:29 से शाम 07:07 तक  ⛅ सूर्योदय - 06:05  ⛅ सूर्यास्त - 19:05  ⛅ दिशाशूल - पश्चिम दिशा में ⛅ व्रत पर्व विवरण - प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि 💥 विशेष - त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34) 🌷 आँखे जलना, मधुमेह, अनिद्रा,बच्चों को कद बढ़ाना 🌷 🍃 बेलपत्ते सुखा के पाउडर बना लो और उसमे सम भाग सौंफ व धनिया पाउडर मिला दो। १० ग्राम रात को पानी में भिगा दो व सुबह घोंट के पी लो। जिन बच्चों को कद बढ़ाना हो, वे इसमें १ काली मिर्च पीस के डालें। इससे आँखे जलना, मधुमेह, अनिद्रा आदि में आराम होगा। 🌷 घर के कलह-क्लेश दूर करने का उपाय 🌷 🙏🏻 जिसको घर में कलह, क्लेश मिटाना हो, रोग या शारीरिक दुर्बलता मिटानी हो, वह नीचे की चौपाई की पुनरावृत्ति किया करे 🌷 बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन - कुमार। बल बुधि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।। 🌷 मोसंबी का रस 🌷 🍊 यह बल व रक्त वर्धक, शक्तिदायक एवं रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ानेवाला है। बीमार लोगों के लिए मोसंबी अमृत के समान है। 🍊 शरीर थकने व मन के ऊब जाने पर मोसंबी अथवा इसके रस का सेवन करें तो थकान,बेचैनी दूर होकर स्फूर्ति व प्रसन्नता बढ़ती है। मोसंबी का रस यकृत, आँतों तथा पाचनतंत्र को शुद्ध करके उन्हें सतेज बनाता है। 🍊 मोसंबी चूसने से दाँतों की सफाई होती है व भोजन सरलता से पचता है। सर्दी - जुकामवालों को मोसंबी का रस हलका गर्म करके उसमें २ - ४ बूँद अदरक के रस की डालकर पीना चाहिए। 🌐http://www.vkjpandey.in 🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻 https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/I0lnC06D3bfGIhcWkRZPBb

+38 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 49 शेयर

🏵️🕉️शुभ रविवार 🏵️ शुभ प्रभात् 🕉️🏵️ 2078-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1943 🏵️-आज दिनांक--09.05.2021-🏵️ श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 74.30 - रेखांतर मध्यमान - 75.30 शिक्षा नौकरी आजीविका प्रेम विवाह भाग्योदय (प्रामाणिक जानकारी--प्रभावी समाधान) --------------------------------------------------------- -विभिन्न शहरों के लिये रेखांतर(समय) संस्कार- (लगभग-वास्तविक समय के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर -6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद-8 मिनट कोटा +5 मिनट-------------मुंबई-7 मिनट लखनऊ +25 मिनट------बीकानेर-5 मिनट कोलकाता +54 मिनट-जैसलमेर -15 मिनट __________________________________ _____________आज विशेष_____________ पूजा घर में यदि इन पांच चीजों को अनवरत रखा जाये तो घर में होती है सौभाग्य वृद्धि ____________________________________ आज दिनांक.......................09.05.2021 कलियुग संवत्.............................. 5123 विक्रम संवत................................ 2078 शक संवत....................................1943 संवत्सर...................................श्री राक्षस अयन..................................... उत्तरायण गोल.............................................उत्तर ऋतु.............................................ग्रीष्म मास...........................................वैशाख पक्ष.......................................... कृष्ण तिथि......त्रयोदशी. रात्रि. 7.30 तक / चतुर्दशी वार........................................... रविवार नक्षत्र.........रेवती. अपरा. 5.28 तक/ अश्विनी चंद्र राशि........मीन. अपराह्न. 5.28 तक / मेष योग.........प्रीति. रात्रि. 8.42 तक / आयुष्मान करण.........................गर. प्रातः 6.23 तक करण............वणिज. रात्रि. 7.30 तक / विष्टि ___________________________________ सूर्योदय..............................5.51.11 पर सूर्यास्त...............................7.04.56 पर दिनमान............................... 13.13.45 रात्रिमान................................10.45.38 चंद्रास्त................अपरा. 5.06.49 PM पर चंद्रोदय.................रात्रि. 4.58.52 AM पर राहुकाल.........सायं. 5.26 से 7.05 (अशुभ) यमघंट..अपरा. 12.28 से 2.07 तक(अशुभ) अभिजित..... .(मध्या)12.02 से 12.55 तक पंचक समाप्ति............आज सायं. 5.28 पर शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास)........आज नहीं है दिशाशूल..............................पश्चिम दिशा दोष निवारण........घी का सेवन कर यात्रा करें ____________________________________ ____आज की सूर्योदय कालीन ग्रह स्थिति____ ग्रह स्पष्ट.. राशि.. सूर्य------मेष 24°28' भरणी, 4 लो चन्द्र ------_मीन 24°13' रेवती, 3 च बुध-----वृषभ 14°1' रोहिणी, 2 वा शुक्र -----वृषभ 5°47' कृत्तिका, 3 उ मंगल---मिथुन 15°18'. आद्रा, 3 ङ बृहस्पति --कुम्भ 5°15' धनिष्ठा, 4 गे शनि ------मकर 19°16' श्रवण, 3 खे राहू-----वृषभ 18°1' रोहिणी, 3 वी केतु------वृश्चिक 18°1' ज्येष्ठा, 1 नो ___________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)........केवल शुभ कारक * चौघड़िया दिन * चंचल.................प्रातः 7.30 से 9.10 तक लाभ................प्रातः 9.10 से 10.49 तक अमृत..........पूर्वाह्न. 10.49 से 12.28 तक शुभ.................अपरा. 2.07 से 3.47 तक * चौघड़िया रात्रि * शुभ..........सायं-रात्रि. 7.05 से 8.26 तक अमृत..............रात्रि. 8.26 से 9.46 तक चंचल............. रात्रि. 9.46 से 11.07 तक लाभ....रात्रि. 1.48 AM से 3.08 AM तक शुभ.....रात्रि. 4.30 AM से 5.51 AM तक (विशेष - ज्योतिष शास्त्र में एक शुभ योग और एक अशुभ योग साथ साथ आते हैं तो शुभ योग की स्वीकार्यता मानी गई है ) ___________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ____________________________________ जानकारी विशेष -यदि किसी बालक का जन्म गंड मूल(रेवती, अश्विनी, अश्लेषा, मघा, ज्येष्ठा और मूल) नक्षत्रों में होता है तो नक्षत्र शांति को आवश्यक माना गया है.. आज जन्मे बालकों का नक्षत्र के चरण अनुसार नामाक्षर.. 10.45 AM तक----रेवती-----3----(च) 05.28 PM तक----रेवती -----4----(ची) (पाया - स्वर्ण) __________सभी की राशि मीन__________ ___________________________________ 12.11 AM तक--अश्विनी---- 1----(चू) उपरांत रात्रि तक--अश्विनी-----3----(चे) (पाया-स्वर्ण ) __________सभी की राशि मेष___________ ___________________________________ ____________आज का दिन_____________ व्रत विशेष............. मास शिवरात्रि एवं प्रदोष नियमित व्रत............. वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष...... प्रताप जयंती अंग्रेजी तारीख से दिन विशेष...........विश्व मातृ दिवस (मदर्स डे) दिन विशेष.... भद्रा. रात्रि. 7.30 से रात्रि पर्यंत सर्वा.सि.योग.................................. .नहीं सिद्ध रवियोग.................................. नहीं ____________________________________ _____________कल का दिन_____________ दिनांक..............................10.05 2021 तिथि............वैशाख कृष्णा चतुर्दशी सोमवार व्रत विशेष...................................... नहीं नियमित व्रत............. वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष...................................... नहीं दिन विशेष................भद्रा. प्रातः 8.41 तक सर्वा.सि.योग.................................. नहीं सिद्ध रवियोग................................. .नहीं ____________________________________ _____________आज विशेष _____________ यदि घर में सौभाग्य है तो घर के मंदिर में इन चीज़ों को रखना है जरूरी, होगी दिन दूनी और रात चौगुनी वृद्धि.. अगर आपके घर में भी किसी वजह से सुख समृद्धि की थोड़ी कमी है तो कुछ मामूली उपायों से ही आप अपनी बिगड़ी संवार सकते हैं और पा सकते हैं खुशहाल, सुखी और समृद्ध जिंदगी. आज हम आपको कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में बताएंगे जिन्हें आपको अपने घर के मंदिर में रखना चाहिए. क्योंकि इन्हें बेहद शुभ और जरूरी माना गया है। हर कोई चाहता है कि उनका घर-परिवार हर दुख तकलीफों से दूर एक खुशहाल जिदगी व्यतीत करें. खासकर आज के दौर में जब महामारी का खतरा हर पल सिर पर मंडरा रहा हो. अपने परिवार की सलामती के लिए जो कुछ किया जा सकता है लोग कर रहे हैं. अगर आपके घर में भी किसी वजह से सुख समृद्धि की थोड़ी कमी है तो कुछ मामूली उपायों से ही आप अपनी बिगड़ी संवार सकते हैं और पा सकते हैं खुशहाल, सुखी और समृद्ध जिंदगी. आज हम आपको कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में बताएंगे जिन्हें आपको अपने घर के मंदिर में रखना चाहिए. क्योंकि इन्हें बेहद शुभ और जरूरी माना गया है. 1. गंगाजलः पतितपाविनी गंगा का जल पृथ्वी पर सबसे पवित्र और पूजनीय चीज़ों में से एक है जिन्हें भगवान और आस्था से जुड़े हर कृत्य में शामिल किया जाता है. यही कारण है कि घर के मंदिर में भी गंगाजल का होना अत्यंत जरूरी है और प्रतिदिन इसका छिड़काव मंदिर के साथ साथ घर में किया जाना चाहिए.। 2. शंखः केवल शंख ही बल्कि इसकी ध्वनि भी अत्यंत शुभ मानी गई है, जिसकी गूंज से वातावरण में सकारात्मकता आती है. कहा जाता है कि घर के मंदिर में शंख जरूर रखें और इसे रोज़ाना पूजा के बाद जरूर बजाएं. इससे घर में सुख-समृद्धि तो आती ही है, साथ ही शांति भी बनी रहती है. 3. शालिग्रामः एक पत्थर की तरह दिखने वाला शालिग्राम भगवान विष्णु का प्रतीक माना जाता है जिसे मंदिर में रखना काफी शुभ माना जाता है. अक्सर घर में तुलसी तो होती ही है जिसकी पूजा नियमित रूप से की जाती है लेकिन तुलसी के साथ साथ शालिग्राम का होना और भी शुभ माना जाता है. 4. गौमूत्रः हिंदू संस्कृति में गौमूत्र को काफी पवित्र माना गया है. कहते हैं गौ माता का आशीर्वाद मिलते ही समस्त देवी देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त हो जाता है. 5. मोर पंखः भगवान कृष्ण स्वरूप मोर पंख को भी अत्यंत पवित्र माना जाता है. कहते हैं मोर पंख भगवान कृष्ण को अति प्रिय है और वो इसमें निवास करते हैं. इसलिए कहा जाता है कि पूजाघर में मोर पंख अवश्य हो ताकि भगवान कृष्ण की कृपा बनी रहे। ---------------------------------------------------------- *संकलनकर्त्ता* श्री ज्योतिष सेवाश्रम सेवाश्रम संस्थान (राज) ___________________________________ ___________आज का राशिफल__________ मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो अ) आज व्यस्त दिनचर्या के बावजूद आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। आज के दिन आपको शराब जैसे मादक तरल का सेवन नहीं करना चाहिए, नशे की हालत में आप कोई कीमती सामान खो सकते हैं। यह परिवार में दबदबा बनाए रखने की अपनी आदतों को छोड़ने का वक़्त है। ज़िंदगी के उतार-चढ़ाव में उनके कंधे से कंधा मिलाकर साथ दें। आपका बदला हुआ बर्ताव उनके लिए ख़ुशी का सबब साबित होगा। कोई आपको दिल से सराहेगा। आप खुद को समय देना जानते हैं और आज तो आपको काफी खाली समय मिलने की संभावना है। खाली समय में आज आप कोई खेल-खेल सकते हैं या जिम जा सकते हैं। जीवन साथी से पूर्णरूपेण सहयोग न मिलने के कारण आप निराश हो सकते हैं। परिवार के साथ किसी मॉल या शॉपिंग कॉम्प्लेक्स जाने की संभावना है। हालाँकि इससे आपका ख़र्चा काफ़ी बढ़ सकता है। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज आप प्यार, उम्मीद, सहानुभूति, आशावादिता और निष्ठा जैसी सकारात्मक भावनाओं को अपनाने के लिए ख़ुद को प्रोत्साहित करें। एक बार ये गुण आपके अंदर रच-बस जाएँ, तो हर हालात में वे ख़ुद ही सकारात्मक तरीक़े से उभर आएंगे। दीर्घावधि निवेश से बचिए और अपने दोस्तों के साथ बाहर जाकर कुछ ख़ुशी के पल बिताएँ। उस रिश्तेदार को देखने जाएँ, जिसकी तबियत काफ़ी समय से ख़राब है। अपने प्रिय से दूर होने के बावजूद आप उसकी मौजूदगी महसूस करेंगे। सेमिनार और प्रदर्शनी आदि आपको नई जानकारियाँ और तथ्य मुहैया कराएंगे। आप अपने जीवनसाथी के प्यार की मदद से ज़िन्दगी की मुश्किलों का आसानी से सामना कर सकते हैं। आज अपने घर की छत में लेटकर खुले आसमान को निहारना आपको अच्छा लगेगा। आज आपके पास इसके लिए पर्याप्त समय होगा। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आपमें आज चुस्ती-फुर्ती देखी जा सकती है। आपका स्वास्थ्य आज पूरी तरह से आपका साथ देगा। आर्थिक तौर पर बेहतरी के चलते आपके लिए ज़रूरी चीज़ें ख़रीदना आसान होगा। सामाजिक समारोह में परिवार के साथ शामिल होना सबके लिए अच्छा अनुभव रहेगा। प्रेम भगवान की पूजा की ही तरह पवित्र है। यह आपको सच्चे अर्थों में धर्म व आध्यात्मिकता की ओर भी ले जा सकता है। आज के दिन शुरू किया गया निर्माण का कार्य संतोषजनक रूप से पूरा होगा। यूँ तो जीवन हमेशा कुछ नया और चौंकाने वाली चीज़ आपके सामने लाता है। लेकिन आज आप अपने जीवनसाथी का एक अनोखा पहलू देखकर ख़ुशी से चौंक जाएंगे। आपके घर का कोई सदस्य आज आपसे प्यार से जुड़ी कोई समस्या शेयर कर सकता है। आपको उन्हें उचित सलाह देनी चाहिए। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आज आप एक ख़ुशनुमा दिन के लिए मानसिक तनाव और झंझटों से बचें। जिन लोगों नेे अतीत में अपना धन निवेश किया था आज उस धन से लाभ होने की संभावना बन रही है। तनाव का दौर बरक़रार रहेगा, लेकिन पारिवारिक सहयोग मदद देगा। ख़याली परेशानियों को छोड़ें और अपने साथी के साथ रोमांटिक समय बिताएँ। व्यस्त दिनचर्या के बावजूद भी आज आप अपने लिए समय निकालपाने में सक्षम होंगे। खाली वक्त में आज कुछ रचनात्मक कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन के लिए विशेष दिन है। अपने जीवनसाथी को बताएँ कि आप उनसे कितना प्यार करते हैं। किसी ऐसे शख़्स का फ़ोन आ सकता है जिससे आप बहुत लंबे समय से बात करना चाहते थे। बहुत-सी पुरानी यादें ताज़ा हो जाएंगी और आप समय में पीछे लौट जाएंगे। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज आप अपनी सेहत के बारे में ज़रूरत से ज़्यादा चिंता न करें। निश्चिंतता बीमारी की सबसे बड़ी दवा है। आपका सही रवैया ग़लत रवैये को हराने में क़ामयाब रहेगा। जिन लोगों ने किसी रिश्तेदार से पैसा उधार लिया था उनको आज वो उधार किसी भी हालत में वापस करना पड़ सकता है। अपने बर्ताव में उदार बनें और परिवार के साथ प्यार भरे लम्हे गुज़ारें। आज आप ख़ुद को अपने प्रिय के प्यार से सराबोर महसूस करेंगे। इस लिहाज़ से आज का दिन बहुत ख़ूबसूरत रहेगा। कई कामों को छोड़कर आप आज अपने पसंदीदा कामों को करने का मन बनाएंगे लेकिन काम की अधिकता के कारण आप ऐसा नहीं कर पाएँगे। आज के दिन आपका वैवाहिक जीवन एक ख़ूबसूरत बदलाव से गुज़रेगा। दिल की बातों को जुबां पर लाना भी जरुरी है इससे प्यार में गहराई आती है। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आपकी बहुत ज़्यादा चिंता और तनाव की आदत सेहत बर्बाद कर सकती है। मानसिक स्पष्टता बनाए रखने के लिए शंका और झुंझलाहट से निजात पाएँ। आज आप अपना धन धार्मिक कार्यों में लगा सकते हैं जिससे आपको मानसिक शांति मिलने की पूरी संभावना है। नयी चीज़ों पर ध्यान लगाएँ और अपने सबसे अच्छे दोस्त की मदद लें। आपके प्रिय का मूड ठीक नहीं है, इसलिए सोच-समझ कर कोई भी काम करें। यह दिन बेहतरीन दिनों में से एक हो सकता है। आज दिन में आप कई अच्छे प्लान भविष्य के लिए बना सकते हैं लेकिन शाम के वक्त किसी दूर के रिश्तेदार के घर में आ जाने के कारण आपके सारे प्लान धरे के धरे रह सकते हैं। आपको अपने जीवनसाथी का सख़्त और रुखा पहलू देखने को मिल सकता है, जिसके चलते आप असहज महसूस करेंगे। आज अपने घर की छत में लेटकर खुले आसमान को निहारना आपको अच्छा लगेगा। आज आपके पास इसके लिए पर्याप्त समय होगा। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते) आज आपको आउटडोर खेल आकर्षित करेंगे- ध्यान और योग आपको फ़ायदा पहुँचाएंगे। आज कोई लेनदार आपके दरवाजे पर आ सकता है और आपसे पैसे उधार मांग सकता है। उन्हें पैसे लौटाकर आप आर्थिक तंगी में आ सकते हैं। आपको सलाह दी जाती है कि उधार लेने से बचें। अपने सामाजिक जीवन को दरकिनार न करें। अपनी व्यस्त दिनचर्या में से थोड़ा-सा समय निकालकर अपने परिवार के साथ किसी आयोजन में शिरकत करें। यह न सिर्फ़ आपका दबाव कम करेगा, बल्कि आपकी झिझक भी मिटा देगा। भावनात्मक उथल-पुथल आपको परेशान कर सकती है। यात्राओं से तुरंत लाभ तो नहीं होगा, लेकिन इसके चलते अच्छे भविष्य की नींव रखी जाएगी। आपके जीवनसाथी की बेरुख़ी दिन भर आपको उदास रख सकती है। ठंडा पानी पीना आज आपके स्वास्थ्य को खराब कर सकता है। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आज आप धैर्य बनाए रखें, क्योंकि आपकी समझदारी और प्रयास आपको सफलता ज़रूर दिलाएंगे। अपने जीवनसाथी केे साथ धन से जुड़े किसी मामले को लेकर आज आपका झगड़ा हो सकता है। हालांकि अपने शांत स्वभाव से आप सबकुछ ठीक कर देंगे। अपने परिवार के साथ रुखा व्यवहार न करें। यह पारिवारिक शान्ति को भंग कर सकता है। आपके जीवन-साथी के पारिवारिक सदस्यों की वजह से आपका दिन थोड़ा परेशानीभरा हो सकता है। अगर आज आप ख़रीदारी के लिए निकलते हैं, तो कोई अच्छी पोशाक ले सकते हैं। ज़्यादा ख़र्चे की वजह से जीवनसाथी से खट-पट हो सकती है। प्यार से बढ़कर कोई अहसास नहीं, आपको भी अपने प्रेमी को कुछ ऐसी बातें बोलनी चाहिए जिससे उनका विश्वास आपमें बढ़े और प्यार को नई ऊंचाई प्राप्त हो। धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) आज के दिन आप गाड़ी चलाते समय सावधान रहें, ख़ास तौर पर मोड़ पर। नहीं तो किसी और की ग़लती का ख़ामियाज़ा आपको भुगतना पड़ सकता है। यह बात भली भांति समझ लें कि दुख की घड़ी में आपका संचित धन ही आपके काम आएगा इसलिए आज के दिन अपने धन का संचय करने का विचार बनाएं। जिन लोगों के साथ आप रहते हैं वे आपसे बहुत ख़ुश नहीं होंगे, चाहे आपने इसके लिए कुछ भी क्यों न किया हो। शाम को प्रिय के साथ रोमांटिक मुलाक़ात और साथ में कहीं अच्छा खाना खाने के लिहाज़ से बढ़िया दिन है। किसी पार्क में घूमते समय आज आपकी मुलाकात किसी ऐसे शख्स से हो सकती है जिससे अतीत में आपके मतभेद थे। आज आपका वैवाहिक जीवन हँसी-ख़ुशी, प्यार और उल्लास का केन्द्र बन सकता है। सितारे इशारा कर रहे हैं कि किसी नज़दीकी स्थान की यात्रा हो सकती है। यह सफ़र मज़ेदार रहेगा और आपके प्रिय लोगों का साथ मिलेगा। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज आप क्षणिक आवेग में बहकर कोई निर्णय न करें। यह आपके बच्चों के हितों को हानि पहुँचा सकता है। आप अच्छा पैसा बना सकते हैं, बशर्ते आप पारंपरिक तौर पर निवेश करें। आप दोस्तों के साथ बेहतरीन वक़्त बिताएंगे, लेकिन गाड़ी चलाते वक़्त ज़्यादा सावधानी बरतें। रोमांचक दिन है, क्योंकि आपका प्रिय आपको तोहफ़े/उपहार दे सकता है। कारोबारी आज करोबार से ज्यादा अपने परिवार के लोगों के बीच समय बिताना पसंद करेंगे। इससे आपके परिवार में सामंजस्य बनेगा। आज आपको अपने जीवनसाथी से एक बार फिर प्यार हो जाएगा। आज घर पर रहेंगे लेकिन घर की उलझनें आपको परेशान कर सकती हैं। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज आपका विनम्र स्वभाव सराहा जाएगा। कई लोग आपकी ख़ासी तारीफ़ कर सकते हैं। तंग आर्थिक हालात के चलते कोई अहम काम बीच में अटक सकता है। शादी लायक़ युवाओं का रिश्ता तय हो सकता है। फूल देकर अपने प्यार का इज़हार करें। कार्यक्षेत्र के किसी काम में खराबी की वजह से आज आप परेशान रह सकते हैं और इस बारे में सोचकर अपना कीमती वक्त बर्बाद कर सकते हैं। आज आपके वैवाहिक जीवन के सबसे अच्छे दिनों में से एक हो सकता है। किसी ऐसे इंसान के साथ समय बिताना जिसका साथ आपको बहुत पसंद न हो, आपकी खीझ की वजह हो सकता है। इसलिए सोच-समझकर फ़ैसला करें कि आप किसके साथ बाहर जाने वाले हैं। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज के दिन आपके चेहरे पर मुस्कान बिखरी रहेगी और अजनबी भी जाने-पहचाने से महसूस होंगे। जिन लोगों ने कहीं निवेश किया था आज के दिन आपको आर्थिक हानि होने की संभावना है। परिवार के सदस्यों की ज़रूरतों को तरजीह दें। उनके सुख-दुःख के भागीदार बनें, ताकि उन्हें महसूस हो कि आप वाक़ई उनका ख़याल रखते हैं। कोई पौधा लगाएँ। अपने जरुरी कामों को निपटाकर आज आप अपने लिए समय तो अवश्य निकालेंगे लेकिन इस समय का उपयोग आप अपने हिसाब से नहीं कर पाएंगे। आपकी भागदौड़ भरी दिनचर्या के कारण आपका जीवनसाथी ख़ुद को दरकिनार महसूस कर सकता है, जिसका इज़हार शाम को होना मुमकिन है। रिश्तों से परे आपकी अपनी भी एक दुनिया है और उस दुनिया में आज आप दस्तक दे सकते हैं। __________________________________ 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ - संकलनकर्त्ता- ज्योतिर्विद् पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ __________________________________

+23 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 72 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄 #सुप्रभातम 🌄 🗓 आज का #पञ्चाङ्ग 🗓 🌻रविवार, ९ मई २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०५:३९ सूर्यास्त: 🌅 ०६:५२ चन्द्रोदय: 🌝 २८:४१ चन्द्रास्त: 🌜१६:५४ अयन 🌕 उत्तराणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: 🍁 ग्रीष्म शक सम्वत: 👉 १९४३ (प्लव) विक्रम सम्वत: 👉 २०७८ (राक्षस) मास 👉 वैशाख पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 त्रयोदशी (१९:३० तक) नक्षत्र 👉 रेवती (१७:२९ तक) योग 👉 प्रीति (२०:४४ तक) प्रथम करण 👉 गर (०६:२३ तक) द्वितीय करण 👉 वणिज (१९:३० तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 मेष चंद्र 🌟 मेष (१७:२८ से) मंगल 🌟 मिथुन (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 वृष (उदित, पूर्व, मार्गी) गुरु 🌟 कुम्भ (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 वृष (उदय, पश्चिम, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 ११:४६ से १२:४१ अमृत काल 👉 १४:४९ से १६:३६ सर्वार्थसिद्धि योग 👉 १७:२९ से २९:२७ विजय मुहूर्त 👉 १४:२९ से १५:२३ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:४६ से १९:१० निशिता मुहूर्त 👉 २३:५२ से २४:३४ राहुकाल 👉 १७:१८ से १९:०० राहुवास 👉 उत्तर यमगण्ड 👉 १२:१३ से १३:५५ होमाहुति 👉 केतु दिशाशूल 👉 पश्चिम अग्निवास 👉 पाताल (१९:३० से पृथ्वी) भद्रावास 👉 स्वर्गलोक (१९:३० से) चन्द्रवास 👉 उत्तर (पूर्व १७:२९ से) 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - उद्वेग २ - चर ३ - लाभ ४ - अमृत ५ - काल ६ - शुभ ७ - रोग ८ - उद्वेग ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - शुभ २ - अमृत ३ - चर ४ - रोग ५ - काल ६ - लाभ ७ - उद्वेग ८ - शुभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 उत्तर-पूर्व (पान का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️〰️〰️〰️ तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि व्रत, पंचक समाप्त १७:२७ पर, गृह प्रवेश+देव प्रतिष्ठा मुहूर्त प्रातः ०७:२४ से दोपहर १२:२३ तक, भूमि-भवन क्रय-विक्रय+व्यवसाय आरम्भ मुहूर्त १०:४४ से १२:२३ तक, वाहन क्रय-विक्रय मुहूर्त दोपहर ०२:०३ से दोपहर ०३:४३ तक आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज १७:२९ तक जन्मे शिशुओ का नाम रेवती नक्षत्र के तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (च, ची) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम अश्विनी नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय चरण अनुसार क्रमश (चू, चे, चो) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त मेष - २८:१६ से ०५:४९ वृषभ - ०५:४९ से ०७:४४ मिथुन - ०७:४४ से ०९:५९ कर्क - ०९:५९ से १२:२१ सिंह - १२:२१ से १४:४० कन्या - १४:४० से १६:५७ तुला - १६:५७ से १९:१८ वृश्चिक - १९:१८ से २१:३८ धनु - २१:३८ से २३:४१ मकर - २३:४१ से २५:२२ कुम्भ - २५:२२ से २६:४८ मीन - २६:४८ से २८:१२ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त शुभ मुहूर्त - ०५:२७ से ०५:४९ रज पञ्चक - ०५:४९ से ०७:४४ शुभ मुहूर्त - ०७:४४ से ०९:५९ चोर पञ्चक - ०९:५९ से १२:२१ शुभ मुहूर्त - १२:२१ से १४:४० रोग पञ्चक - १४:४० से १६:५७ शुभ मुहूर्त - १६:५७ से १७:२९ मृत्यु पञ्चक - १७:२९ से १९:१८ अग्नि पञ्चक - १९:१८ से १९:३० शुभ मुहूर्त - १९:३० से २१:३८ रज पञ्चक - २१:३८ से २३:४१ शुभ मुहूर्त - २३:४१ से २५:२२ चोर पञ्चक - २५:२२ से २६:४८ शुभ मुहूर्त - २६:४८ से २८:१२ शुभ मुहूर्त - २८:१२ से २९:२७ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज के दिन आप सभी कार्यो को देख परख कर ही करेंगे फिर भी कार्य सफलता में विलंब अथवा कार्य हानि होगी। मन के नकारात्मक भाव शारीरिक एवं मानसिक रूप से विचलित करेंगे। आपके अंदर विवेक भरा रहेगा भले-बुरे का पूर्व ज्ञान भी कर सकेंगे इसके बावजूद मन अनैतिक कार्यो में भटक सकता है। प्रतिकूल स्वास्थ्य कार्यो में विघ्न डालेगा। सामाजिक क्षेत्र एवं घर मे धैर्य का परिचय दें किसी की बातों पर शीघ्र प्रतिक्रिया माहौल खराब करेगी मामूली बाते भी दिल को चुभेगी। महिला वर्ग अतिआत्मविश्वास की भावना से ग्रस्त रहेंगी जिससे मान भंग के प्रसंग बन सकते है। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज का दिन आपको सामाजिक क्षेत्र से मान-सम्मान दिलाएगा परन्तु घरेलू माहौल किसी गलतफहमी के कारण खराब होगा फिर भी स्थिति आज हर प्रकार से आपके पकड़ में रहेगी। शारीरिक स्वास्थ्य उत्तम रहेगा आज की दिनचर्या से लाभ पाने के लिए आलस्य से बचना अधिक आवश्यक है। व्यवसायी वर्ग भगीदारो से पुरानी खट-पट भुला कर नए सिरे से कार्य करने का प्रयास करेंगे इसमें सफल भी रहेंगे। सहकर्मी भी आपके व्यवहार से प्रसन्न रहेंगे जिससे अपने कार्य निश्चित अवधि में पूर्ण कर सकेंगे। दोपहर के बाद किसी शुभसमाचार की प्राप्ति हर्षित करेगी। महिलाये शारीरिक कमजोरी महसूस करेंगी। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आप धैर्य धारण करने पर उम्मीद से अधिक लाभ कमा सकते है। आपकी दिनचर्या भी धीमी ही रहेगी प्रत्येक कार्य धीमी गति से करेंगे जिस कारण लोगो से आलोचना सुननी पड़ेगी। आज आप यथार्थ को छोड़ काल्पनिक दुनिया मे अधिक रहेंगे जिस वजह से लोग आपकी हंसी उड़ाएंगे। आज आय की अपेक्षा व्यय अधिक रहेगा घरेलू सुख के साधन एवं मौज शौक पर केवल दिखावे के लिए खर्च करेंगे जिससे बाद में आर्थिक स्थिति प्रभावित होगी। घर मे किसी ना किसी से रूठना मनना चलता रहेगा फिर भी शान्ति भंग नही होगी। महिलाओ में आत्मबल अधिक रहेगा आलस्य के कारण प्रदर्शित नही कर सकेंगी। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज के दिन आप मन ही मन आंनदित रहेंगे। लापरवाही व्यवहार में रहने से दिन में कई बार कलह का कारण बनेगी। असंयमित दिनचर्या के कारण शारीरिक रूप से भी थकान एवं अस्वस्थ्यता अनुभव होगी। आज आप किसी भी एक निर्णय पर नही टिकेंगे अपनी बातों से पलटने के कारण व्यावसायिक स्थल एवं गृहस्थ में झगड़े होने की संभावना है। मौज शौक को कार्यो से ज्यादा महत्त्व देने के कारण हानि हो सकती है। धन संबंधित योजनाए मन मे चलती रहेंगी वर्जित कार्यो से शीघ्र पैसा कमाने का प्रयास भी करेंगे परन्तु सफलता में संदेह रहेगा। आज महिला वर्ग अधिक चंचल रहेंगी। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज के दिन आपको शारीरिक रूप से अत्यंत सावधानी बरतने की आवश्यकता है। आकस्मिक दुर्घटना अथवा अन्य कारणों से शारीरिक कष्ट पहुँच सकता है। हाथ पैरों में भी शिथिलता रहेगी जिससे दैनिक कार्य कुछ प्रभावित होंगे। व्यावसायिक कार्यो में भी आज दौड़ धूप अधिक रहेगी इसका उचित लाभ विलंब से ही मिल सकेगा। पारिवारिक वातावरण आज अधिक भावुक रहेगा। घर के सदस्य आपसी परेशानी को समझेंगे फिर भी अधिक बोलने की आदत से बचें। आर्थिक रूप से दिन उत्तम रहने के कारण आकस्मिक खर्च विचलित नही कर सकेंगे। स्त्री सुख मिलेगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज आपको किसी भी कार्य में मध्यान के बाद असुविधा नही होगी व्यावसायिक स्थल पर भी कार्य सरलता से चलने लगेंगे। पूर्व की गलतियों से मार्गदर्शन मिलेगा। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी। उधार की वसूली कर सकेंगे। सरकारी अथवा पैतृक कार्यो को आज पूर्ण करने का प्रयास करे लाभदायक रहेगा। घर के बुजुर्गो से किसी बात पर मतभेद खड़ा होगा पर कुछ समय मे स्थिति सामान्य भी हो जाएगी। सामाजिक आयोजनों में भाग लेंगे। आपकी कार्य कुशलता की घर को छोड़ सर्वत्र प्रशंशा होगी। महिलाये स्वभाव से थोड़ी जिद्दी फिर भी गृहस्थ के लिए सहायक रहेंगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज का दिन सुख शान्ति से बितायेंगे लेकिन स्वभाव में ईर्ष्या की भावना रहेगी अन्य लोगो के कामो में मीन मेख निकालने से विवाद भी हो सकता है। कार्य व्यवसाय में मध्यान तक का परिश्रम संध्या के बाद फल देने लगेगा आज आकस्मिक रूप से किसी शुभ समाचार की प्राप्ति उत्साहित करेगी धन लाभ भी निश्चित समय पर ना होकर आकस्मिक ही होगा। अधिकारियों का स्वभाव आज संदिग्ध रहेगा सतर्क रहें। धार्मिक कार्यो के लिए कम ही समय निकाल पाएंगे। सरकारी कार्यो में ढील ना दे अन्यथा बाद में लंबित रहेंगे। प्रेम प्रसंगों में नजदीकियां बढ़ेंगी। संताने संध्या के समय अपने व्यवहार से परेशान करेंगी। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज के दिन आप स्वयं को अन्य लोगो से श्रेष्ठ आंकेंगे मनमाना व्यवहार करने से आस पास रहने वालों को असुविधा होगी व्यर्थ की बहस भी होगी। घर एवं बाहर आज संतुलित व्यवहार रखें लोग आपकी सही बातों को भी गलत बना कर विवाद खड़ा करेंगे। सेहत आज ठीक रहेगी लेकिन कलह-क्लेश के कारण मानसिक रूप से बेचैन रहेंगे। जिस भी कार्य का मन बनाएंगे उसमे कोई ना कोई व्यवधान आने से मन खिन्न होगा। धन संबंधित लेन-देन में स्पष्टता रखें लिख कर ही करें भूल होने की आशंका है। आकस्मिक यात्रा हो सकती है। जोड़ तोड़ की नीति से धन लाभ होगा। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज के दिन आप ना चाहकर भी व्यर्थ के झगड़ो में पड़ेंगे सेहत में भी उतार-चढ़ाव लगा रहेने से कार्य क्षेत्र पर अव्यवस्था फैलेगी। छाती में संक्रमण अथवा मासपेशियो में खिंचाव आने से पीड़ा होगी। जिम्मेदारी ठीक से नही संभालने पर बड़े लोग नाराज होंगे। धन लाभ की उम्मीद नही होने पर भी अचानक होने से आश्चर्यचकित होंगे। फिर भी खर्च आय की तुलना में अधिक ही रहेंगे। घर अथवा रिश्तेदारी मे पूजा पाठ के आयोजन में भाग ले सकते है। महिलाये जल्दबाजी में गलत निर्णय लेने से परेशान हो सकती है। लंबी यात्रा आज ना करें ठंडे प्रदार्थो से परहेज रखें। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आपका आज का दिन आर्थिक रूप से पहले की अपेक्षा बेहतर रहेगा। आज जिस भी कार्य मे हाथ डालेंगे देर-अबेर उससे धन प्राप्ति होकर ही रहेगी। नए कार्य अनुबंध अथवा व्यवसाय की शुरुआत आज करना शुभ रहेगा परन्तु अधूरे कार्यो में ढील ना दें हानि भी हो सकती है। भविष्य के लिए आज संचय भी कर सकेंगे। गृहस्थ में आज कुछ ना कुछ कारण से भाग-दौड़ लगी रहेगी। महिलाये अतिरिक्त कार्य आने से असहज रहेंगी स्वभाव भी चिड़चिड़ा रहेगा। व्यर्थ में किसी से बहस ना करें सरकारी कार्य मे उलझन बढ़ेगी आज निरस्त रखें। महिला वर्ग आज विशेष खर्चीली सिद्ध होंगी। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज का दिन मिश्रित फल देने वाला रहेगा। दिन के आरंभ में थोड़ी सुस्ती रहने के कारण कार्यो में विलंब होगा। कार्यो में भी अधिक परिश्रम के बाद ही सफलता मिलेगी। महिलाओं को भी घरेलू कार्यो के लिए दौड़-धूप करनी पड़ेगी फिर भी लोग आपके कार्यो में नुक्स निकालेंगे। व्यवसाय से थोड़े इंतजार के बाद आवश्यकता अनुसार धन लाभ हो जाएगा। मध्यान के बाद कार्यो से उबन होने पर मनोरंजन के अवसर तलाशेंगे। आर्थिक रूप से परिस्तिथि अनुकूल ना होने पर भी खर्च करने के कारण धन की कमी बनेगी। धार्मिक क्षेत्र की लघु यात्रा हो सकती है। उदर शूल की संभावना है। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन धन-धान्य वृद्धि कारक रहेगा। विरोधी भी नतमस्तक रहेंगे आज आप महत्त्वपूर्ण घरेलु अथवा व्यावसायिक निर्णय लेंगे। स्वतंत्र विचार रहने से लोगो के मन की बात आसानी से जान लेंगे। व्यवहार कुशलता से नए लाभदायक संबंध बनाएंगे। शेयर अथवा अन्य जोखिम के कार्यो में निवेश का शीघ्र फल मिलेगा। कई दिनों से निरस्त यात्रा आज बेमन से करनी पड़ सकती है। मित्र रिश्तेदारो से नजदीकियां बढ़ेंगी। घरेलू वातावरण सामान्य रहेगा फिर भी महिलाओं की आवश्यकता का विशेष ध्यान रखें अन्यथा बेवजह कलह के प्रसंग बन सकते है। 🌐http://www.vkjpandey.in 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️ https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/I0lnC06D3bfGIhcWkRZPBb

+18 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 105 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄 #सुप्रभातम 🌄 🗓 आज का #पञ्चाङ्ग 🗓 🌻शनिवार, ८ मई २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०५:३९ सूर्यास्त: 🌅 ०६:५२ चन्द्रोदय: 🌝 २८:१३ चन्द्रास्त: 🌜१६:०१ अयन 🌕 उत्तराणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: 🍁 ग्रीष्म शक सम्वत: 👉 १९४३ (प्लव) विक्रम सम्वत: 👉 २०७८ (राक्षस) मास 👉 वैशाख पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 द्वादशी (१७:२० तक) नक्षत्र 👉 उत्तराभाद्रपद (१४:४७ तक) योग 👉 विष्कुम्भ (२०:०० तक) प्रथम करण 👉 तैतिल (१७:२० तक) द्वितीय करण 👉 गर (पूर्ण रात्रि) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 मेष चंद्र 🌟 मीन मंगल 🌟 मिथुन (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 वृष (उदित, पूर्व, मार्गी) गुरु 🌟 कुम्भ (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 वृष (उदय, पश्चिम, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 ११:४६ से १२:४१ अमृत काल 👉 ०९:३१ से ११:१६ विजय मुहूर्त 👉 १४:२९ से १५:२३ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:४५ से १९:०९ निशिता मुहूर्त 👉 २३:५२ से २४:३४ राहुकाल 👉 ०८:५१ से १०:३२ राहुवास 👉 पूर्व यमगण्ड 👉 १३:५५ से १५:३६ होमाहुति 👉 केतु दिशाशूल 👉 पूर्व अग्निवास 👉 पृथ्वी चन्द्रवास 👉 उत्तर 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - काल २ - शुभ ३ - रोग ४ - उद्वेग ५ - चर ६ - लाभ ७ - अमृत ८ - काल ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - लाभ २ - उद्वेग ३ - शुभ ४ - अमृत ५ - चर ६ - रोग ७ - काल ८ - लाभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 दक्षिण-पूर्व (वाय विन्डिंग अथवा तिल मिश्रित चावल का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️〰️〰️〰️ तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ ७२१ वी श्री सेन जयंती, विवाहादि मुहूर्त वृष-मिथुन लग्न प्रातः ०६:०९ से १०:२०, सिंह लग्न दोपहर १२:३९ से ०२:४६ तक, चूड़ाकर्म संस्कार+नींव खुदाई+देव प्रतिष्ठा मुहूर्त प्रातः ०७:२५ से ०९:०४ तक, गृहप्रवेश मुहूर्त दोपहर १२:२३ से १२:५० तक, व्यवसाय आरम्भ मुहूर्त ११:५७ से १२:५० तक, वाहनादि क्रय मुहूर्त दोपहर १२:२३ से सायं ०५:२३ तक आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज १४:४७ तक जन्मे शिशुओ का नाम उत्तराभाद्रपद नक्षत्र के तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (झ, ञ) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम रेवती नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय चरण अनुसार क्रमश (दे, दो, च) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त मेष - २८:२० से ०५:५३ वृषभ - ०५:५३ से ०७:४८ मिथुन - ०७:४८ से १०:०३ कर्क - १०:०३ से १२:२५ सिंह - १२:२५ से १४:४३ कन्या - १४:४३ से १७:०१ तुला - १७:०१ से १९:२२ वृश्चिक - १९:२२ से २१:४२ धनु - २१:४२ से २३:४५ मकर - २३:४५ से २५:२६ कुम्भ - २५:२६ से २६:५२ मीन - २६:५२ से २८:१६ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त शुभ मुहूर्त - ०५:२८ से ०५:५३ रोग पञ्चक - ०५:५३ से ०७:४८ शुभ मुहूर्त - ०७:४८ से १०:०३ मृत्यु पञ्चक - १०:०३ से १२:२५ अग्नि पञ्चक - १२:२५ से १४:४३ शुभ मुहूर्त - १४:४३ से १४:४७ रज पञ्चक - १४:४७ से १७:०१ शुभ मुहूर्त - १७:०१ से १७:२० चोर पञ्चक - १७:२० से १९:२२ शुभ मुहूर्त - १९:२२ से २१:४२ रोग पञ्चक - २१:४२ से २३:४५ शुभ मुहूर्त - २३:४५ से २५:२६ मृत्यु पञ्चक - २५:२६ से २६:५२ अग्नि पञ्चक - २६:५२ से २८:१६ शुभ मुहूर्त - २८:१६ से २९:२७ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज के दिन आप अधिक लापरवाह रहने के कारण हानि उठा सकते है। प्रातः काल से ही यात्रा पर्यटन की योजना बनेगी कार्य क्षेत्र पर अधिक ध्यान देने के बाद भी अल्प लाभ से संतोष करना पड़ेगा। नौकरों के ऊपर ज्यादा विश्वास भी हानि का कारण बन सकता है। कार्य क्षेत्र पर चोरी जैसी गतिविधि अथवा आप पर आरोप लगाए जा सकते है सावधान रहे। वाणी में कठोरता रहने से घर में कलह होने की सम्भवना है। आर्थिक लेन-देन लिख कर ही करें। संध्या का समय थकान वाला रहेगा कोई नापसंद कार्य भी करना पड़ सकता है। शारीरिक कमजोरी अनुभव करेंगे। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज के दिन कार्य क्षेत्र पर व्यस्तता अधिक रहेगी हाथ में लिए अनुबंध समय पर पूर्ण नहीं करने के कारण आलोचना हो सकती है। स्वभाव से भी आज ढीलापन रहने के कारण भागदौड़ वाले कार्यो से बचने का प्रयास करेंगे। लेकिन फिर भी आज कार्य क्षेत्र पर अधिकांश कार्य अपने ही बलबूते करना पड़ेगा। सहकारी कार्य लेट-लतीफी के कारण अधूरे रहेंगे। नयी योजनाओं को हाथ में लेने से पहले हानि-लाभ की समीक्षा करलें। संध्या के बाद आर्थिक विषयो में सफलता मिलेगी। यात्रा पर्यटन की योजना बनेगी लेकिन आज टालना ही बेहतर रहेगा। सर, अथवा कमर से निचले भाग में समस्या बनने की सम्भवना है। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) रोजगार के क्षेत्र में किये जा रहे प्रयास आज फलीभूत होने से आर्थिक समस्याओं का समाधान होगा। सार्वजनिक क्षेत्र से शुभ समाचार मिलने की संभावना है। बेरोजगार व्यक्तियों को भी रोजगार मिलने की सम्भावना बनेगी। आज आपसे बहस में कोई नहीं जीत पायेगा लेकिन बड़बोलेपन के कारण महिलाओं के सम्मान में कमी होगी। दिन के उत्तरार्ध में कार्य भार बढ़ने से कमर अथवा अन्य अंगों में दर्द की शिकायत रहेगी। पारिवारिक वातावरण मिला जुला रहेगा। यात्रा आज किसी न किसी रूप में लाभदायक सिद्ध होगी। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज आप कार्यो की भरमार रहने के कारण भ्रमित हो सकते है। परिश्रम का उचित फल नहीं मिलेगा दोपहर तक कार्यो में व्यवधान आने से निराश रहेंगे परन्तु संध्या के समय किसी परिचित के सहयोग से लाभ होने से खर्च निकल जाएंगे। लेकिन संध्या का समय शारीरिक रूप से सावधानी बरतने का है आकस्मिक दुर्घटना अथवा किसी अशुभ समाचार के मिलने से मन परेशान होगा। सरकारी कार्य आज भी निरस्त करें। परिवार के प्रति अधिक भावनात्मक बनेंगे। आध्यात्म में रूचि होने पर भी समय नहीं दे पाएंगे। व्यसनों से दूर रहें। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन भी अस्तव्यस्त रहने से मनोकामना अधूरी रह सकती है। मध्यान तक जोखिम वाले कार्यो से बचने का प्रयास करें अन्यथा परेशानी में पड़ सकते है। आज कार्य क्षेत्र पर किसी से ना उलझे पद एवं प्रतिष्ठा की हानि हो सकती है। सांसारिक गतिविधियों में व्यस्त रहने के कारण स्वयं की अनदेखी करनी पड़ेगी परन्तु इसके बदले धन लाभ होने से संतोष रहेगा। दोपहर बाद धर्म-कर्म में अधिक रुचि रहेगी धार्मिक कार्यक्रमो में उपस्थिति देंगे। घर के बुजुर्गो से नए अनुभव मिलेंगे। पत्नी संतान का सुख मिलेगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज दिन के पहले भाग में आपको परिश्रम के अनुसार फल ना मिलने से मानसिक पीड़ा हो सकती है। दिमाग में नए-नए विचार आने से किसी ठोस निर्णय लेने में परेशानी होगी। नई वस्तुओ की खरीददारी अथवा नये कार्य में निवेश आज ना करें। दोपहर के बाद स्थिति बेहतर होने लगेगी। धन की आमद होने से वित्तीय आयोजन कर पाएंगे। थोक के व्यवसायी आज निवेश कर सकते है आगे लाभ होगा। परिवार में किसी के बीमार होने से धन का व्यय भी रहेगा परन्तु शांति भी रहेगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज दिन का पहला भाग आपकी आशाओं के विपरीत रहने वाला है। आय की अपेक्षा खर्च अधिक रहने से धन की कमी अनुभव होगी महत्त्वपूर्ण कार्य को लेकर कीसी से कर्ज लेने की नौबत भी आ सकती है। आस-पडोसी की गलतियों को आज नजरअंदाज करें अन्यथा छोटी बात बड़ा विवाद खड़ा कर देगी। परिजनों की सहानुभूति मानसिक कमजोरी दूर करेगी। धार्मिक गतिविधियों में भी फिजूल खर्ची पर नियंत्रण रखें। अल्प धन लाभ होगा। मध्यान बाद स्थिति में सुधार तो आएगा लेकिन स्वभाव में लापरवाही भी बढ़ने से कोई खास लाभ नही उठा पाएंगे। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज का दिन आंशिक शुभ रहेगा। पुरानी गलतियों या व्यवहार की कमी के कारण आज मन में ग्लानि रहेगी। सेहत भी आज थोड़ी विपरीत रहने से मन की बहुप्रतीक्षित इच्छा अधूरी रह सकती है परन्तु आर्थिक दृष्टिकोण से दिन लाभदायक रहेगा। थोड़े परिश्रम से आशा से अधिक मुनाफा कमा सकते है इसके लिए कुछ अधिक परिश्रम की आवश्यकता रहेगी। आज शेयर सट्टे में निवेश शीघ्र लाभ देगा। पैतृक संपत्ति के कार्य अधूरे रह सकते है। घरेलू सुख सामान्य से उत्तम रहेगा। आज कही सुनी बातों पर विश्वास ना करें। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज के दिन भी ग्रह स्थिति घर बाहर उथल पुथल कराएगी में आपको घरेलु मामलो में विशेष सावधानी बरतने की आयवश्यक रहेगी। रूठने-मनाने में दिन का कुछ भाग व्यर्थ हो सकता है। बुजुर्ग वर्ग भी आज आपकी विचारधारा के विपरीत सोच रखेंगे जिससे तालमेल बैठाने में मुश्किल होगी। कार्य क्षेत्र पर अन्य व्यक्ति आपकी लाचारी का फायदा उठा सकता है। आज किसी के आगे समर्पण ना करें थोड़ा धैर्य रख मध्यान बाद की प्रतीक्षा करें परिस्थितियां सुधारने पर राहत मिलने लगेगी। आज बाहरी व्यक्ति से मन के भेद प्रकट ना करें। सेहत अकस्मात खराब हो सकती है। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आर्थिक दृष्टिकोण से आज का दिन पिछले कुछ दिनों से बेहतर रहेगा। कार्य क्षेत्र से अतिरिक्त आय होगी। रुके हुए कार्य पूर्ण होने से भी धन के स्त्रोत्र बढ़ेंगे लेकिन आज हाथ खुला रहने से भविष्य में बड़े खर्च की योजना भी बनेगी। सामाजिक गतिविधियों में पूरा समय ना दे पाने से लोगो से दूरी बन सकती है। संध्या का समय पूर्वनियोजित रहेगा पर्यटन पार्टी की योजना बनाई जाएगी। उत्तम भोजन के साथ गृहस्थ का सुख मिलेगा। सन्तानो के ऊपर अतिरिक्त खर्च करना पड़ेगा। सेहत छोटी मोटी व्याधि को छोड़ सामान्य रहेगी। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज का दिन मिला-जुला रहेगा। सेहत लगभग सामान्य रहेगी। आज कई दिनों से लटके किसी अनुबंध के आगे बढ़ने से धन लाभ की कामना अधूरी रहेगी। व्यवसाय के ऊपर अधिक ध्यान देने के बाद भी कार्य विलम्ब से पूर्ण होंगे लाभ के कई अवसर मिलेंगे परन्तु धनागम के लिए थोड़ी प्रतीक्षा करनी पड़ेगी। संध्या बाद आवश्यकता अनुसार धन की पूर्ति हो जाएगी। आज कार्य क्षेत्र पर आपकी लापरवाही के चलते अधिकारी वर्ग गर्म हो सकते है। स्टेशनरी अथवा प्रिंटिंग के कार्य से जुड़े जातको को आकस्मिक नए अनुबंध मिल सकते है। परिवार के लिए आप कुछ नया करेंगे। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आपका आज का दिन मिश्रित फलदायी रहेगा। दिन के पहले भाग में आर्थिक दृष्टिकोण से संतुष्टि रहेगी। कार्य क्षेत्र पर बिक्री बढने से धन की आमद होगी। व्यक्तित्व का भी विकास होने से सामाजिक छवि बेहतर बनेगी। लेकिन धन हाथ मे आने के बाद दिमाग उटपटांग कामो में उलझेगा साथ ही कुछ समय के लिये पारिवारिक समस्याओं के कारण मन अशांत रहेगा। घर में किसी विवाद के बढ़ने की सम्भवना है। मौन दर्शक बनकर रहने में ही भलाई है। सेहत में थोड़ा बहुत बदलाव आ सकता है। अतिआवश्यक कार्य दोपहर बाद करना ही हितकर रहेगा। 🌐http://www.vkjpandey.in 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 https://t.me/OnlineMandir 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/I0lnC06D3bfGIhcWkRZPBb

+21 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 53 शेयर

🏵️🕉️शुभ शनिवार 🏵️ शुभ प्रभात् 🕉️🏵️ 2078-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1943 🏵️-आज दिनांक--08.05.2021-🏵️ श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 74.30 - रेखांतर मध्यमान - 75.30 शिक्षा नौकरी आजीविका प्रेम विवाह भाग्योदय (प्रामाणिक जानकारी--प्रभावी समाधान) --------------------------------------------------------- -विभिन्न शहरों के लिये रेखांतर(समय) संस्कार- (लगभग-वास्तविक समय के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर -6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद-8 मिनट कोटा +5 मिनट-------------मुंबई-7 मिनट लखनऊ +25 मिनट------बीकानेर-5 मिनट कोलकाता +54 मिनट-जैसलमेर -15 मिनट ____________________________________ _____________आज विशेष______________ द्वादश ज्योतिर्लिंग संबंधित परिचय एवं रहस्य अवश्य पढ़े और जानकारी बढ़ायें ____________________________________ आज दिनांक.......................08.05.2021 कलियुग संवत्.............................. 5123 विक्रम संवत................................ 2078 शक संवत....................................1943 संवत्सर...................................श्री राक्षस अयन..................................... उत्तरायण गोल.............................................उत्तर ऋतु.............................................ग्रीष्म मास...........................................वैशाख पक्ष.......................................... कृष्ण तिथि.....द्वादशी. अपरा. 5.20 तक / त्रयोदशी वार..........................................शनिवार नक्षत्र....उ.भाद्रपद. अपरा. 2 .46 तक/ रेवती चंद्र राशि.............. मीन. संपूर्ण (अहोरात्र) योग.......... विष्कुंभ. रात्रि. 7.57 तक / प्रीति करण.......... तैत्तिल. अपरा. 5.20 तक / गर ____________________________________ सूर्योदय..............................5.51.48 पर सूर्यास्त...............................7.04.25 पर दिनमान............................... 13.12.36 रात्रिमान................................10.46.46 चंद्रास्त............... अपरा. 4.14.55 PM पर चंद्रोदय................ रात्रि. 4.29.22 AM पर राहुकाल.......प्रातः 9.10 से 10.49 (अशुभ) यमघंट.... अपरा. 2.07 से 3.46 तक(अशुभ) अभिजित..... (मध्या)12.02 से 12.55 तक पंचक ............................................. जारी पंचक समाप्ति...9.05 2021 सायं. 5.28 पर शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास)..............आज है दिशाशूल............................. ...पूर्व दिशा दोष निवारण.... उड़द का सेवन कर यात्रा करें ___________________________________ ____आज की सूर्योदय कालीन ग्रह स्थिति___ ग्रह स्पष्ट.. राशि... सूर्य----------मेष 23°30' भरणी, 4 लो चन्द्र --मीन 12°11' उत्तरभाद्रपदा, 3 झ बुध-------वृषभ 12°28' रोहिणी, 1 ओ शुक्र ---------वृषभ 4°33' कृत्तिका, 3 उ मंगल-------मिथुन 14°42' आद्रा, 3 ङ बृहस्पति-------कुम्भ 5°7' धनिष्ठा, 4 गे शनि ----------मकर 19°15' श्रवण,3 खे राहू----------वृषभ 18°4' रोहिणी,3 वी केतु----------वृश्चिक 18°4' ज्येष्ठा,1 नो ___________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)........केवल शुभ कारक * चौघड़िया दिन * शुभ...................प्रातः 7.31 से 9.10 तक चंचल.............अपरा. 12.28 से 2.07 तक लाभ...............अपरा. 2.07 से 3.46 तक अमृत...............अपरा. 3.46 से 5.25 तक * चौघड़िया रात्रि * लाभ..........सायं-रात्रि. 7.04 से 8.25 तक शुभ...............रात्रि. 9.46 से 11.07 तक अमृत.......रात्रि.11.07 से 12.28 AM तक चंचल..रात्रि. 12.28 AM से 1.49 AM तक लाभ.....रात्रि. 4.30 AM से 5.51 AM तक (विशेष - ज्योतिष शास्त्र में एक शुभ योग और एक अशुभ योग साथ साथ आते हैं तो शुभ योग की स्वीकार्यता मानी गई है ) ___________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ____________________________________ जानकारी विशेष -यदि किसी बालक का जन्म गंड मूल(रेवती, अश्विनी, अश्लेषा, मघा, ज्येष्ठा और मूल) नक्षत्रों में होता है तो नक्षत्र शांति को आवश्यक माना गया है.. आज जन्मे बालकों का नक्षत्र के चरण अनुसार नामाक्षर.. 08.08 AM तक--उ-भाद्रपद-----3----(झ) 02.46 PM तक--उ-भाद्रपद-----4----(ञ) (पाया - लोह) 09.25 PM तक-------रेवती---- 1-----(दे) 04.04 AM तक-------रेवती-----2----(दो) उपरांत रात्रि तक-------रेवती-----3----(च) (पाया-स्वर्ण ) __________सभी की राशि मीन____________ _____________________________________ ____________आज का दिन______________ व्रत विशेष...................................... नहीं नियमित व्रत............. वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष............... श्री सेन महाराज जयंती दिन विशेष................. विश्व रेडक्रॉस दिवस सर्वा.सि.योग................................... नहीं सिद्ध रवियोग.................................. नहीं ____________________________________ _____________कल का दिन______________ दिनांक..............................09.05 2021 तिथि............ वैशाख कृष्णा त्रयोदशी रविवार व्रत विशेष..............मास शिवरात्रि एवं प्रदोष नियमित व्रत............ .वैशाख स्नान व्रत जारी पर्व विशेष..... प्रताप जयंती अंग्रेजी तारीख से दिन विशेष.....भद्रा. रात्रि. 7.30 से रात्रि पर्यंत सर्वा.सि.योग...................................नहीं सिद्ध रवियोग................................. नहीं ____________________________________ _____________आज विशेष _____________ देशभर में जो ज्योर्तिलिंग है वे सभी स्वंभू माने जाते हैं। शिवलिंग की पूजा-अर्चना करने से जीवन में सुखशांति और सौभाग्य प्राप्त होता हैं। 12 ज्योतिर्लिंग के पूजन या दर्शन से जितना पुण्यकाल प्राप्त होता है उतना किसी भी शिवलिंग के पूजन या दर्शन से नहीं होता है। आओ जानते हैं 12 ज्योतिर्लिंग के 12 रहस्य। 1. सोमनाथ ज्योर्तिलिंग : यहां के ज्योतिर्लिंग के सबसे प्रथम ज्योतिर्लिंग माना जाता है। इसे भगवान चंद्रदेव ने स्थापित किया था। गुजरात के सौराष्ट्र क्षे‍त्र में स्थित यह ज्योतिर्लिंग ऐतिहासिक महत्व रखता है। सौराष्ट्र देशे विशवेऽतिरम्ये, ज्योतिर्मय चंद्रकलावतंसम्। भक्तिप्रदानाय कृतावतारम् तं सोमनाथं शरणं प्रपद्ये।। 2. श्री मल्लिकार्जुन : यह ज्योतिर्लिंग आंध्रप्रदेश के कृष्णा जिले में श्रीशैल पर्वत पर स्थित है। इस पर्वत को दक्षिण का कैलास भी कहते हैं। यह स्थान कृष्णा नदी के तट पर है। श्री शैलश्रृंगे विविधप्रसंगे, शेषाद्रीश्रृंगेऽपि सदावसंततम्। तमर्जुनं मल्लिकार्जुनं पूर्वमेकम्, नमामि संसारसमुद्रसेतुम्।। 3. श्री महाकालेश्वर : मध्यप्रदेश के उज्जैन में क्षिप्रा नदी तट पर यह ज्योतिर्लिंग स्थित है। इसे महाकाल कहते हैं। अवंतिकाया विहितावतारम्, मुक्तिप्रदानाय च सज्जनानाम्। अकालमृत्यो: परिरक्षणार्थम्, वंदे महाकाल महासुरेशम्।। 4. श्री ओंकारेश्वर : यह ज्योतिर्लिंग मध्यप्रदेश में नर्मदा किनारे स्थित है। यहां पर विंध्य पर्वत ने शिवजी की आराधना की थी। इंदौर से यह स्थान लगभग 95 किलोमीटर दूर है। कावेरिकानर्मदयो: पवित्रसमागे सज्जनतारणाय। सदैव मांधातृपुरे वसंतम्, ओंकारमीशं शिवमेकमीडे। 5. श्री केदारनाथ : भगवान शिव यह यह स्थान उत्तराखंड के हिमालय में बद्रीनाथ धाम के पास लगभग 12 हजार फुट की ऊंचाई पर है। हरिद्वार से ऋषिकेश और ऋषिकेश से गौरीकुंड जाकर फिर पहाड़ी मार्ग से पैदल या टट्टू पर चढ़कर जाना होता है। इस ज्यो‍तिर्लिंग की कथा पांडवों से जुड़ी है। हिमाद्रीपार्श्वे च समुल्लसंतम् सम्पूज्यमानं सततं मुनीन्द्रै:। सुरासुरैर्यक्षमहोरगाद्यै:, केदारसंज्ञं शिवमीशमीडे। 6. श्री भीमाशंकर : महाराष्ट्र की सह्याद्री पर्वतमाला में भीमा नदी के तट पर यह ज्योतिर्लिंग स्‍थित है। नासिक से यह स्थान 180 किलोमीटर पड़ता है। यहां पर भगवान शिव ने भीमासुर राक्षस का वध किया था। पुणे के पास तलेगांव से भी यहां जा सकते हैं। यो डाकिनीशाकिनिकासमाजै: निषेव्यमाण: पिशिताशनेश्च। सदैव भीमेशपद्प्रसिद्धम्, तं शंकरं भक्तहिंत नमामि। 7. श्री विश्वनाथ : यह ज्योतिर्लिंग उत्तरप्रदेश के वाराणसी गंगा के तट पर स्थित है। इसे बनारस या काशी भी कहते हैं। कहते हैं कि वाराणसी की सीमा में जो व्यक्ति अपने प्राण त्यागता है, वह इस संसार के जंजाल से मुक्त हो जाता है, क्योंकि भगवान विश्वनाथ स्वयं उसे मरते समय तारक मंत्र सुनाते हैं। सानंदमानंदवने वसंतमानंदकंद हतपापवृंदम्। वाराणसीनाथमनाथनाथम्, श्री विश्वनाथं शरणं प्रपद्ये।। 8. श्री त्र्यंबकेश्वर : यह ज्योतिर्लिंग महाराष्ट्र के नासिक से 25 किमी दूर गोदावरी नदी के तट पर है। यह स्थान महर्षि गौतम और उनकी पत्नी गौतमी से जुड़ा है। सह्याद्रीशीर्षे विमले वसंतम्, गोदावरीतीरपवित्रदेशे। यद्यर्शनात् पातकपाशु नाशम्, प्रयाति त्र्यंबकमीशमीडे। 9. श्री वैद्यनाथ : यह ज्योतिर्लिंग झारखंड के देवघर में स्थित है। कहते हैं- रावण ने घोर तपस्या कर शिव से एक पिण्ड प्राप्त किया जिसे वह लंका में स्थापित करना चाहता था, परंतु शिव लीला से वह पिण्ड वैद्यनाथ में ही स्थापित हो गया। पूर्वोत्तरे पारलिका‍भिधाने, सदाशिवं तं गिरिजासमेतम्। सुरासुराराधितपादपद्मम्, श्री वैद्यनाथं सततं नमामि।। 10. श्री नागेश्वर : महाराष्ट्र के मराठवाड़ा क्षेत्र में हिंगोली नामक स्थान से 27 किमी दूर यह ज्योतिर्लिंग है। यहां दारूक वन में निवास करने वाले दारूक राक्षस का नाश सुप्रिय नामक वैश्य ने शिव द्वारा दिए पाशुपतास्त्र से किया था। याम्ये सदंगे नगरेऽतिरम्ये, विभूषिताडं विविधैश्च भोगै:। सद्भक्ति मुक्ति प्रदमीशमेकम्, श्री नागनाथं शरणं प्रपद्यै।। 11. श्री रामेश्वरम् : इस ज्योतिर्लिंग का संबंध भगवान राम से है। राम वानर सेना सहित लंका आक्रमण हेतु देश के दक्षिणी छोर पर आ पहुंचे। यहां पर श्रीराम ने बालू का पिण्ड बनाकर शिव की आराधना की और रावण पर विजय हेतु शिव से वरदान मांगा। रामेश्वरम् तमिलनाडु में स्‍थित है। यहां बस और रेल दोनों से जा सकते हैं। श्री ताम्रपर्णीजलराशियोगे, निबध्य सेतु निधी बिल्वपत्रै:। श्रीरामचंद्रेण समर्पितं तम्, रामेश्वराख्यं सततं नमामि।। 12. श्री घृष्णेश्वर : महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में दौलताबाद के पास विश्वप्रसिद्ध अजंता-एलोरा की गुफाएं हैं। यहीं पर ज्योतिर्लिंग स्‍थित है। कहते हैं- 'घृष्णेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने से वंशवृद्धि होकर मोक्ष की प्राप्ति होती है।' इलापुरे रम्यशिवालये स्मिन्, समुल्लसंतम त्रिजगद्वरेण्यम्। वंदेमहोदारतरस्वभावम्, सदाशिवं तं घृषणेश्वराख्यम्।। ---------------------------------------------------------- *संकलनकर्त्ता* श्री ज्योतिष सेवाश्रम सेवाश्रम संस्थान (राज) ___________________________________ ___________आज का राशिफल__________ मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो अ) अगर आपकी योजना आज बाहर घूमने-फिरने की है तो आपका वक़्त हँसी-ख़ुशी और सुकून भरा रहेगा। आपके घर से जुड़ा निवेश फ़ायदेमंद रहेगा। आपके जीवन-साथी की सेहत तनाव और चिंता का कारण बन सकती है। प्रेमी एक-दूसरे की पारिवारिक भावनाओं को समझेंगे। इस राशि वाले जातकों को आज खाली वक्त में आध्यात्मिक पुस्तकों का अध्ययन करना चाहिए। ऐसा करके आपकी कई परेशानियां दूर हो सकती हैं। जो यह समझते हैं कि शादी केवल एक समझौता है, वे ग़लत हैं। क्योंकि आज आपको सच्चे प्यार का एहसास होगा। यह दिन हो सकता है बहुत ही बढ़िया - दोस्तों या परिजनों के साथ बाहर जाकर फ़िल्म देखने की योजना भी बन सकती है। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज के दिन बहुत-कुछ आपके कंधों पर टिका हुआ है और फ़ैसले लेने के लिए स्पष्ट सोच ज़रूरी है। यदि शादीशुदा हैं तो आज अपने बच्चों का विशेष ख्याल रखें क्योंकि यदि आप ऐसा नहीं करते तो उनकी तबीयत बिगड़ सकती है और आपको उनके स्वास्थ्य पर काफी पैसा खर्च करना पड़ सकता है। कुछ समय आप अपने शौक़ और अपने परिवार वालों की मदद में भी ख़र्च कर सकते हैं। अपने प्रिय की बातों के प्रति आप ज़रूरत से ज़्यादा संवेदनशील रहेंगे- आपको अपने जज़्बात पर क़ाबू रखने की ज़रूरत है और ऐसा कुछ करने से बचें जो मामले को और भी बिगाड़ दे। आप जिस प्रतियोगिता में भी क़दम रखेंगे, आपका प्रतिस्पर्धी स्वभाव आपको जीत दिलाने में सहयोग देगा। जीवनसाथी की ओर से जानबूझ कर भावनात्मक चोट मिल सकती है, जिसके चलते आप उदास हो सकते हैं। पिता या बड़ा भाई आज आपकी किसी गलती पर आपको डांट सकता है। उनकी बातों को समझने की कोशिश करें। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आज आप निराशावादी रवैये से बचें क्योंकि न सिर्फ़ यह आपकी संभावनाओं को कम कर देगा, बल्कि शरीर के आंतरिक संतुलन को भी बिगाड़ देगा। अनचाहा कोई महमान आज आपके घर आ सकता है जिसके आने से आपको घर के उन समानों पर भी खर्चा करना पड़ सकता है जिनको आपने अगले महीने पर टाला हुआ था। विदेश में रह रहे किसी रिश्तेदार से मिला तोहफ़ा आपके लिए ख़ुशी लेकर आएगा। कोई पौधा लगाएँ। आप खुद को समय देना जानते हैं और आज तो आपको काफी खाली समय मिलने की संभावना है। खाली समय में आज आप कोई खेल-खेल सकते हैं या जिम जा सकते हैं। आपकी भागदौड़ भरी दिनचर्या के कारण आपका जीवनसाथी ख़ुद को दरकिनार महसूस कर सकता है, जिसका इज़हार शाम को होना मुमकिन है। बहुत ज्यादा बातें करके आज आपको सिर में दर्द हो सकता है। इसलिए जितनी आवश्यकता हो उतनी ही बातें करें। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आपके हँसी-मज़ाक़ का लहज़ा आज किसी दूसरे को आपकी तरह इस क्षमता को विकसित करने के लिए प्रेरित कर सकता है। आपसे उसे यह सबक़ मिलेगा कि ज़िंदगी की ख़ुशी बाहरी चीज़ों में नहीं, बल्कि ख़ुद के ही भीतर है। आज आप अपना धन धार्मिक कार्यों में लगा सकते हैं जिससे आपको मानसिक शांति मिलने की पूरी संभावना है। आपको बच्चों या ख़ुद से कम अनुभवी लोगों के साथ धैर्य से काम लेने की ज़रूरत है। आपकी मुस्कुराहट आपके प्रिय की नाराज़गी दूर करने के लिए सबसे अच्छी दवा है। आप चाहें तो परेशानियों को मुस्कुराकर दरकिनार कर सकते हैं या उनमें फँसकर परेशान हो सकते हैं। चुनाव आपको करना है। आपको महसूस होगा कि आपका वैवाहिक जीवन बहुत ख़ूबसूरत है। आपकी बातें आज आपके करीबियों को समझ नहीं आएंगी जिसकी वजह से आप परेशानी महसूस करेंगे। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज के दिन आप बिना झंझट विश्राम कर सकेंगे। अपनी मांसपेशियों को आराम देने के लिए तैल से मालिश करें। माली सुधार की वजह से ज़रूरी ख़रीदारी करना आसान रहेगा। घर के किसी सदस्य के व्यवहार की वजह से आप परेशान रह सकते हैं। आपको उनसे बात करने की जरुरत है। ज़िन्दगी की भाग-दौड़ में आप ख़ुद को ख़ुशनसीब पाएंगे, क्योंकि आपका हमदम वाक़ई सबसे बेहतरीन है। खाली समय में आप कोई खेल आज के दिन खेल सकते हैं लेकिन इस दौरान किसी तरह की दुर्घटना होने की भी संभावना है इसलिए संभलकर रहें। आज आपको ऐसा अनुभव होगा कि आपके जीवनसाथी के द्वारा आपको नीचा दिखाया जा रहा है। जहां तक सम्भव हो इसे नजरअंदाज करें। अगर बहुत ज़्यादा न हो, तो आज देर रात स्मार्टफ़ोन पर गप्पें मारने में भी कोई बुराई नहीं है। हालाँकि किसी भी चीज़ की अति नुक़सानदेह है। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आज आपका क्षणिक ग़ुस्सा विवाद और दुर्भावना की वजह बन सकता है। माता-पिता की मदद से आप आर्थिक तंगी से बाहर निकलने में क़ामयाब रहेंगे। घरेलू काम थका देने वाला होगा और इसलिए मानसिक तनाव की वजह भी बन सकता है। आपकी ऊर्जा का स्तर ऊँचा रहेगा- क्योंकि आपका प्रिय आपने लिए बहुत सारी ख़ुशी की वजह साबित होगा। आज धार्मिक कामों में आप अपना खाली समय बिताने का विचार बना सकते हैं। इस दौरान बेवजह की बहसों में आपको नहीं पड़ना चाहिए। आप अपने जीवनसाथी के प्यार की मदद से ज़िन्दगी की मुश्किलों का आसानी से सामना कर सकते हैं। आज आपका आत्मविश्वास कमजोर रह सकता है। इसका कारण आपकी खराब दिनचर्या है। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते) आज बहुत ज़्यादा चिंता और तनाव की आदत आपकी सेहत बर्बाद कर सकती है। मानसिक स्पष्टता बनाए रखने के लिए शंका और झुंझलाहट से निजात पाएँ। अगर आप लम्बे वक़्त के लिए निवेश करें, तो अच्छा-ख़ासा फ़ायदा हासिल कर सकते हैं। आप महसूस करेंगे कि आपके दोस्त सहयोगी स्वभाव के हैं- लेकिन बोलने में सावधानी बरतें। आप अचानक गुलाबों की ख़श्बू से ख़ुद को सराबोर पाएंगे। यह प्यार की मदहोशी है, इसे महसूस करें। परिवार की जरुरतों को पूरा करते-करते आप कई बार खुद को वक्त देना भूल जाते हैं। लेकिन आज आप सबसे दूर होकर अपने आप के लिए वक्त निकाल पाएंगे। आज का दिन आपके लिए बहुत अच्छा नहीं रहेगा क्योंकि कई मामलों में आपसी असहमति रह सकती है; और इससे आपके रिश्ते कमजोर होंगे। आपके मन में आज अपने किसी खास को लेकर निराशा रेहेगी। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आज सेहत से जुड़ी समस्याएँ आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हैं। आप जीवन में पैसे की अहमियत को नहीं समझते लेकिन आज आपको पैसे की अहमियत समझ में आ सकती है क्योंकि आज आपको पैसे की बहुत आवश्यकता होगी लेकिन आपके पास पर्याप्त धन नहीं होगा। कोई ऐसा रिश्तेदार जो बहुत दूर रहता है, आज आपसे संपर्क कर सकता है। ज़रा संभल कर, क्योंकि आपका प्रिय रूमानी तौर पर आपको मक्खन लगा सकता है - मैं तुम्हारे बग़ैर इस दुनिया में नहीं रह सकता/सकती। आप खाली समय में अपने पसंदीदा काम करना पसंद करते हैं, आज भी आप ऐसा ही कुछ करने का सोचेंगे लेकिन किसी शख्स के घर में आने की वजह से आपका यह प्लान चौपट हो सकता है। जीवनसाथी के साथ आज की शाम वाक़ई कुछ ख़ास होने वाली है। छात्र जिस विषय में कमजोर हैं उस विषय के बारे में आज अपने गुरु से बात कर सकते हैं। गुरु की सलाह आपको उस विषय की जटिलताओं को समझने में सहायक होगी। धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) अगर आपकी योजना आज बाहर घूमने-फिरने की है तो आपका वक़्त हँसी-ख़ुशी और सुकून भरा रहेगा। बिना किसी की मदद के भी आप धन कमा पाने में सक्षम हो सकते हैं बस आपको खुद पर विश्वास करने की जरुरत है। आज का दिन ख़ुशियों से भरा रहेगा, क्योंकि आपका जीवन-साथी आपको ख़ुशी देने का हर प्रयास करेगा। आज आपको अपने प्रिय का एक अलग ही अन्दाज़ देखने को मिल सकता है। इस राशि के लोगोंं को आज शराब सिगरेट से दूर रहने की जरुरत है क्योंकि इससे आपका कीमती समय बर्बाद हो सकता है। अगर थोड़ी-सी कोशिश की जाए तो जीवनसाथी के साथ आज का दिन आपकी ज़िन्दगी के सबसे रोमानी दिनों में से एक हो सकता है। शादीशुदा हैं तो आज आपके बच्चे की कोई शिकायत घर पर आ सकती है जिससे आप परेशान हो जाएंगे। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज अपना तनाव दूर करने के लिए परिवार वालों की मदद लें। उनकी सहायता को खुले दिल से स्वीकारें। अपनी भावनाओं को दबाएँ और छुपाएँ नहीं। अपने जज़्बात दूसरों के साथ साझा करने से फ़ायदा मिलेगा। इस राशि के विवाहित जातकों को आज ससुराल पक्ष से धन लाभ होने की संभावना है। दोस्तों को अपने उदार स्वभाव का ग़लत फ़ायदा न उठाने दें। आपके महसूस करेंगे कि फ़िज़ाओं में प्यार घुला हुआ है। नज़रें उठाकर तो देखिए, आपको सब-कुछ प्रेम के रंग में रंगा दिखाई देगा। आज खाली वक्त्त किसी बेकार के काम में खराब हो सकता है। वैवाहिक जीवन के कई फ़ायदे भी होते हैं और आप उन्हें आज हासिल कर सकते हैं। स्वास्थ्य को नज़रअंदाज़ करने से तनाव बढ़ना संभव है, इसलिए डॉक्टरी सलाह आपके लिए कारगर सिद्ध हो सकती है। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज आपके पास अपनी सेहत और लुक्स से जुड़ी चीज़ों को सुधारने के लिए पर्याप्त समय होगा। आज का दिन ऐसी चीज़ों को ख़रीदने के लिए बढ़िया है, जिनकी क़ीमत आगे चलकर बढ़ सकती है। जीवनसाथी और बच्चों से अतिरिक्त स्नेह और सहयोग मिलेगा। आपका प्रिय आपको ख़ुश रखने के लिए कुछ ख़ास करेगा। ज़रूरतमंदों की मदद करने की आपकी ख़ासियत आपको सम्मान दिलाएगी। आप शादीशुदा ज़िन्दगी से जुड़े चुटकुले सोशल मीडिआ पर पढ़कर खिलखिलाते हैं। लेकिन आज जब आपके वैवाहिक जीवन से जुड़ी कई प्यारी चीज़ें आपके सामने आएंगी, तो आप भावुक हुए बिना नहीं रह सकेंगे। लोगोंं के बीच रहकर सबका सम्मान करना आपको आता है इसलिए आप भी सबकी नजरों में अच्छी छवि बना पाते हैं। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज आप स्वयं को शांत बनाए रखें क्योंकि आज आपको ऐसी कई बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है, जिनके चलते आप काफ़ी मुश्किल में पड़ सकते हैं। ख़ास तौर पर अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें, क्योंकि यह और कुछ नहीं बल्कि थोड़ी देर पागलपन है। आज अगर आप दूसरों की बात मानकर निवेश करेंगे, तो आर्थिक नुक़सान तक़रीबन पक्का है। जब आप अकेलापन महसूस करें तो अपने परिवार की मदद लीजिए। यह आपको अवसाद से बचाएगा। साथ ही यह समझदारी भरा फ़ैसला लेने में आपकी मदद करेगा। आप इस दिन को अपनी ज़िन्दगी में कभी नहीं भूलेंगे, अगर आप प्यार में डूबने के मौक़े को आज यूँ ही न गवाएँ तो। जब आपको लगता है कि आपके पास घर वालों या अपने दोस्तों के लिए टाइम नहीं है तो आपका मन खराब हो जाता है। आज भी आपकी मन स्थिति ऐसी ही रह सकती है। कई लोग साथ तो रहते हैं, लेकिन उनके जीवन में रोमांस नहीं होता। लेकिन यह दिन आपके लिए बेहद रोमानी होने वाला है। अपने सामर्थ्य से ज्यादा काम करना आपके लिए नुकसानदायक साबित होगा। __________________________________ 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ - संकलनकर्त्ता- ज्योतिर्विद् पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवा संस्थान भीलवाड़ा (राज.) 🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️ __________________________________

+23 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 59 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB