Om sai ram 🙏🌹🌸🌴🌲🍁🍀 Sai Nath Mandir Lodi Road ke evening aarti ke sunder darshan 🌻🌾🌺🌷🌳🌹 Shardha 🌲 aur 🍁 Saburi 🌷🌸🌴🌹 Sabka Malik ek hai 🌹🌸🌴🙏🌷🌸🌴 🍁🌲🌲🙏🌿🍂💮🙏🌴🌸💐🌾🌻💮🌲🏵🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲

Om sai ram 🙏🌹🌸🌴🌲🍁🍀
Sai Nath Mandir Lodi Road ke evening aarti ke sunder darshan 🌻🌾🌺🌷🌳🌹
Shardha 🌲 aur 🍁 Saburi 🌷🌸🌴🌹
Sabka Malik ek hai 🌹🌸🌴🙏🌷🌸🌴
🍁🌲🌲🙏🌿🍂💮🙏🌴🌸💐🌾🌻💮🌲🏵🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲
Om sai ram 🙏🌹🌸🌴🌲🍁🍀
Sai Nath Mandir Lodi Road ke evening aarti ke sunder darshan 🌻🌾🌺🌷🌳🌹
Shardha 🌲 aur 🍁 Saburi 🌷🌸🌴🌹
Sabka Malik ek hai 🌹🌸🌴🙏🌷🌸🌴
🍁🌲🌲🙏🌿🍂💮🙏🌴🌸💐🌾🌻💮🌲🏵🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲
Om sai ram 🙏🌹🌸🌴🌲🍁🍀
Sai Nath Mandir Lodi Road ke evening aarti ke sunder darshan 🌻🌾🌺🌷🌳🌹
Shardha 🌲 aur 🍁 Saburi 🌷🌸🌴🌹
Sabka Malik ek hai 🌹🌸🌴🙏🌷🌸🌴
🍁🌲🌲🙏🌿🍂💮🙏🌴🌸💐🌾🌻💮🌲🏵🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲
Om sai ram 🙏🌹🌸🌴🌲🍁🍀
Sai Nath Mandir Lodi Road ke evening aarti ke sunder darshan 🌻🌾🌺🌷🌳🌹
Shardha 🌲 aur 🍁 Saburi 🌷🌸🌴🌹
Sabka Malik ek hai 🌹🌸🌴🙏🌷🌸🌴
🍁🌲🌲🙏🌿🍂💮🙏🌴🌸💐🌾🌻💮🌲🏵🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲

+175 प्रतिक्रिया 27 कॉमेंट्स • 6 शेयर

कामेंट्स

Sharad tamboli Mar 24, 2019
nice jai Shree radhey radhey 🙏🌹🙏 good night sweet dreams 🌹🌹🌹

Babita Sharma Mar 24, 2019
Good Night Sister Om Sai Ram 🌹 🌹 Be Blessed Ishwer Aapko Sada Sukhi Rakhein

Sharad tamboli Mar 24, 2019
jai Shree radhey radhey 🙏🌹🙏 good night ji 🌹🌹🌹🌹

brijmohan kaseara Mar 24, 2019
जय श्री साई राम जी सादर नमस्कार जी जय धन्यवाद दी

sumitra Mar 25, 2019
Om Sai Ram Sister Sai Baba aapki HR mnokamna Puri kre Sister Aapka din shubh v mnglmay ho sister

🌷🌷🌷mukseh nagar🌷🌷🌷 Mar 25, 2019
*हे_कन्हैया* तुम खास ही नहीं, हर सांस में हो... रूबरू नहीं, पर हर एहसास में हो ... मिलोगे पता नहीं ,...मगर हर तलाश में हो... तलाश पूरी हो ना हो, मगर हर आस में हो... *🙏🌹जय श्री कृष्ण 🌹🙏*

r h Bhatt Mar 25, 2019
Om Sai Ram Sai Ram har har mahadav om namah shivaya Shubh Prabhat ji

Manoj manu Mar 25, 2019
ऊँ साँई राम जी शुभ दिन सादर सप्रेम चरण वंदन जी दीदी साँई नाथ जी की अपार कृपा के साथ आप सभी का हर पल शुभ एवं मंगलमकारी हो दीदी 🌺🙏

Manoj manu Mar 25, 2019
🙏🌺ऊँ साँई राम जी जय साँई राम जी, दी मुझे भी दो बार बाबा के दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हुआ है, असीम शाँति के पल थे वो 🌺🙏

Munesh Tyagi Mar 25, 2019
ॐ नमः शिवाय शुभ प्रभात बहना ॐ सांई राम जी

Indian women(Dheeraj kanwar) Mar 25, 2019
ओम् साईं राम बहना जी भोल नाथ की कृपा आप और आपके परिवारपर सदैव बनी रहे आप का दिन शुभ एवं मंगलमय हो 🌺🌺🙏🙏

Anjana Gupta Mar 25, 2019
om sai ram dear sister ji baba blessed you and your family always be happy and keep smiling have a nice day happy Monday ji very nice post meri pyari behna Shubh parbhat Vandan ji 🌹🙏👌👌👌☕☕

brijmohan kaseara Mar 25, 2019
om jay shree mahakal ji good morning ji sister ji thanks ji Happy Rang panchmi. ji didi ji

Rajendra Prajapati Mar 25, 2019
Om Sai Ram Shirdi Wale Sai Baba ki kripa drashti sadaiv aap par bani rahe Bahen ji Shubh Prabhat

Mohini Bishnoi Apr 22, 2019

+7 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Mohini Bishnoi Apr 22, 2019

+13 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 0 शेयर
राकेश Apr 22, 2019

+14 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Vijay kumar Apr 22, 2019

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
saidas Apr 22, 2019

🌷 OM ❤ SAI ❤ RAM 🌷 दामू अण्णा के सौदे 💜💙💜💙💜💙💜 1. रुई का सौदा ❤❤❤❤❤ दामू अण्णा को बम्बई से उनके एक मित्र ने लिखा कि वह उनके साथ साझेदारी में रुई का सौदा करना चाहते है, जिसमें लगभग दो लाख रुपयों का लाभ होने की आशा है । सन् 1936 में नरसिंह स्वामी को दिये गये एक वक्तव्य में दामू अण्णा ने बतलाया कि रुई के सौदे का यह प्रस्तताव बम्बई के एक दलाल ने उनसे किया था, जो कि साझेदारी से हाथ खींचकर मुझ पर ही सारा भार छोड़ने वाला था । (भक्तों के अनुभव भाग 11, पृष्ठ 75 के अनुसार) । दलाल ने लिखा था कि धंधा अति उत्तम है और हानि की कोई आशंका नहीं । ऐसे स्वर्णम अवसर को हाथ से न खोना चाहिए । दामू अण्णा के मन में नाना प्रकार के संकल्प-विकल्प उठ रहे थे, परन्तु स्वयं कोई निर्णय करने का साहस वे न कर सके । उन्होंने इस विषय में कुछ विचार तो अवश्य कर लिया, परन्तु बाबा के भक्त होने के कारण पूर्ण विवरण सहित एक पत्र शामा को लिख भेजा, जिसमें बाबा से परामर्श प्राप्त करने की प्रार्थना की । यह पत्र शामा को दूसरे ही दिन मिल गया, जिसे दोपहर के समय मसजिद में जाकर उन्होंने बाबा के समक्ष रख दिया । शामा से बाबा ने पत्र के सम्बन्ध में पूछताछ की । उत्तर में शामा ने कहा कि अहमदनगर के दामू अण्णा कासार आप से कुछ आज्ञा प्राप्त करने की प्रार्थना कर रहे है । बाबा ने पूछा कि वह इस पत्र में क्या लिख रहा है और उसने क्या योजना बनाई है । मुझे तो ऐसा प्रतीत होता है कि वह आकाश को छूना चाहता है । उसे जो कुछ भी भगवत्कृपा से प्राप्त है, वह उससे सन्तुष्ट नहीं है । अच्छा, पत्र पढ़कर तो सुनाओ । शामा ने कहा, जो कुछ आपने अभी कहा, वही तो पत्र में भी लिखा हुआ है । हे देवा । आप यहाँ शान्त और स्थिर बैठे रहकर भी भक्तों को उद्घिग्न कर देते है और जब वे अशान्त हो जाते है तो आप उन्हें आकर्षित कर, किसी को प्रत्यक्ष तो किसी को पत्रों द्घारा यहाँ खींच लेते है । जब आपको पत्र का आशय विदित ही है तो फिर मुझे पत्र पढ़ने का क्यों विवश कर रहे है । बाबा कहने लगे कि शामा । तुम तो पत्र पढ़ो । मै तो ऐसे ही अनापशनाप बकता हूँ । मुझ पर कौन विश्वास करता है । तब शामा ने पत्र पढ़ा और बाबा उसे ध्यानपूर्वक सुनकर चिंतित हो कहने लगे कि मुझे ऐसा प्रतीत होता है कि सेठ (दामू अण्णा) पागल हो गया है । उसे लिख दो कि उसके घर किसी वस्तु का अभाव नहीं है । इसलिये उसे आधी रोटी में ही सन्तोष कर लाखों के चक्कर से दूर ही रहना चाहिये । शामा ने उत्तर लिखकर भेज दिया, जिसकी प्रतीक्षा उत्सुकतापूर्वक दामू अण्णा कर रहे थे । पत्र पढ़ते ही लाखों रुपयों के लाभ होने की उनकी आशा पर पानी फिर गया । उन्हें उस समय ऐसा विचार आया कि बाबा से परामर्श कर उन्होंने भूल की है । परन्तु शामा ने पत्र में संकेत कर दिया था कि देखने और सुनने में फर्क होता है । इसलिये श्रेयस्कर तो यही होगा कि स्वयं शिरडी आकर बाबा की आज्ञा प्राप्त करो । बाबा से स्वयं अनुमति लेना उचित समझकर वे शिरडी आये । बाबा के दर्शन कर उन्होंने चरण सेवा की । परन्तु बाबा के सम्मुख सौदे वाली बात करने का साहस वे न कर सके । उन्होंने संकल्प किया कि यदि उन्होंने कृपा कर दी तो इस सौदे में से कुछ लाभाँश उन्हें भी अर्पण कर दूँगा । यघपि यह विचार दामू अण्णा बड़ी गुप्त रीति से अपने मन में कर रहे थे तो भी त्रिकालदर्शी बाबा से क्या छिपा रह सकता था । बालक तो मिष्ठान मांगता है, परन्तु उसकी माँ उसे कड़वी ही औषधि देती है, क्योंकि मिठाई स्वास्थ्य के लिये हानिकारक होती है और इस कारण वह बालक के कल्याणार्थ उसे समझा-बुझाकर कड़वी औषधि पिला दिया करती है । बाबा एक दयालु माँ के समान थे । वे अपने भक्तों का वर्तमान और भविष्य जानते थे । इसलिये उन्होंने दामू अण्णा के मन की बात जानकर कहा कि बापू । मैं अपने को इन सांसारिक झंझटों में फँसाना नहीं चाहता । बाबा की अस्वीकृति जानकर दामू अण्णा ने यह विचार त्याग दिया । ( From -- Sri Sai Satcharitra ) 🌷 SRI SATCHIDANANDA SADGURU SAINATH MAHARAJ KI JAI 🌷

+7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Vicky Babbar Apr 22, 2019

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
cp singh salt Apr 22, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Lakhi Jhunjhunwala Apr 22, 2019

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB