Barun Sharma
Barun Sharma Jun 22, 2017

Barun Sharma ने यह पोस्ट की।

Barun Sharma ने यह पोस्ट की।

#मंत्र

+156 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 75 शेयर

कामेंट्स

Shivanand Singh Jul 3, 2017
Srihari Anshavtaar Shivswarup Parm Pujy Gurudev Bhagwan Nmo Nmh

Acharya Rajesh May 26, 2019

*क्लेश निवारण मंत्र* यदि घर मे सदा क्लेश रहते हो, पलभर मे घर का माहौल खराब होकर लडाई-झगडे-क्लेश होने लगाता हो अथवा घर के सभी सदस्य एक दूसरे के विरोधी हो गये, सब तरफ आपाधापी मची हो । विशेषतः पति-पत्नी के बीच मे परस्पर क्लेश रहने लगा हो और नौबत अलग होने तक आ पहुंची हो तो निम्नलिखित मंत्र का प्रतिदिन शुद्धि पूर्वक जाप करने से अवश्य ही घर मे से बुरी शक्तियाँ का अंत होगा और परस्पर शांति तथा प्रेम बढेगा । विछोह की संभावनाएं समाप्त होगी । *महामंत्र :-* *कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने ।* *प्रणतः क्लेशनाशाय गोविन्दाय नमो नमः ॥* *मंत्र जप के नियम:-* प्रतिदिन स्नानादि से निवृत्त होकर कुशा के आसन पर बैठकर पूर्व दिशा की ओर मुख किये हुए, शुद्ध चंदन की माला से भगवान कृष्ण जी के चित्र के कम से कम तीन माला अथवा सामर्थ्य के अनुसार पांच, सात या और अधिक संख्या मे जाप अवश्य करना चाहिए । भगवान को मक्खन-मिश्री या इलायची -मिश्री का भोग लगाये । जाप के बाद धरती पर जल छोड़कर तीन बार अनामिका अंगुली से मस्तक पर तिलक करके ही आसन से उठे । *(समाप्त)* ________________________ *आगामी लेख:-* *1.शीघ्र ही "स्वप्न फल तथा निदान" विषय पर लेख* *2.शीघ्र ही "वास्तु सम्मत पेड-पौधे तथा निर्धारित दिशाएं" पर लेख* *3. शीघ्र ही "भद्रा" विषय पर विस्तृत लेख* _________________________ *जय श्री राम* *आज का पंचांग 🌹🌹🌹* *सोमवार,27.05.2019* *श्री संवत 2076* *शक संवत् 1941* *सूर्य अयन- उतरायण, गोल- उत्तर गोल* *ऋतुः- ग्रीष्म ऋतुः ।* *मास- ज्येष्ठ मास।* *पक्ष- कृष्ण पक्ष ।* *तिथि- अष्टमी तिथि 11:16 am तक* *चंद्रराशि- चंद्र कुंभ राशि मे ।* *नक्षत्र- शतभिषा नक्षत्र 4:13 pm तक ।* *योग- वैधृति योग 12:56 am तक।(अशुभ है)* *करण- कौलव करण 11:16am तक* *सूर्योदय 5:29 am, सूर्यास्त 7:08 pm* *राहुकाल - 7:30 am से 9 am तक, (शुभ कार्य वर्जित )* *पंचक:- पंचक प्रारंभ 25 मई 11:43 pm से लेकर 30 मई 11:03 pm तक ।*पंचक नक्षत्रों  मे निम्नलिखित काम नही करने चाहिए, 1.छत बनाना या स्तंभ बनाना( lantern  or Pillar ) 2.लकडी  या  तिनके तोड़ना , 3.चूल्हा लेना या बनाना, 4. दाह संस्कार करना (cremation) 5.पंलग चारपाई, खाट , चटाई  बुनना  या बनाना 6.बैठक का सोफा या गद्दियाँ बनाना । 7 लकड़ी ,तांबा ,पीतल को जमा करना ।(इन कामो के सिवा अन्य सभी शुभ  काम पंचको  मे  किए  जा  सकते  है ।) ______________________ *विशेष:- जो व्यक्ति दिल्ली से बाहर अथवा देश से बाहर रहते हो, वह ज्योतिषीय परामर्श हेतु paytm या Bank transfer द्वारा परामर्श फीस अदा करके, फोन द्वारा ज्योतिषीय परामर्श प्राप्त कर सकतें है* *अगले कुछ दिनो के व्रत, त्यौहार तथा पर्व:- 30 मई अपरा एकादशी । 31 मई प्रदोष व्रत (कृष्ण) ।1 जून मासिक शिवरात्रि व्रत । 3 जून सोमवती अमावस्या, वट सावित्री व्रत, शनि जयंती । 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस, ईदुल फितर मीठी ईद । 12 जून गंगा दशहरा, वटुक भैरव जय०। 13 जून निर्जला एकादशी व्रत 14 जून प्रदोष व्रत (शुक्ल) । 15 जून मिथुन संक्रांति । 17 जून ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत, संत कबीर जयंती, वट सावित्री पूजा । 20 जून संकष्टी चतुर्थी, श्री गणेश चतुर्थी व्रत । 29 जून योगिनी एकादशी व्रत । 30 जून प्रदोष व्रत (कृष्ण) । आपका दिन मंगलमय हो . 💐💐💐 *आचार्य राजेश ( रोहिणी, दिल्ली )* *9810449333, 7982803848*

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 17 शेयर
Acharya Rajesh May 26, 2019

*क्लेश निवारण मंत्र* यदि घर मे सदा क्लेश रहते हो, पलभर मे घर का माहौल खराब होकर लडाई-झगडे-क्लेश होने लगाता हो अथवा घर के सभी सदस्य एक दूसरे के विरोधी हो गये, सब तरफ आपाधापी मची हो । विशेषतः पति-पत्नी के बीच मे परस्पर क्लेश रहने लगा हो और नौबत अलग होने तक आ पहुंची हो तो निम्नलिखित मंत्र का प्रतिदिन शुद्धि पूर्वक जाप करने से अवश्य ही घर मे से बुरी शक्तियाँ का अंत होगा और परस्पर शांति तथा प्रेम बढेगा । विछोह की संभावनाएं समाप्त होगी । *महामंत्र :-* *कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने ।* *प्रणतः क्लेशनाशाय गोविन्दाय नमो नमः ॥* *मंत्र जप के नियम:-* प्रतिदिन स्नानादि से निवृत्त होकर कुशा के आसन पर बैठकर पूर्व दिशा की ओर मुख किये हुए, शुद्ध चंदन की माला से भगवान कृष्ण जी के चित्र के कम से कम तीन माला अथवा सामर्थ्य के अनुसार पांच, सात या और अधिक संख्या मे जाप अवश्य करना चाहिए । भगवान को मक्खन-मिश्री या इलायची -मिश्री का भोग लगाये । जाप के बाद धरती पर जल छोड़कर तीन बार अनामिका अंगुली से मस्तक पर तिलक करके ही आसन से उठे । *(समाप्त)* ________________________ *आगामी लेख:-* *1.शीघ्र ही "स्वप्न फल तथा निदान" विषय पर लेख* *2.शीघ्र ही "वास्तु सम्मत पेड-पौधे तथा निर्धारित दिशाएं" पर लेख* *3. शीघ्र ही "भद्रा" विषय पर विस्तृत लेख* _________________________ *जय श्री राम* *आज का पंचांग 🌹🌹🌹* *सोमवार,27.05.2019* *श्री संवत 2076* *शक संवत् 1941* *सूर्य अयन- उतरायण, गोल- उत्तर गोल* *ऋतुः- ग्रीष्म ऋतुः ।* *मास- ज्येष्ठ मास।* *पक्ष- कृष्ण पक्ष ।* *तिथि- अष्टमी तिथि 11:16 am तक* *चंद्रराशि- चंद्र कुंभ राशि मे ।* *नक्षत्र- शतभिषा नक्षत्र 4:13 pm तक ।* *योग- वैधृति योग 12:56 am तक।(अशुभ है)* *करण- कौलव करण 11:16am तक* *सूर्योदय 5:29 am, सूर्यास्त 7:08 pm* *राहुकाल - 7:30 am से 9 am तक, (शुभ कार्य वर्जित )* *पंचक:- पंचक प्रारंभ 25 मई 11:43 pm से लेकर 30 मई 11:03 pm तक ।*पंचक नक्षत्रों  मे निम्नलिखित काम नही करने चाहिए, 1.छत बनाना या स्तंभ बनाना( lantern  or Pillar ) 2.लकडी  या  तिनके तोड़ना , 3.चूल्हा लेना या बनाना, 4. दाह संस्कार करना (cremation) 5.पंलग चारपाई, खाट , चटाई  बुनना  या बनाना 6.बैठक का सोफा या गद्दियाँ बनाना । 7 लकड़ी ,तांबा ,पीतल को जमा करना ।(इन कामो के सिवा अन्य सभी शुभ  काम पंचको  मे  किए  जा  सकते  है ।) ______________________ *विशेष:- जो व्यक्ति दिल्ली से बाहर अथवा देश से बाहर रहते हो, वह ज्योतिषीय परामर्श हेतु paytm या Bank transfer द्वारा परामर्श फीस अदा करके, फोन द्वारा ज्योतिषीय परामर्श प्राप्त कर सकतें है* *अगले कुछ दिनो के व्रत, त्यौहार तथा पर्व:- 30 मई अपरा एकादशी । 31 मई प्रदोष व्रत (कृष्ण) ।1 जून मासिक शिवरात्रि व्रत । 3 जून सोमवती अमावस्या, वट सावित्री व्रत, शनि जयंती । 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस, ईदुल फितर मीठी ईद । 12 जून गंगा दशहरा, वटुक भैरव जय०। 13 जून निर्जला एकादशी व्रत 14 जून प्रदोष व्रत (शुक्ल) । 15 जून मिथुन संक्रांति । 17 जून ज्येष्ठ पूर्णिमा व्रत, संत कबीर जयंती, वट सावित्री पूजा । 20 जून संकष्टी चतुर्थी, श्री गणेश चतुर्थी व्रत । 29 जून योगिनी एकादशी व्रत । 30 जून प्रदोष व्रत (कृष्ण) । आपका दिन मंगलमय हो . 💐💐💐 *आचार्य राजेश ( रोहिणी, दिल्ली )* *9810449333, 7982803848*

0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Vidur Tiwari May 26, 2019

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB