जय माॅ भवानी की जय हो श्री विरतेजाजी महराज कि जय हो जय बाबा रामदेव की जय हो

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
anju joshi Aug 4, 2020

+226 प्रतिक्रिया 27 कॉमेंट्स • 141 शेयर
🌹kriti 🌹 Aug 4, 2020

+125 प्रतिक्रिया 22 कॉमेंट्स • 91 शेयर
Devendra Tiwari Aug 4, 2020

+19 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Rameshanand Guruji Aug 4, 2020

+7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Manoj manu Aug 4, 2020

🚩🙏🌺जय सियाराम जी राधे राधे जी 🌺🌿🙏 प्रभु श्री राम जी के विराट और अप्रतिम व्यक्तित्व को प्रकट करते हुये सुंदर कविता पाठ ,कृपया पूरा अवश्य सुनें :-- 🌹जड़ चेतन जग जीव जत सकल राममय जानि। 🌿बंदउँ सब के पद कमल सदा जोरि जुग पानी , अपने हर रूप में ईश्वर ने मानवजाति को यही संदेश दिया ' "सर्वभूतहितेरता:" सभी प्राणियों के हित के लिए कार्य करो -यही सर्वोत्तम पूजा है। राम ने पुत्र रूप में ,पति रूप में , भाई रूप में,राजा के रूप में केवल दूसरों की ही इच्छा पूर्ण की। अपने स्वार्थ को देखा ही नहीं। रामायण में तो भरत , लक्ष्मण,सीता ,उर्मिला -सभी ने औरों के हित को सर्वोपरि माना। गीता में श्री कृष्ण ने अर्जुन से कहा कि परमात्मा को पाना है तो सबमें मुझे ही देख। अर्जुन से श्री कृष्ण ने कहा कि युद्ध ही पूजा है , तू युद्ध ही कर। अर्जुन को उस समय मंदिर जाकर पूजा करने के लिए नहीं कहा ठाकुर ने। पूजा यानी बिना कर्म के फल की इच्छा के कर्तव्य करना , पूजा यानी बिना कोई भेद-भाव किए सबको समभाव से देखना , पूजा यानी किसी व्यक्ति या कार्य को हेय न समझना। बाबा तुलसी दास जी लिखते हैं :- 🌹🌿सिय राम मय सब जग जानी, 🌹🌿 🌿🌹करहु प्रणाम जोरी जुग पानी ।।🌿🌹 🌹🌹🌿प्रभु श्री राम जी सभी का सदा कल्याण करें सदा मंगल प्रदान करें जी जय श्री राम जी 🌿🌹🙏

+72 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 4 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB